Skip to main content

दो दलित बहन भाई को राक्षस बताकर शौच करते समय पीट-पीटकर मार डाला गया





 


मध्यप्रदेश।वक्त बदला -जमाना बदला  और बदल गए  लोगों के अरमान,  मगर नहीं बदले दबंगों के फरमान ।आज भी  दलित समुदाय के लोगों पर जुल्म और अत्याचार का सिलसिला बंद नहीं हुआ है ।  पिछले  कितनी सदियों से यह जुल्म और अत्याचार का सिलसिला चल रहा है। आज भी गांव में एक कहावत है। जिसकी लाठी उसकी भैंस। और यह कहावत ऐसे ही नहीं है । लोकतंत्र,  शासन - सत्ता में भागीदारी  और बहुत सारे धनाढ्य लोग  दलित समुदाय  के है, आई ए एस , आई आर एस, पुलिस आदि मे  कर्मचारी हैं लेकिन दलितों पर अत्याचार रुकने का नाम नहीं ले रहा है। आखिर क्या वजह है यह सोचने का मकाम है।  क्योंकि एक सोच जो इस उत्पीड़न के पीछे काम कर रही है वह सोच जब तक खत्म नहीं होगी उत्पीड़न खत्म नहीं होगा। अभी पिछले दिनों आपने दिल्ली में देखा कि दलितों के मंदिर को किस तरह से तोड़ दिया गया।मध्य प्रदेश  के शिवपुरी में खुले में शौच करने पर दो मासूम दलित बच्चों की हत्या करने का सनसनीखेज मामला सामने आया है। जिले से सिरसौद इलाके में भावखेड़ी गांव में पंचायत भवन के सामने खुले में शौच करने पर दलित सगे भाई-बहन को लाठियों से पीट-पीटकर मार डाला गया। मारे गए दोनों मासूमों का कसूर सिर्फ इतना था कि वे खुले में शौच कर रहे थे। पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। शिवपुरी एसपी राजेश सिंह चंदेल के मुताबिक हत्या के इस मामले में अभी तक कोई ठोस वजह सामने नहीं है और पुलिस ने हत्या के आरोप में दोनों आरोपियों रामेश्वर और हाकिम यादव को गिरफ्तार कर उनसे पूछताछ की है। दो मासूम दलितों को सरेआम लाठियों से पीट-पीटकर मार डालने वाले आरोपियों ने पुलिस पूछताछ में चौंकाने वाला खुलासा किया है। पुलिस पूछताछ में एक आरोपी हाकिम सिंह ने कहा कि उसको भगवान ने आदेश दिया है कि धरती से राक्षसों का सर्वनाश कर दो, इसलिए मैं राक्षसों का सर्वनाश करने निकला हूं। दो मासूमों की जघन्य हत्या की असली वजह तलाशने के लिए पुलिस आरोपियों से पूछताछ कर रही है। पुलिस की शुरुआती जांच में आपसी रंजिश के चलते इस दोहरे हत्याकांड को अंजाम देने की बात सामने आ रही है।मृतक मासूम के पिता का आरोप है कि आरोपी उसको पिछले लंबे समय से जातिसूचक शब्दों से अपमान करते थे और धमकी देते थे। इसके साथ ही आरोपियों ने उन्हें गांव से चले जाने के लिए कई बार धमकी दी थी। पीड़ित का आरोप है कि दलित होने के चलते उससे गांव में भेदभाव किया जाता था। सरकार की योजना के तहत पंचायत ने पूरे गांव में शौचालय बनवा दिया लेकिन उनके घर स्वीकृत के बाद भी शौचालय नहीं बनवाया गया। इसके साथ ही उसे गांव के हैंडपंप से पानी भी नहीं भरने दिया जाता था। वहीं इस पूरे मामले को मुख्यमंत्री कमलनाथ ने हृदयविदारक बताते हुए आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं।




 

 







 









 



Popular posts from this blog

थाना अमरिया पुलिस द्वारा 04 अभियुक्तों को 68 किलोग्राम डोडा पोस्ता व डोडा चूरा सहित किया गिरफ्तार

 पीलीभीत के थाना अमरिया में आज दिनांक 05.09.2022 को थाना अमरिया जनपद पीलीभीत पुलिस द्वारा पुलिस अधीक्षक दिनेश कुमार प्रभु जनपद पीलीभीत के निर्देशन में व  अपर पुलिस अधीक्षक महोदय जनपद पीलीभीत व क्षेत्राधिकारी सदर महोदय जनपद पीलीभीत के कुशल नेतृत्व में अपराधियों के विरुद्ध जनपद में मादक पदार्थ व जहरीली शराब की तस्करी व रोकथाम हेतु चलाये जा रहे अभियान के तहत  थाना अमरिया पुलिस द्वारा 02 अभियुक्तगणों 1.महेश कुमार गुप्ता पुत्र ओमप्रकाश निवासी कस्बा व थाना अमरिया जनपद पीलीभीत व  2.रवि गुप्ता पुत्र महेश गुप्ता निवासी कस्बा व थाना अमरिया जनपद पीलीभीत को उनके घर के पास से गिरफ्तार किया गया तथा इनके कब्जे से मादक पदार्थ 31 किलोग्राम ( डोडा पोस्ता व डोडा चूरा ) बरामद हुआ गिरफ्तार किए गये अभियुक्तगणों से गहनता से पूछताछ के दौरान उन्होनों बरामद मादक पदार्थों को  अभियुक्त प्रमोद गुप्ता पुत्र मटरु लाल निवासी ग्राम देवचरा थाना भमौरा जनपद बरेली व अभियुक्त विनोद कुमार गुप्ता पुत्र मटरु लाल निवासी ग्राम देवचरा थाना भमौरा जनपद बरेली से खरीद कर लाना बताया इस पूछताछ के दौरान प्रकाश में आये अभियुक्त प्रमोद

*बहुजन मुक्ति पार्टी की राष्ट्रीय स्तर जनरल बॉडी बैठक मे बड़े स्तर पर फेरबदल प्रवेंद्र प्रताप राष्ट्रीय महासचिव आदि को 6 साल के लिए निष्कासित*

*(31 प्रदेश स्तरीय कमेटी भंग नये सिरे से 3 महिने मे होगा गठन)* नई दिल्ली:-बहुजन मुक्ति पार्टी राष्ट्रीय जनरल बॉडी की मीटिंग गड़वाल भवन पंचकुइया रोड़ नई दिल्ली में संपन्न हुई।  बहुजन मुक्ति पार्टी मीटिंग की अध्यक्षता  मा०वी०एल० मातंग साहब राष्ट्रीय अध्यक्ष बहुजन मुक्ति  पार्टी ने की और संचालन राष्ट्रीय महासचिव माननीय बालासाहेब पाटिल ने किया।  बहुजन मुक्ति पार्टी की जनरल ढांचे की बुलाई मीटिंग में पुरानी बॉडी में फेर बदल किया गया। मा वी एल मातंग ने स्वयं एलान किया की खुद स्वेच्छा से बहुजन मुक्ति पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे रहे हैं राजनीती से सन्यास और राष्ट्रीय स्तर पर बामसेफ प्रचारक का कार्य करते रहेंगे। राष्ट्रीय स्तर की जर्नल बॉडी की बैठक मे सर्व सम्मत्ती से राष्ट्रीय अध्यक्ष के पद पर पूर्व कार्यकारी अध्यक्ष जे एस कश्यप को राष्ट्रीय अध्यक्ष के पद पर चुना गया। राष्ट्रीय उपाध्यक्ष के लिए मा वैकटेस लांमबाड़ा, मा हिरजीभाई सम्राट, डी राम देसाई, राष्ट्रीय महासचिव के पद पर मा बालासाहब मिसाल पाटिल, मा डॉ एस अकमल, माननीय एडवोकेट आयुष्मति सुमिता पाटिल, माननीय एडवोकेट नरेश कुमार,

*पिछड़ों अति पिछड़ों शूद्रों अछूतों तथाकथित जाति धर्म से आजादी की चाबी बाबा साहब का भारतीय संविधान-गादरे*

(हिन्दू-मुस्लिम के षड्यंत्रकारियो के जाल और कैद खाने से sc obc st minorities जंग लडो बेईमानो से मूल निवासी हो बाबा फुले और  भीमराव अम्बेडकर के सपनो को साकार करें--गादरे)* मेरठ:--बाबा ज्योति बा फुले और बाबा भीमराव अंबेडकर भारत रत्न ही नहीं विश्व रतन की जयंती पर हमें शपथ लेनी होगी की हिन्दू-मुस्लिम के षड्यंत्रकारियो के जाल और कैद खाने से sc obc st minorities जंग लडो बेईमानो से मूल निवासी हो बाबा फुले और भीमराव अम्बेडकर के सपनो को साकार करें। बहुजन मुक्ति पार्टी के आर डी गादरे ने महात्मा ज्योतिबा फुले और भारत रत्न डॉक्टर बाबा भीमराव अंबेडकर की जन्म जयंती के अवसर पर समस्त मूल निवासियों को हार्दिक शुभकामनाएं देते हुए आह्वान किया कि आज हम कुछ विदेशी षड्यंत्र कार्यों यहूदियों पूंजीपतियों अवसर वादियों फासीवादी लोगों के चंगुल से निकलने के लिए एक आजादी की लडाई लरनी होगी। आज भी आजाद होते हुए फंसे हुए हैं। डॉक्टर बाबा भीमराव अंबेडकर के लोकतंत्र और भारतीय संविधान को अपने हाथों से दुश्मन के चंगुल में परिस्थितियों को समझें। sc obc st MINORITIES खुद सर्वनाश करने पर लगे हुए हैं और आने वाली नस्लों को गु