Skip to main content

Posts

Showing posts from February, 2020

कन्हैया कुमार ने देशद्रोह मामले में फास्ट ट्रैक कोर्ट में सुनवाई करने को कहा

पटना।  जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) छात्रसंघ के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार पर दिल्ली सरकार द्वारा देशद्रोह मामले में मुकदमा चलाने की मंजूरी दे दी गई है। कन्हैया कुमार ने इस मामले में दिल्ली सरकार को धन्यवाद देते हुए इसकी सुनवाई फास्ट ट्रैक कोर्ट में कराने की मांग की है।कन्हैया ने दिल्ली सरकार द्वारा देशद्रोह का मुकदमा चलाने की अनुमति देने के बाद अपने ट्विटर हैंडल से ट्वीट कर लिखा कि दिल्ली सरकार को देशद्रोह मामले की मंजूरी देने के लिए धन्यवाद। दिल्ली पुलिस और सरकारी वकीलों से आग्रह है कि इस केस को अब गंभीरता से लिया जाए, फास्ट ट्रैक कोर्ट में स्पीडी ट्रायल हो और टीवी वाली आपकी अदालत की जगह कानून की अदालत में न्याय सुनिश्चित किया जाए। सत्यमेव जयते।कन्हैया ने एक अन्य ट्वीट में कहा, राजद्रोह मामले में फास्ट ट्रैक कोर्ट और त्वरित कार्रवाई की जरूरत इसलिए है, ताकि देश को पता चल सके कि कैसे देशद्रोह कानून का दुरुपयोग इस पूरे मामले में राजनीतिक लाभ और लोगों को उनके बुनियादी मसलों से भटकाने के लिए किया गया है।    

दंगा भड़काने के आरोप में कांग्रेस की पूर्व पार्षद इशरत जहां गिरफ्तार

नई दिल्ली।  उत्तर-पूर्वी दिल्ली की हिंसा के बाद अब जिंदगी धीरे-धीरे कदम आगे बढ़ा रही है। दुकानें भी खुलने लगी हैं, गाड़ियां भी सड़कों पर निकलने लगी हैं। बाजार में चहल-पहल देखी जा रही है। दिल्ली पुलिस अनुसार, दिल्ली हिंसा में मरने वालों की संख्या 42 तक पहुंच गई है। अपडेट... -दिल्ली हिंसा की जांच के मामले में दिल्ली पुलिस की एसआईटी ने साइबर सेल की सहायता मांगी है। करीब 12 एफआईआर में साइबर सेल अपने स्तर पर जांच कर रही है। दरअसल साइबर सेल कई सीसीटीवी फुटेज खंगालने का काम अत्याधुनिक सॉफ्टवेयर्स की सहायता से करती है। दिल्ली हिंसा के ऐसे कई सीसीटीवी फुटेज साइबर सेल को सौपे गए हैं जिनकी क्वालिटी खराब है। सूत्रों की माने तो इन्हीं सीसीटीवी फुटेज के जरिए हिंसा करने वालों की पहचान का काम शुरू हो चुका है, इसके अलावा सोशल मीडिया जैसे व्हाट्सअप और फेसबुक के जरिए नफरत फैलाने वालों की पहचान करने का काम भी शुरू हो गया है। -कांग्रेस की पूर्व निगम पार्षद इशरत जहां को हिंसा भड़काने के आरोप में दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। इशरत जहां जगतपुरी इलाके की पूर्व निगम पार्षद रही हैं। पुलिस के मुताबिक इन पर

केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान के आवास का पानी का नमूना भी आईएस ओ मानको पर विफल पाया गया

नई दिल्ली।  केंद्रीय उपभोक्ता मामले, खाद्य, एवं सार्वजनिक वितरण मंत्री रामविलास पासवान के आवास 12 जनपथ से लिया गया पीने के पानी का नमूना भी आईएसओ मानकों पर विफल पाया गया। यह बात भारतीय मानक ब्यूरो (बीआईएस) ने शुक्रवार को शीर्ष अदालत को बताई। बीआईएस ने बताया कि केंद्रीय मंत्री के आवास से लिया गया पीने के पानी का नमूना गंध व अल्यूमीनियम, कॉलीफॉर्म के मानक के अनुरूप विफल पाया गया। बीआईएस की रिपोर्ट में दिल्ली में विभिन्न जगहों से लिए गए पीने के पानी (नल से आपूर्ति किया जाने वाला पानी) के सभी 11 नमूने आईएसओ के मानकों के अनुरूप विफल पाए गए। रिपोर्ट के अनुसार, देश की राजधानी में नगरपालिका/निगम/जलबोर्ड द्वारा लोगों के घरों में आपूर्ति किए जाने वाले पानी के नमूने लिए गए थे जिनकी जांच के लिए मान्यता प्राप्त प्रयोगशाला में भेजा गया। पानी के नमूने जांच के लिए नेशनल एक्रीडेशन बोर्ड लेबोरेटरी भेजा गया था। न्यायमूर्ति अरुण मिश्रा की अध्यक्षता वाली पीठ ने बीआईएस के वकील विपिन नायर से पूछा कि पीने के पानी की गुणवत्ता में सुधार के लिए कौनसा तरीका अपनाना चाहिए। पीठ में न्यायमूर्ति दीपक गुप्ता भी शामिल ह

सामाजिक सुरक्षा महिला एवं बाल विकास मंत्री अरुणा चौधरी ने बजट की तारीफ की

चंडीगढ़।  पंजाब के बजट 2020-21 में सामाजिक सुरक्षा पेंशनों और वित्तीय सहायता स्कीमों में 31 प्रतिशत बढ़ोतरी करने के प्रस्ताव की सराहना करते हुये पंजाब के सामाजिक सुरक्षा, महिला और बाल विकास मंत्री अरुणा चौधरी ने कहा है कि इससे बुज़ुर्गों, महिलाओं और बाल पेंशनरों का मनोबल बढ़ेगा और अन्य लाभपात्रियों को विभिन्न सामाजिक सुरक्षा पेंशनों और वित्तीय सहायता स्कीमों के घेरे में लाया जा सकेगा।यहाँ जारी एक प्रेस बयान में चौधरी ने वित्त मंत्री मनप्रीत सिंह बादल द्वारा पेश पंजाब बजट 2020 -21 की प्रशंसा करते हुये कहा कि बजट में सामाजिक सुरक्षा पेंशनों की राशि 2019-20 के मुकाबले 31 प्रतिशत बढ़ा कर 2388 करोड़ रुपए की गई है, जबकि साल 2016 -17 के दौरान 19.08 लाख लाभपात्रियों के सम्मिलन से सामाजिक सहायता पेंशनों के लिए बजट राशि 1100 करोड़ रुपए थी। साल 2019 -20 के दौरान 24 लाख लाभपात्रियों को उनके खातों में सीधे तौर पर पेंशन डालने के लिए 2,165 करोड़ रुपए रखे गए थे। सामाजिक सुरक्षा, महिला और बाल विकास मंत्री ने आगे बताया कि इसके साथ साथ सरकार ने हर जिले में बुज़ुर्ग नागरिकों के कल्याण के लिए बुढ़ापा घर स्

5 इंच के विवाद में पड़ोसी ने एक व्यक्ति को छत से नीचे फेंका

बांदा।  उत्तर प्रदेश में बांदा जिले के चिल्ला थाना के एक गांव में महज 'पांच इंच' जमीन के विवाद में पड़ोसी ने एक अधेड़ को पहले खूब मारा पीटा और फिर उसे बांधकर छत से नीचे फेंक दिया। घटना के बाद आक्रोशित परिजनों ने सड़क जाम कर दी। चिल्ला थाना के प्रभारी निरीक्षक (एसएचओ) विजय सिंह ने शनिवार को बताया कि पपरेंदा गांव में शुक्रवार को पांच इंच मकान की जमीन के विवाद में एक पक्ष के लोगों ने पड़ोसी कल्लू प्रजापति (55) को पंचायत के बहाने पकड़ कर अपने घर ले गए और उसे बुरी तरह लाठियों से पीटने के बाद रस्सी से बांधकर छत नीचे फेंक दिया। पिता को बचाने गए बेटे शिवकरन (18) को भी घायल कर दिया गया है।" उन्होंने बताया कि इस संबंध में सूरजपाल यादव, विंध्य कुमार, छोटकू, व अवधेश के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर घायल पिता और पुत्र को इलाज के लिए सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। एसएचओ सिंह ने बताया कि बाद में आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर उसके परिजन और ग्रामीणों ने पपरेंदा गांव में बांदा-कानपुर मार्ग में दो घंटे तक सड़क जाम की। फिलहाल किसी आरोपी की गिरफ्तारी नहीं हुई है, मामले की जांच की जा रही

गंडक नदी में नाव पलटने से एक महिला की मौत

गोपालगंज।  बिहार के गोपालगंज जिले के यादोपुर थाना क्षेत्र में शनिवार को गंडक नदी में एक नाव के पलट जाने से एक महिला की मौत हो गई, जबकि सात लोग अभी लापता बताए जा रहे हैं। पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि मेहंदिया गांव के 12 लोग एक नाव पर सवार होकर गंडक नदी पार कर खेती करने जा रहे थे। इसी बीच नाव जैसे ही गहरे नदी में पहुंची वैसे ही पलट गई। यादोपुर के थाना प्रभारी दिनेश कुमार यादव ने बताया कि घटना के बाद चार व्यक्ति तैरकर और स्थानीय लोगों की मदद से सुरक्षित नदी से बाहर निकल गए। नदी से एक महिला का शव बरामद कर लिया गया है, जबकि सात लोग अभी लापता बताए जा रहे हैं। मृतक महिला की पहचान ऊषा देवी के रूप में की गई है। इधर, जिले के एक अधिकारी ने बताया कि लापता लोगों की तलाश में स्थानीय गोताखोरों की टीम को लगाया गया है। उन्होंने कहा कि एनडीआरएफ की टीम को मुजफ्फरपुर से बुलाया जा रहा है। मौके पर जिले के वरिष्ठ अधिकारी पहुंच गए हैं।

निर्भया गैंग रेप और मर्डर के दोषियों में से एक अक्षय ने फांसी से पहले फिर राष्ट्रपति के पास दया याचिका लगाई

नई दिल्ली।  निर्भया गैंगरेप और मर्डर के दोषियों में से एक अक्षय ने फांसी से पहले फिर राष्ट्रपति के पास दया याचिका लगाई है। इससे पहले एक बार राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद निर्भया के दोषी अक्षय की दया याचिका खारिज कर चुके हैं। अक्षय ने नई दया याचिका लगाई है, जिसमें उसने दावा किया कि पहले दायर की गई दया याचिका में सभी तथ्य नहीं थे। इससे पहले निर्भया मामले में मौत की सजा पाए चारों दोषियों की शारीरिक और मानसिक स्थिति जानने के लिए एनएचआरसी को निर्देश देने की मांग को लेकर शनिवार को दिल्ली हाईकोर्ट में याचिका दाखिल की गई है। निर्भया के दोषियों की मानसिक हालात को लेकर दिल्ली हाई कोर्ट में जनहित याचिका दाखिल की गई है। राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग से हस्तक्षेप की मांग की गई है। इससे पहले शुक्रवार को निर्भया गैंगरेप और मर्डर केस में चौथे आरोपी पवन गुप्ता ने सुप्रीम कोर्ट में क्यूरेटिव पिटिशन दाखिल कर दी। गुप्ता ने मांग उठाई कि उसकी फांसी की सजा को उम्रकैद में बदला जाए। आपको बताते जाए कि निर्भया गैंगरेप और मर्डर केस के दोषी लगातार फांसी से बचाने के नए पैंतरे अपनाने से पीछे नहीं हट रहे हैं। आपको बताते जाए क

नीतीश कुमार ने बिहार राज्य के लिए मांगा विशेष पैकेज

पटना।  बिहार विधानसभा में राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) के खिलाफ, राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर (एनपीआर) के 2010 के प्रारूप में लागू कराने और जाति आधारित जनगणना के लिए विधानसभा में प्रस्ताव पारित कराने के बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने गृह मंत्री अमित शाह के सामने बिहार के लिए विशेष दर्जे की मांग कर इस चुनावी साल में जहां अपना दांव खेला है, वहीं भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) से उनकी दूरी के भी कयास लगाए जाने लगे हैं। भाजपा के बड़े नेताओं ने जदयू और लोजपा के गठबंधन के साथ इस साल अक्टूबर-नवंबर में होने वाले संभावित चुनाव को लेकर जहां मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व की घोषणा कर दी है, वहीं जदयू के ऐसे निर्णयों से भाजपा बैकफुट पर खड़ी नजर आ रही है। भाजपा के कद्दावर रणनीतिकार समझे जाने वाले नेताओं के इन मुद्दों को लेकर विधानसभा में सहमति के बाद अभी भी वे सीधे तौर पर इन प्रस्तावों की मंजूरी की खिलाफ कुछ बोल नहीं पा रहे हैं। वैसे भाजपा के कई नेता नाम नहीं प्रकाशित करने की शर्त पर इतना जरूर कहते हैं कि जदयू ने इस रणनीति से केंद्र सरकार और भाजपा नेतृत्व को चुनौती दी है। वैसे, भाजपा के

आजाद विधायक बलराज कुंडू ने खट्टर सरकार से समर्थन वापस लिया

चंडीगढ़। हरियाणा में महम क्षेत्र के आज़ाद विधायक बलराज कुंडू ने खट्‌टर सरकार से समर्थन वापस ले लिए है। इस संबंध में उन्होंने राज्यपाल सत्यदेव नारायण आर्य को चिट्ठी भिजवा दी है। कुंडू ने पूर्व मंत्री मनीष ग्रोवर पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाते हुए जांच की मांग की थी, लेकिन मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के ग्रोवर को क्लीन चिट देने के बाद कुंडू ने सरकार को दिया समर्थन वापस लेने की घोषणा कर दी।उधर, पूर्व सहकारिता राज्य मंत्री मनीष ग्रोवर और महम से विधायक बलराज कुंडू के बीच खींचतान अब सड़क से अदालत पहुंच गई है। ग्रोवर ने लीगल नोटिस का जवाब नहीं मिलने पर कुंडू के खिलाफ रोहतक की अदालत में मानहानि का केस दायर कर दिया है। मामले की सुनवाई 20 मार्च को होनी है। कुंडू का कहना है, 'मैं अदालत का सम्मान करता हूं, कानूनी तरीके से कोर्ट में पूर्व मंत्री की याचिका का जवाब दिया जाएगा।' उन्होंने कहा कि अगर ग्रोवर खुद को निर्दोष मानते हैं तो सार्वजनिक मंच पर आकर बहस कर आरोपों का जवाब दें और साथ ही एसआईटी जांच का सामना करें। कुंडू ने 3 जनवरी को पूर्व मंत्री ग्रोवर के खिलाफ मोर्चा खोला था। कुंडू ने मीडिया के

भाजपा सांसद प्रवेश वर्मा दिल्ली पुलिस के जवान और आईबी के जवान के परिजनों को अपने 1 महीने का वेतन देंगे

नई दिल्ली।  पश्चिमी दिल्ली के भाजपा सांसद परवेश वर्मा ने दिल्ली हिंसा में जान गंवाने वाले पुलिस के जवान और खुफिया ब्यूरो (आईबी) के कर्मचारी अंकित शर्मा के परिवार को मदद के तौर पर अपना एक महीने का वेतन प्रदान करने की घोषणा की है। वर्मा ने शनिवार को ट्वीट करते हुए इसकी घोषणा की। उन्होंने ट्वीट किया कि दिल्ली में हुई दुर्भाग्यपूर्ण हिंसा के दौरान अपना कर्तव्य निभाते हुए शहीद होने वाले दिल्ली पुलिस के हेड कॉन्स्टेबल शहीद रतनलाल और आईबी ऑफिसर शहीद अंकित शर्मा के परिवारों को मैं बतौर सांसद मिलने वाली मेरी एक-एक महीने की तनख्वाह समर्पित करता हूं। जय हिंद। शर्मा का शव बुधवार को एक नाले से बरामद किया गया था। शर्मा की शव परीक्षण (पोस्टमार्टम) रिपोर्ट में कहा गया कि उन्हें 400 से अधिक बार बेरहमी के साथ चाकू से गोदा गया है। उनके परिवार ने आरोप लगाया है कि आप पार्षद ताहिर हुसैन के समर्थकों ने शर्मा की बेरहमी से हत्या की है।

दुष्कर्म पीड़िता के मामले में सुनवाई 4 मार्च तक टली

नई दिल्ली। दिल्ली की एक अदालत ने शनिवार को उत्तर प्रदेश के उन्नाव जिले में भाजपा से निष्कासित विधायक कुलदीप सिंह सेंगर द्वारा दुष्कर्म की शिकार एक महिला के पिता की कथित रूप से हिरासत में मौत के मामले में फैसला सुनाने की तारीख चार मार्च तक टाल दी है। तीस हजारी कोर्ट के जिला एवं सत्र न्यायाधीश धर्मेश शर्मा अब चार मार्च की सुबह 11.30 बजे फैसला सुनाएंगे।यह मामला नौ अप्रैल 2018 को पुलिस हिरासत में दुष्कर्म पीडि़ता के पिता की मौत से संबंधित है। सेंगर द्वारा 2017 में महिला का कथित तौर पर अपहरण कर दुष्कर्म किया गया था। उस समय वह नाबालिग थी। अदालत ने पिछले साल 20 दिसंबर को महिला का दुष्कर्म करने के लिए उसे आजीवन कारावास की सजा सुनाई थी। इस मामले में सीबीआई ने आरोपों को साबित करने के लिए पीडि़ता के चाचा, मां, बहन व पिता के सहकर्मी समेत 55 गवाहों के बयान दर्ज करवाए तो वहीं बचाव पक्ष ने नौ गवाहों को पेश किया।

राजीव चौक मेट्रो स्टेशन पर भड़काऊ नारे लगाने वाले 6 युवकों को सीआईएसएफ ने हिरासत में लिया

नई दिल्ली।  सीआईएसएफ ने शनिवार को राजधानी के सबसे प्रमुख और व्यस्ततम मेट्रो स्टेशन राजीव चौक पर नारेबाजी करने के आरोप में 6 युवकों को हिरासत में लिया है। सीआईएसएफ ने बताया कि आज दोपहर 6 युवक नारे लगा रहे थे। वहां तैनात जवानों ने उन्हें तुरंत पकड़ लिया और मेट्रो के सुरक्षा अधिकारियों को सौंप दिया। डीसीपी मेट्रो विक्रम पोरवाल के मुताबिक दोपहर 12.30 बजे 6 लडक़े स्टेशन पर देश के गद्दारों को...गोली मारो...के नारे लगा रहे थे। इनसे पूछताछ की जा रही है। एक समाचार एजेंसी के अनुसार ये लडक़े नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के समर्थन में नारे लगा रहे थे। यह नारेबाजी लडक़ों ने तब शुरू की, जब मेट्रो स्टेशन पर एक ट्रेन रुकने वाली थी। आपको बता दें कि यही नारा दिल्ली चुनाव के दौरान भाजपा सांसद और केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने एक रैली में लगवाया था। उल्लेखनीय है कि सीएए के मुद्दे पर पिछले दिनों उत्तर-पूर्वी दिल्ली में हुई हिंसा में अब तक 42 लोगों की मौत हो चुकी है। इतने संवेदनशील मसले पर भी राजनीति जारी है। जहां भाजपा विपक्षी दलों पर आरोप लगा रही है, वहीं कांग्रेस और आम आदमी पार्टी (आप) मोदी सरकार को घेरने

राज्यसभा के उपसभापति हरिवंश ने दल बदल कानून में अध्यक्ष की भूमिका पर कहा कि दलबदल पर फैसले त्वरित हो

  जयपुर। राज्यसभा के उपसभापति हरिवंश ने दलबदल कानून में अध्यक्ष की भूमिका पर कहा कि दल बदल पर फैसले त्वरित हों इसलिए इसे लागू करने का काम अध्यक्ष पर छोड़ा गया। उन्होंने कहा कि इस कानून की पुनः समीक्षा कर मजबूत बनाए जाने की आवश्यकता है, लेकिन जब कोई मुकम्मल व्यवस्था नहीं हो जाए तब तक अध्यक्ष के पास ही इस पर निर्णय लेने का अधिकार होने चाहिये। उन्होंने कहा कि स्पीकर संसदीय लोकतांत्रिक प्रणाली का सबसे बेहतर प्रहरी है। इस संस्था को और मजबूत बनाने के प्रयास किये जाने चाहिये।हरिवंश राष्ट्रमंडल संसदीय संघ राजस्थान शाखा के तत्वावधान में संविधान की दसवीं अनुसूची के अन्तर्गत अध्यक्ष की भूमिका के संबंध में शनिवार को राजस्थान विधानसभा में आयोजित एक दिवसीय सेमिनार में अध्यक्ष के तौर पर संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि हाल ही में न्यायालयों के ऎसे फैसले आए जिनके अनुसार अध्यक्ष को इस कार्य से अलग रखे जाने की बात की गई। इसलिये इस विषय पर चर्चा की जानी जरूरी है। उन्होंने कहा कि भारतीय लोकतंत्र के इतिहास में दल बदल हमेशा ही एक प्रमुख मुद्दा बनकर सामने आया है, जिसके चलते संविधान में संशोधन कर इस संब

सूचना एवं जनसंपर्क विभाग के संयुक्त निदेशक संजय शर्मा रिटायर

शिमला।  हिमाचल प्रदेश सूचना एवं जन सम्पर्क विभाग के संयुक्त निदेशक संजय शर्मा शनिवार को सरकारी सेवा से सेवानिवृत्त हो गए। उन्होंने 1986 में विभाग में अपनी सेवाएं आरंभ कीं और 33 वर्ष व पांच महीनों तक कार्य किया। विभाग में साउंड रिकाॅर्डिस्ट गोविंद चौहान भी आज सेवानिवृत्त हो गए। इन दोनों अधिकारियों की सेवानिवृत्ति के अवसर पर शनिवार यहां सूचना एवं जन सम्पर्क निदेशालय में विदाई समारोह का आयोजन किया गया। विभाग के निदेशक हरबंस सिंह ब्रसकोन ने इस अवसर पर कहा कि संजय शर्मा ने विभिन्न पदों पर कार्य करते हुए विभाग और प्रदेश सरकार को बहुमूल्य सेवाएं दीं। उन्होंने गोविंद चौहान की सेवाओं की भी प्रशंसा की, जिन्होंने विभिन्न स्थानों पर कार्य किया। विभाग के अन्य वरिष्ठ अधिकारियों ने भी संजय शर्मा और गोविंद चौहान से जुड़ी यादों का साझा किया। निदेशक ने दोनों अधिकारियों के मंगलमय और स्वस्थ जीवन की कामना की।

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शुक्रवार को केंद्रीय शहरी विकास मंत्री से बातचीत की

नई दिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शुक्रवार को केंद्रीय शहरी विकास मंत्री हरदीप पुरी से मुलाकात की। यह मुलाकात शहरी विकास मंत्री के नई दिल्ली स्थित कार्यालय में हुई। मुख्यमंत्री व शहरी विकास मंत्री के बीच हुई बैठक के दौरान दिल्ली में ढांचागत सुविधाओं के विस्तार पर चर्चा की गई। उत्तर-पूर्वी दिल्ली में हिंसा एवं उपद्रव के बाद दिल्ली के मुख्यमंत्री और केंद्रीय शहरी विकास मंत्री के बीच यह पहली मुलाकात है। गौरतलब है कि दिल्ली में ढांचागत सुविधाओं एवं सेवाओं का एक बड़ा क्षेत्र शहरी विकास मंत्रालय के अंतर्गत आता है। ऐसे में मुख्यमंत्री केजरीवाल हिंसा प्रभावित क्षेत्रों में पुनर्वास जैसे कार्य के लिए केंद्र सरकार से मदद मांग सकते हैं। उत्तर-पूर्वी दिल्ली में हिंसा के दौरान दुकानों, मकानों, व्यवसायिक प्रतिष्ठानों को जलाया गया है। मुख्यमंत्री से जब पूछा गया कि क्या जलाए गए घर, दुकान व अन्य व्यावसायिक प्रतिष्ठानों के पुनर्वास में दिल्ली सरकार शहरी विकास मंत्रालय की मदद लेगी तो मुख्यमंत्री ने कहा, पुनर्वास के कार्य में अभी दिल्ली सरकार लगी हुई है। मैं प्रतिदिन पुनर्वास का

राजस्थान के मुख्यमंत्री से गृह मंत्री पद पर मांगा इस्तीफा

जयपुर।  भारतीय जनता पार्टी ने शनिवार को प्रदेश में दलितों पर लगातार बढ़ते अत्याचार एवं बिगड़ती कानून व्यवस्था को लेकर प्रदेशाध्यक्ष डाॅ. सतीश पूनिया के नेतृत्व में महामहिम राज्यपाल कलराज मिश्र को ज्ञापन दिया। इस दौरान प्रदेश भाजपा के प्रमुख नेता प्रतिपक्ष गुलाब चन्द कटारिया, उपनेता प्रतिपक्ष राजेन्द्र राठौड़, केंद्रीय राज्यमंत्री अर्जुनराम मेघवाल, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं प्रदेश प्रभारी अविनाश राय खन्ना साथ रहे। भाजपा प्रदेशाध्यक्ष डाॅ. सतीश पूनिया ने राजभवन पर पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि प्रदेश में लगातार दलितों पर हो रहे अत्याचारों को लेकर उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट ने अपनी ही सरकार को कटघरे में खड़ा किया है। प्रदेश सरकार का दूसरे नम्बर का मुखिया जब ऐसी बात करता है, तो वास्तव में समस्या बहुत बड़ी है और यह सरकार के सामने निश्चित रूप से एक बड़ी चुनौती है। उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट ने अपनी सरकार को दलितों के अत्याचारों को लेकर जीरो टाॅलरेंस पर काम करने को कह रहे हैं, किन्तु सरकार इसे गम्भीरता से नहीं ले रही। इससे पहले भी कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने दलित अत्याचार को

सीए ए का विरोध कर रहे लोगों पर रवी शंकर प्रसाद ने बोला हमला

बड़ौदा।  केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) का विरोध कर रहे विपक्ष और लोगों पर करारा हमला बोला है। उन्होंने कहा कि आजकल डिबेट में या अन्य जगहों पर कुछ लोग बोल रहे हैं कि वे दस्तावेज नहीं दिखाएंगे, लेकिन वे ही लोग अयोध्या में रामलला का सबूत मांगते थे। रविशंकर प्रसाद ने विपक्ष पर जोरदार हमला बोलते हुए कहा कि पहले हमें चुनाव में हराओ और अपनी सरकार सरकार बनाओ। हमें सेक्युलरिज्म का पाठ मत पढ़ाओ। बड़ौदा में शनिवार को इंडिया फस्र्ट फाउंडेशन के एक कार्यक्रम में कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने अयोध्या मामले में अपने फैसले में तीन महत्वपूर्ण बातें कही थीं। पहला गिराया गया ढांचा ही भगवान राम का जन्मस्थान है, हिंदुओं की यह आस्था निर्विवादित है। दूसरा मुस्लिम पक्ष विवादित जमीन पर अपना दावा साबित करने में विफल रहा। मस्जिद में इबादत में व्यवधान के बावजूद साक्ष्य यह बताते हैं कि प्रार्थना पूरी तरह से कभी बंद नहीं हुई। मुस्लिमों ने ऐसा कोई साक्ष्य पेश नहीं किया, जो यह दर्शाता हो कि वे 1857 से पहले मस्जिद पर पूरा अधिकार रखते थे और तीसरा एएसआई की र

पर्यावरण एवं जलवायु परिवर्तन को बचाने की जरूरत

शिमला।  पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय के हरित कौशल विकास कार्यक्रम के तहत पीपुल्स बायोडायवर्सिटी रजिस्टर (पीबीआर) तैयार करने के लिए दो महीने की अवधि का कोर्स एच.पी. एनविस हब, हिमाचल प्रदेश विज्ञान, प्रौद्योगिकी और पर्यावरण परिषद, शिमला में आज संपन्न हुआ। यह कार्यक्रम पर्यावरण और वन क्षेत्र में कौशल विकास के लिए एक पहल है जिससे राज्य के युवाओं को अल्पकालिक पाठ्यक्रमों के माध्यम से लाभकारी रोजगार या स्वरोजगार प्राप्त करने में सक्षम बनाया जा सके। इस अवसर पर बोलते हुए, मुख्य अतिथि डॉ. एस.एस. सामंत, निदेशक, हिमालयन वन अनुसंधान संस्थान (एचएफआरआई), शिमला ने कहा कि जैव विविधता संरक्षण पर दुनिया भर में ध्यान देने की आवश्यकता है, विशेष रूप से हिमाचल प्रदेश में जहाँ वनस्पतियों और जीवों की कई प्रजातियां पाई जाती हैं। उन्होंने स्थानीय जैव विविधता की सराहना करने जैसे छोटे कदमों पर जोर दिया। औषधीय पौधों के नाम सीखने और पारंपरिक उपयोग की जानकारी लोगों को संरक्षण प्रयासों के बारे में जागरूक करने में बहुत मदद करेंगे। डॉ. विनीत जिश्टू, वैज्ञानिक-डी, एचएफआरआई और डॉ. अनिल ठाकुर, एसोसिएट

॰ कोरोना वायरस की वजह से खाड़ी देशों के मक्का मदीना जैसे पवित्र स्थलों पर जाने पर पाबंदी

रियाद।  सऊदी अरब ने घातक कोरोनावायरस के खिलाफ एहतियाती कदम उठाते हुए मक्का और मदीना के पवित्र स्थलों में खाड़ी देशों के नागरिकों के प्रवेश पर अस्थायी रूप से रोक लगाने की घोषणा की है। समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक, सऊदी विदेश मंत्रालय ने शुक्रवार को एक बयान में कहा कि अस्थायी प्रतिबंध के अंतर्गत खाड़ी सहयोग परिषद (जीसीसी) के नागरिक नहीं आते हैं जो लगातार 14 दिनों से किंगडम में हैं और उनमें कोरोनावायरस संक्रमण के लक्षण नहीं दिखाई दिए हैं और उमरा करने या पैगंबर की मस्जिद का दौरा करने की इच्छा रखते हैं। ऐसे जीसीसी नागरिक परमिट पाने के लिए हज मंत्रालय और उमरा की वेबसाइट के माध्यम से आवेदन कर सकते हैं। सऊदी अरब की सरकार ने पुष्टि की है कि वह वायरस के प्रसार और उसके नतीजों पर करीबी नजर बनाए हुए हैं। इसने कहा कि एहतियाती कदमों की समीक्षा की जा रही है और अतिरिक्त उपाय किए जाएंगे।

. डिग्गी पैलेस में चल रहे वर्ल्ड फ्लोरल शो ग्रांड फ्लोरल अफेयर 2020 का समापन

जयपुर  । डिग्गी पैलेस में चल रहे ‘वर्ल्ड फ्लोरल शो - ग्रांड फ्लोरल अफेयर 2020’ का समापन रविवार, 1 मार्च को होने जा रहा है। भारत में पहली बार आयोजित किए इस अंतर्राष्ट्रीय फ्लोरल शो को यह 13वां संस्करण है। जिसमें अर्जेंटीना, बारबाडोस, ब्राजील, इटली, यूके, जिम्बाब्वे सहित लगभग 28 देशों से 500 प्रतिनिधि भाग ले रहें हैं। इस शो में करीब 350 फ्लोरल इंस्टॉलेशन लगाए गये हैं, जिन्हें देखने प्रतिदिन बड़ी संख्या में विजिटर्स आ रहें हैं। शनिवार, 29 फरवरी को बिरला ऑडिटोरियम में डेलीगेट्स एवं आगंतुकों ने बांधनवार (डोर हैंगिंग) पर आयोजित वर्कशॉप में भाग लिया और ‘फूल बंगला‘ की प्राचीन परंपरा पर डेमोंस्ट्रेशन देखा। ये गतिविधियां डिग्गी पैलेस में चल रहे ‘13 वें वर्ल्ड फ्लोरल शो - ग्रांड फ्लोरल अफेयर 2020’ के तहत आयोजित की गईं। दिनभर भारत के विशेषज्ञों ने विभिन्न टॉक्स में प्रतिभागियों एवं विजिटर्स को संबोधित किया। इनमें इंडियन जैम्स एंड ज्वैलरी, मुगल आर्किटेक्चर तथा कश्मीरी शॉल कुछ प्रमुख विषय थे। उल्लेखनीय है कि वर्ल्ड एसोसिएशन ऑफ फ्लोरल आर्टिस्ट्स (वाफा) द्वारा आयोजित यह फ्लोरल शो ‘पुष्पा बितान फ्रेंडशि

भारत एक विविधताओं से भरा देश है

    जयपुर।  राष्ट्रमंडल संसदीय संघ (राजस्थान शाखा) के तत्वावधान में संविधान की दसवीं अनुसूची के अंतर्गत अध्यक्ष की भूमिका के संबंध में शनिवार को विधानसभा में आयोजित सेमिनार के द्वितीय सत्र के दौरान वक्ताओं ने मुख्य रूप से दल-बदल राजनीति के विरोध में अपने विचार व्यक्त किए। सेमिनार में अपने अध्यक्षीय उद्बोधन में कर्नाटक विधानसभा के अध्यक्ष विश्वेस्वर हेगड़े कागेरी ने राजनीतिक दल-बदल की प्रवृत्ति पर प्रश्न उठाते हुए कहा कि यह प्रवृत्ति सही नहीं है। उन्होंने कहा कि संसदीय लोकतंत्र में व्यवस्था को नकारा नहीं जा सकता किंतु अपने स्वार्थवश दल बदलने वाले शक्स की राजनैतिक सदस्यता ही समाप्त कर देनी चाहिए। सेमिनार में राज्य विधानसभा के पूर्व अध्यक्ष दीपेन्द्र सिंह शेखावत ने विधायिका और न्यायपालिका के आपसी संबंधों पर चर्चा की। उन्होंने कहा कि कार्यपालिका में न्यायपालिका का ज्यादा हस्तक्षेप उचित नहीं है। अध्यक्ष पर सभी पक्ष-विपक्ष के राजनीतिक दल विश्वास करते हैं और इसलिए अध्यक्ष को निष्पक्ष और निर्भीक होकर अपने निर्णय लेना चाहिए। सेमिनार के द्वितीय सत्र को संबोधित करते हुए उप नेता प्रतिपक्ष राजेंद्

राजनीतिक दल बल की परवर्ती सही नहीं

  जयपुर।  राष्ट्रमंडल संसदीय संघ (राजस्थान शाखा) के तत्वावधान में संविधान की दसवीं अनुसूची के अंतर्गत अध्यक्ष की भूमिका के संबंध में शनिवार को विधानसभा में आयोजित सेमिनार के द्वितीय सत्र के दौरान वक्ताओं ने मुख्य रूप से दल-बदल राजनीति के विरोध में अपने विचार व्यक्त किए। सेमिनार में अपने अध्यक्षीय उद्बोधन में कर्नाटक विधानसभा के अध्यक्ष विश्वेस्वर हेगड़े कागेरी ने राजनीतिक दल-बदल की प्रवृत्ति पर प्रश्न उठाते हुए कहा कि यह प्रवृत्ति सही नहीं है। उन्होंने कहा कि संसदीय लोकतंत्र में व्यवस्था को नकारा नहीं जा सकता किंतु अपने स्वार्थवश दल बदलने वाले शक्स की राजनैतिक सदस्यता ही समाप्त कर देनी चाहिए। सेमिनार में राज्य विधानसभा के पूर्व अध्यक्ष दीपेन्द्र सिंह शेखावत ने विधायिका और न्यायपालिका के आपसी संबंधों पर चर्चा की। उन्होंने कहा कि कार्यपालिका में न्यायपालिका का ज्यादा हस्तक्षेप उचित नहीं है। अध्यक्ष पर सभी पक्ष-विपक्ष के राजनीतिक दल विश्वास करते हैं और इसलिए अध्यक्ष को निष्पक्ष और निर्भीक होकर अपने निर्णय लेना चाहिए। सेमिनार के द्वितीय सत्र को संबोधित करते हुए उप नेता प्रतिपक्ष राजेंद्र

राजस्थान में फैशन नए मुकाम पर

जयपुर ।  राजस्थान में फैशन को नए मुकाम पर लेकर देश में टॉप 5 फैशन वीक में शामिल हो चुके जयपुर कॉट्योर शो का तीसरा लुक लॉन्च का शनिवार को टोंक रोड स्थित बीटल्स लायूंज में आयोजन हुआ। अपने सांतवें संस्करण के साथ लौटे राजस्थान के सबसे बड़े फैशन उत्सव में इस साल भी फैशन, ग्लैमर और सेलिब्रिटीज का जमावड़ा देखने को मिलेगा। इस बारे में बताने के लिए मोदी यूनिवर्सिटी से डायरेक्टर डॉ. एम वेनु गोपाला राव और लेबल फ्यूशिया से फैशन डिज़ाइनर रिद्धिमा गोधा और गौरव गौड़ ने शो में प्रस्तुत की जाने वाले फैशन कलेक्शन की झलक शोकेस की। शो के बारे में ज्यादा जानकारी देते हुए डायरेक्टर गौरव गौड़ ने बताया कि दो दिवसीय शो में 16 डिज़ाइनर, फैशन डिज़ाइन काउन्सिल ऑफ़ इंडिया (एफडीसीआई) से 2 नेशनल फैशन डिज़ाइनर्स, 4 सेलिब्रिटीज, 4 फेमिना मिस इंडिया फाइनलिस्ट और 2 टेलीविज़न एक्ट्रेस अपने ग्लेमर्स अवतार में दिखेगी। जिसमें बॉलीवुड एक्ट्रेस निकिता दत्ता, बिग बॉस फेम हिमांशी खुराना, फैशन डिज़ाइनर मोहित फलोड के लिए शोस्टॉपर फिल्म संजू फेम करिश्मा तन्ना और फिल्म एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर फेम सुजैन बेनेट शो का खास आकर्षण होगी। वहीं टेल

एनआरसी में उलझाना चाहती है सरकार

रांची  :  जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी के पूर्व छात्र नेता डॉ कन्हैया कुमार ने कहा कि सरकार एक ही काम के लिए अलग-अलग नजरिया रखती है. स्थायी काम करनेवाले शिक्षक को अलग व अस्थायी शिक्षक को अलग वेतन देती है. वर्दी वालों से उनका पेंशन का हक छीन रही है. पिछले पांच सालों में तीन करोड़ 16 लाख लोगों की नौकरी चली गयी है अौर वर्तमान में 18 करोड़ की नौकरियां छीनने की तैयारी चल रही है. इससे हमारे नौजवान दवाब में आकर आत्महत्या कर रहे हैं. वे शुक्रवार को कडरू हज हाउस के समीप पिछले 40 दिनों से चल रहे धरना के समर्थन में यहां आये थे. उनके सम्मान में कडरू ईदगाह मैदान में आयोजित सभा को उन्होंने संबोधित किया.    उन्होंने कहा कि देश में हर दिन कोई न कोई संपत्ति बिकने के लिए तैयार है. सरकार उन्हें एनआरसी में उलझा कर इसे बेचना चाह रही है. हम सभी को इससे बचाना होगा. जिस तरह हम सीएए के खिलाफ आंदोलन कर रहे हैं, ठीक उसी तरह हमें इसके बचाने के लिए भी आगे आना होगा. डॉ कन्हैया ने कहा कि हमारे पुरखों ने अंग्रेजों से लड़ाई लड़ी थी.    हमें आज के अंग्रेजों के खिलाफ लड़ाई लड़ना है. वे जर्नल डायर बनने को तैयार

दुबई में होगा एशिया कप भारत और पाकिस्तान खेलेगा

कोलकाता :  बीसीसीआई के अध्यक्ष सौरव गांगुली ने शुक्रवार को कहा कि आगामी एशिया कप दुबई में होगा, जिससे भारत और पाकिस्तान दोनों के लिए इस महाद्वीपीय टूर्नामेंट में भाग लेने का मार्ग प्रशस्त हो गया. सितंबर (2020) में प्रस्तावित एशिया कप की मेजबानी पाकिस्तान को सौपी गयी है, लेकिन बीसीसीआई ने यह स्पष्ट कर दिया कि भारतीय टीम सुरक्षा चिंताओं के कारण पड़ोसी देश की यात्रा नहीं कर पायेगी. इसलिए टूर्नामेंट को दुबई में स्थानांतरित कर दिया गया.  गांगुली ने तीन मार्च को दुबई में होने वाले एशियाई क्रिकेट परिषद (एसीसी) की बैठक के लिए रवाना होने से पहले यहां कहा, ‘एशिया कप दुबई में आयोजित होगा और उसमें भारत और पाकिस्तान दोनों खेलेंगे.' इससे पहले, बीसीसीआई ने कहा था कि उसे टूर्नामेंट की मेजबान पाकिस्तान के साथ खेलने में कोई समस्या नहीं है लेकिन उसके मुकाबले तटस्थ स्थल पर आयोजित किये जाए.

25000 की रिश्वत में पेश कार गिरफ्तार

हजारीबाग : भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) की टीम ने अपरसमाहर्ता कार्यालय हजारीबाग के पेशकार रामचंद्र साहू को 25 हजार रुपये घूसे लेते रंगेहाथ गिरफ्तार किया है. यह कार्रवाई एसीबी डीएसपी राजीव रंजन प्रसाद के नेतृत्व में शुक्रवार को हजारीबाग समारणहालय परिसर में की गयी. पेशकार घूस की राशि बरकट्ठा निवासी औशाफ खान पिता स्व जब्बार अहमद खान से ले रहा था. आरोपी के खिलाफ एसीबी थाना में प्राथमिकी दर्ज कर उसे जेल भेज दिया है. औशाफ खान वगैरह का भूमि विवाद का मामला अपरसमाहर्ता के न्यायालय में चल रहा है. इस संबंध में जानकारी लेने एवं केस नंबर की मांग पेशकार रामचंद्र से किया. पेशकार ने इस काम के लिए उससे 25 हजार रुपया मांगे. कहा कि रुपये देने के बाद ही केस नंबर एवं अन्य जानकारी दी जायेगी. पेशकारा द्वारा घूस मांगने की शिकायत एसीबी कार्यालय में की गयी और पेशकार के विरुद्ध कानूनी कार्रवाई करने का आवेदन दिया. आवेदन पर एसीबी की टीम ने जांच कर घटना को सत्य पाया. टीम ने शुक्रवार को जाल बिछाया और दोपहर एक बजे पेशकार को 25 हजार रुपये रिश्वत लेते हुए दबोच लिया.          

एनआरसी के मुद्दे पर झारखंड सरकार के विधायक लेंगे फैसला

रांची  : सत्ता पक्ष के विधायकों की बैठक में कई अहम मुद्दे उठे.  सत्ता पक्ष के विधायकों ने एनआरपी, एनआरसी और सीएए जैसे मुद्दे पर ठोस निर्णय लेने की बात कही.  साथ ही राज्य में नियुक्ति नियमावली की समीक्षा करने पर भी चर्चा हुई.  गुरुवार को मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन द्वारा बुलायी गयी बैठक में बंधु तिर्की ने एनआरसी-सीएए पर सरकार से स्टैंड लेने का आग्रह किया़ बिहार सरकार की तर्ज पर कार्रवाई करने का आग्रह किया.  मुख्यमंत्री श्री सोरेन का कहना था कि सभी पहलुओं को देखते हुए सरकार फैसला लेगी. बैठक में दूसरे विधायकों का भी कहना था कि गलत नीतियों को नहीं थोपा जाना चाहिए. बैठक में विभागों के नियुक्ति  नियमावली के संशोधन का भी मामला उठा. श्री तिर्की ने इस मामले पर मुख्यमंत्री से कहा कि जेपीएससी, जेएसएससी सहित कई विभागों की नियुक्तियां फंसती रही है. सरकार कोई ठोस निर्णय नहीं लेगी, तो नियुक्ति संभव नहीं होगा.  इस पर दूसरे विधायक भी सहमत थे. इस मामले पर भी मुख्यमंत्री ने संबंधित विभागों को देखने के लिए कहा. बैठक में विधायकों का कहना था कि जिला में कार्यक्रम का बेहतर तरीके से मॉनिटरिंग होनी चाहिए. 

झारखंड राज्य सेवा गारंटी अधिनियम 2011 का लाभ आम लोगों को मिले

रांची : राइट टू सर्विस एक्ट (झारखंड राज्य सेवा गारंटी अधिनियम 2011) का लाभ आमलोगों को समय पर मिले, इसे लेकर मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन सख्त दिख रहे हैं. सीएम के निर्देश पर मुख्य सचिव डीके तिवारी ने सभी जिलों के उपायुक्तों से रिपोर्ट तलब की है. उन्होंने कहा है कि डीसी, बीडीओ, सीओ के अलावा विभिन्न विभागों के अधीनस्थ अफसरों से राइट टू सर्विस एक्ट के तहत  आनेवाली 133 तरह की सेवाओं के संबंध में रिपोर्ट लें. वह खुद सुनिश्चित करें कि आमलोगों को संबंधित विभाग से राइट टू सर्विस एक्ट का लाभ मिले. इसके लिए विभागों की खुद जांच करें. बताया गया कि आये दिन जमीन संबंधी मामले को लेकर विवाद सामने आते हैं. इसके मद्देनजर सर्किल इंस्पेक्टर और अंचलाधिकारी को निर्देश दिया गया है कि वह कर्मचारी की रिपोर्ट को ही आधार मानकर जमीन के मामले में सिर्फ साइन करने तक सीमित नहीं रहें. वह खुद भी यह सुनिश्चित करें कि जिस रिपोर्ट पर वह साइन कर रहे हैं, वह पूरी तरह सही है.गौरतलब है कि धनबाद-रांची नगर निगम, रांची रजिस्ट्री कार्यालय और डोरंडा थाना में छापेमारी के बाद यह बात सामने आयी थी कि किस तरह छोटी-छोटी चीजों के लिए

बिहार में पुलिस और बदमाशों के बीच 2 घंटे तक गोलीबारी

मुंगेर:  बिहार के मुंगेर जिला स्थित हरिमार थाना क्षेत्र के दियारा में पुलिस और बदमाशों के बीच लगातार दो घंटे तक जमकर गोली बारी हुई. इस दौरा पुलिस ने दो बदमाशों को गिरफ्तार करने के साथ भारी मात्रा में हथियार व कारतूस बरामद किया है. पुलिस गिरफ्तार बदमाश की निशानदेही पर आसपास के दियारा एवं गांव में लगातार छापेमारी कर रही है. मिली जानकारी के अनुसार छापेमारी के दौरान पुलिस टीम को एक राइफल मिली है. पुलिस बरामद राइफल की जांच कर रही है.एसपी लिपि सिंह को सूचना मिली थी कि दियारा इलाके में कुछ अपराधी एकजूट होकर किसी वारदात को अंजाम देने की साजिश रच रहे हैं. उन्होंने पटना से एसटीएफ को बुलाया और ऑपरेशन शुरू किया. एसटीएफ और जिला पुलिस के ज्वाइंट ऑपरेशन के दौरान अपराधियों ने गोलीबारी शुरू कर दी, इसके बाद पुलिस ने जवाबी कार्रवाई की. दोनों ओर से करीब दो घंटे तक गोलीबारी हुई, इसके बाद पुलिस ने दो बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया. उसके पास से एक हथियार और भारी मात्रा में कारतूस बरामद की गयी है.      

अर्थव्यवस्था में सुधार अच्छे संकेत

मुंबई :  वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने आर्थिक वृद्धि दर को लेकर जारी किये गये सुस्त आंकड़ों के बाद शुक्रवार को कहा कि अर्थव्यवस्था में स्थिरता दिखायी देना अच्छा संकेत है. चालू वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही में जीडीपी वृद्धि दर 4.7 फीसदी रहने के आधिकारिक आंकड़े जारी होने के कुछ ही देर बाद उन्होंने यह कहा. एक टीवी चैनल के बिजनेस लीडरशिप पुरस्कार समारोह में सीतारमण ने यह साफ किया कि वह आंकड़े में कोई उछाल आने की उम्मीद नहीं कर रही थी.राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय (एनएसओ) के शुक्रवार को जारी आंकड़े के अनुसार देश की आर्थिक वृद्धि दर 2019-20 की तीसरी तिमाही में धीमी पड़कर 4.7 फीसदी रही. इससे पूर्व वित्त वर्ष 2018-19 की इसी तिमाही में जीडीपी वृद्धि दर 5.6 फीसदी थी. हालांकि, चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही की यदि बात की जाए, तो जीडीपी वृद्धि 4.5 फीसदी थी, जो संशोधित आंकड़ों में बढ़कर 5.1 फीसदी हो गयी.अर्थव्यवस्था पर कोरोना वायरस के प्रभाव के बारे में उन्होंने पिछले कुछ दिनों के दौरान उद्योग जगत से बातचीत का हवाला देते हुए कहा कि फिलहाल, घबराने जैसी कोई बात नहीं है, लेकिन अगर दो या तीन सप्

बिहार विधानसभा चुनाव साल के अंत में होने हैं

पटना :  बिहार में विधानसभा चुनाव साल के अंत में होने हैं. इसके पहले ही सियासी गलियारों से लेकर दूरदराज के इलाकों में कमोबेश चुनावी शंखनाद हो चुका है. हालांकि, किसी भी पार्टी ने औपचारिक रूप से चुनावी प्रचार का एलान नहीं किया है. सभी को चुनाव की तारीखों की घोषणा का इंतजार है. लेकिन, राजनीतिक दलों ने चुनाव के ठीक पहले माहौल बनाना शुरू कर दिया है. इसी कड़ी में बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष और आरजेडी के नेता तेजस्वी यादव ने ‘बेरोजगारी हटाओ यात्रा’ की शुरुआत की भगवान राम बन सबरी का खाना होगा बेर श्रीकृष्ण बन ग़रीब सुदामा का धोना होगा पैर।राजद कार्यकर्ताओं से अपील करता हूँ कि भगवान राम और श्रीकृष्ण बन वंचित, उपेक्षित, उपहासित, लांछित और ग़रीब के सुख, दुःख-दर्द को दरअसल, बिहार में सत्ता में लौटने की कोशिश में जुटी आरजेडी और तेजस्वी यादव ‘बेरोजगारी हटाओ यात्रा’ के साथ सोशल मीडिया पर एक्टिव हैं. शनिवार को भी तेजस्वी यादव ने ट्वीट करके पार्टी के कार्यकर्ताओं को बड़ी सलाह दी. तेजस्वी यादव ने आरजेडी कार्यकर्ताओं को ट्वीट में लिखा है कि ‘भगवान राम बन सबरी का खाना होगा बेर, श्रीकृष्ण बन ग

जनता दल यूनाइटेड कार्यकर्ता सम्मेलन में भारी भीड़ बढ़ने की संभावना

पटना  : भट्टाचार्या चौराहा से उत्तर गांधी मैदान की ओर  रविवार को पासधारक व प्रशासनिक वाहनों को छोड़ अन्य वाहनों को जाने की इजाजत नहीं होगी. गांधी मैदान की ओर जाना हो तो ट्रैफिक प्लान देख कर निकलें वर्ना परेशानी होगी.  गांधी मैदान में आयोजित जनता दल यूनाइटेड कार्यकर्ता महासम्मेलन में भारी भीड़ उमड़ने की संभावना को देखते हुए पटना ट्रैफिक पुलिस ने उस दिन का विशेष ट्रैफिक प्लान तैयार किया है जो सुबह छह बजे से कार्यक्रम की समाप्ति तक व यातायात सामान्य होने तक जारी रहेगा. केवल एंबुलेंस, शववाहन, न्यायिक सेवा से जुड़े वाहन व पासधारक वाहनों को इस दौरान प्रतिबंधों से  छूट मिलेगी.  मार्ग जिन पर होगी रोक :  डाकबंगला चौराहा से जेपी गोलंबर तक का मार्ग मात्र पासधारक वाहनों व प्रशासनिक वाहनों के जाने व वापस लौटने के लिए सुरक्षित रहेगा.  डाकबंगला से पूरब की ओर जाने वाले वाहनों को न्यू डाकबंगला, भट्टाचार्या मोड़ से राजेंंद्र पथ की ओर जाने दिया जायेगा. न्यू डाकबंगला से एसपी वर्मा रोड में वाहनों का प्रवेश वर्जित रहेगा.।रामगुलाम चौक से पश्चिम, जेपी गोलंबर की ओर वाहनों का परिचालन प्रतिबंधित रहेगा.   

रांची पटना के बीच चलेगी होली ट्रेन

रांची : होली पर यात्रियों की अतिरिक्त भीड़ को देखते हुए रेलवे ने रांची-पटना-रांची के बीच एक होली स्पेशल ट्रेन विशेष शुल्क के साथ चलाने का निर्णय लिया है. ट्रेन संख्या 08623 रांची से पटना के लिए सात मार्च को चलेगी. ट्रेन रांची से रात 11.55 बजे रवाना होगी. मुरी से प्रस्थान रात 1.20 बजे, बरकाकाना से प्रस्थान रात 2.40 बजे, हजारीबाग टाउन से प्रस्थान सुबह 3.42 बजे, कोडरमा से प्रस्थान सुबह 5.22 बजे, गया से प्रस्थान सुबह 7.20 बजे, जहानाबाद से प्रस्थान सुबह 8.17 बजे व पटना सुबह 9.30 बजे पहुंचेगी. वहीं  ट्रेन संख्या 08624 (पटना-रांची), पटना से आठ मार्च को रवाना होगी. ट्रेन पटना से सुबह 10.45 बजे खुलेगी. ट्रेन  जहानाबाद से प्रस्थान सुबह 11.37 बजे, गया से प्रस्थान दोपहर 1.25 बजे, कोडरमा से प्रस्थान दोपहर 2.47 बजे, हजारीबाग टाउन से प्रस्थान दोपहर 3.22 बजे, बरकाकाना से प्रस्थान शाम 6.50 बजे, मुरी  से प्रस्थान रात 8.25 बजे व रांची रात 9.40 बजे पहुंचेगी. ट्रेन में कुल 18 कोच होंगे. इनमें सामान यान के दो कोच, स्लीपर के 10 कोच,  एसी थ्री टीयर के तीन व अनारक्षित तीन कोच होंगे.   रांची-भागलपुर ट्

क्रेन से कुचलकर आंगनवाड़ी सहायिका की मौत

पटना   : बाइपास पर चांगर के पास शुक्रवार की सुबह 9:09 बजे  सड़क क्रॉस रही आंगनबाड़ी सहायिका प्रमिता देवी (45 वर्ष) की क्रेन से कुचल कर मौत हो गयी. प्रमिता के साथ उनकी मां सुमित्रा देवी (70 वर्ष) भी मौजूद थीं, उनका पैर क्रेन के नीचे आ गया और वह बुरी तरह से घायल हो गयी हैं. उन्हें कंकड़बाग में मौजूद निजी नर्सिंग होम में भर्ती कराया गया है. उनकी हालत नाजुक बनी हुई है. वहीं क्रेन का चालक मौके से फरार हो गया. रामकृष्णानगर थाना क्षेत्र की एनटीपीसी कॉलोनी की रहने वाली सत्येंद्र प्रसाद की पत्नी प्रमिता के साथ दुर्घटना उस समय हुई, जब वह करबिगिहया स्थित बर्फ फैक्ट्री के पीछे अपने आंगनबाड़ी केंद्र पर जाने के लिए हाइवे क्रॉस कर रही थीं. घटना के बाद मृतका की बहन सरमिता परिजनों के साथ पहुंची और स्थानीय लोगों के साथ मिलकर हाइवे जाम कर दिया.  थोड़ी देर बाद 20-25 आंगनबाड़ी सहायिकाएं भी वहां पहुंच गयीं. घटना की सूचना कंकड़बाग, रामकृष्णा नगर, जक्कनपुर समेत अन्य थानों की पुलिस मौके पर पहुंच गयी. पुलिस ने स्थानीय लोगों को समझा-बुझाकर हटा दिया, लेकिन आंगनबाड़ी सहायिकाएं नहीं हटीं. पुलिस ने लाश उठाने

हिंसा पीड़ितों को मुआवजा बांटेगी दिल्ली सरकार

नयी दिल्लीः देश की राजधानी दिल्ली में के उत्तर पूर्व क्षेत्र में सीएए को लेकर हुई हिंसा के बाद अब दो दिन से शांति है. इस हिंसा में कम से कम 42 लोग मारे गए जबकि करीब 200 लोग घायल हुए. हिंसाग्रस्त क्षेत्रों का माहौल अब धीरे-धीरे सामान्य होने लगा है .कुछ इलाकों में दुकानें खुलनी शुरू हो गईं है. इस मामले में दिल्ली पुलिस ने अब तक 148 एफआईआर दर्ज की हैं. 630 लोगों को पकड़ा है, जिसमें कुछ की गिरफ्तारी भी हुई है. उत्तर पूर्वी दिल्ली में सुरक्षा के लिए भारी मात्रा में सुरक्षाकर्मी तैनात हैं. पढ़ें पल पल की हिंसा की किसी भी साजिश को कुचलने के लिए दिल्ली पुलिस और पैरा मिलिट्री फोर्स के जवानों ने रात भर हिंसा ग्रस्त इलाको में गश्त किया. मौजपुर, करावल नगर, भजनपुरा, सीलमपुर और जाफराबाद जैसे इलाकों में पुलिस की भारी बंदोबश्त है. पुलिस एहतियातन लोगों से सावधानी बरतने की बात कह रही है और अफवाहों से बचने की अपील कर रही  - दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल आज केंद्रीय मंत्री हरदीप पुरी से मुलाकात  करेंगे.    - दिल्ली सरकार के ऐलान के मुताबिक व्यस्क मृतकों को 10 लाख रुपये की मदद दी जाएगी.

सीएए मेघालय में बवाल एक की की मृत्यु इंटरनेट बंद

शिलांगः संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) पर अब देश के पूर्वी राज्य मेघालय में झड़प की खबर है. राज्य के पूर्वी खासी हिल्स जिले में संशोधित नागरिकता कानून सीएए और इनर लाइन परमिट पर एक बैठक के दौरान केएसयू सदस्यों और गैर आदिवासियों के बीच झड़पों में एक व्यक्ति की मौत हो गई जिसके बाद छह जिलों में इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी गई है. अधिकारियों ने बताया कि राज्य के छह जिलों पूर्वी जयंतिया हिल्स, पश्चिम जयंतिया हिल्स, पूर्वी खासी हिल्स, री भोई, पश्चिमी खासी हिल्स और दक्षिण पश्चिम खासी हिल्स में शुक्रवार रात से 48 घंटों के लिए मोबाइल इंटरनेट सेवाएं निलंबित कर ।अधिकारियों ने शनिवार को बताया कि सीएए विरोधी और आईएलपी के समर्थन में हुई बैठक के दौरान खासी छात्र संघ के सदस्यों और गैर आदिवासियों के बीच झड़प हो गई. यह बैठक शुक्रवार को जिले के इचामति इलाके में हुई थी. बैठक के दौरान केएसयू के सदस्यों के किसी बात पर अचानक गैर-आदिवासी लोगों के बीच झड़प शुरू हो गईं. इस दौरान केएसयू के एक सदस्य और एक पुलिस अधिकारी गंभीर रूप से घायल हो गए. उनका स्थानीय अस्पताल में उपचार के लिए भर्ती कराया गया. जहां केएसयू

सरकार की जिम्मेदारी है सदन को चलाना वह कैसे चलाना चाहती है

रांची  : पूर्व मुख्यमंत्री एवं भाजपा विधायक दल के नेता बाबूलाल मरांडी ने कहा कि सदन को सुचारू रूप से चलाना सरकार की पहली जिम्मेवारी है. भाजपा सकारात्मक विपक्ष की भूमिका का निर्वहन करना चाहती है. लेकिन सरकार की नीयत ठीक नहीं है. सरकार अपनी गलती छिपाने के लिए और गलत निर्णय ले रही है. यह सरकार नयी योजना क्या शुरू करेगी, पहले से चल रही कल्याणकारी योजनाओं को भी बंद कर रही है. इससे जनता में निराशा है. विधि व्यवस्था के सवाल पर यह सरकार निकम्मी हो गयी है. प्रदेश में हत्या ,बलात्कार की घटनाएं बढ़ गयी हैं. चाईबासा में आदिवासियों के नरसंहार पर सरकार मौलोहरदगा की घटना से सरकार की पोल खुल गयी है. श्री मरांडी कार्यालय में नेता विपक्ष के लिए बनाये गये नये कार्यालय में बैठे. उन्होंने कहा कि सरकार में शामिल घटक दल झामुमो, राजद, कांग्रेस को अपना घोषणा पत्र निकाल कर धरातल पर उतारना चाहिए. सरकार के मुखिया ने खजाना खाली का रोना शुरू कर दिया है. यह जनता के प्रति वादा खिलाफी है.   नेता प्रतिपक्ष के सवाल पर उन्होंने कहा कि विधानसभा अध्यक्ष को इस संबंध में विधि सम्मत निर्णय लेना है. हम तो पार्टी के सिपा

टीवी के मशहूर एक्ट्रेस श्वेता तिवारी ने हाल ही में अपनी कुछ तस्वीरें शेयर कर दी

टीवी की मशहूर एक्ट्रेस श्वेता तिवारी ने हाल ही में अपनी कुछ तस्वीरें शेयर कर दी हैं जो बहुत खूबसूरत हैं. जी दरअसल पिछले कुछ दिनों से अपने छोटे भाई निधान की शादी को लेकर चर्चा में है और अब तक श्वेता तिवारी ने सोशल मीडिया पर भाई की शादी से जुड़ी कई तस्वीरें शेयर की है। जी दरअसल इसी बीच श्वेता तिवारी पिंक कलर के गाउन में बेहद खूबसूरत दिखाई दी जो आप देख सकते हैं. श्वेता तिवारी ने भाई की शादी को बहुत एन्जॉय किया है जो उनकी शेयर की गई तस्वीरों में साफ़ नजर आया है. श्वेता भाई निधान तिवारी की शादी के दौरान सोशल मीडिया पर कुछ ज्यादा ही एक्टिव दिखाई दी और इस दौरान के हर फोटो को उन्होंने अपने इंस्टाग्राम पर शेयर कर दिया. वहीं हाल ही में वह किसी खूबसूरत लड़की से कम नहीं नजर आईं. फोटो शेयर कर उन्होंने लिखा है Sangeet Night #nidwedsyas #bhaikishaadiStyledby @stylingbyvictor @sohail__mughal__Outfit @jiyabyveerdesignAccessories @the_jewel_galleryRing @izaarajewellery।इस समय श्वेता बहुत दिलकश दिखाई दे रहीं हैं जो आप देख सकते हैं. इसी के साथ श्वेता तिवारी ने अपनी बेहद खूबसूरत तस्वीरें शेयर की है और लिखा ह

सबसे उम्रदराज खिलाड़ी प्रवीण तांबे को डिसक्वालीफाई कर दिया

इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 13वें सीजन में सबसे उम्रदराज खिलाड़ी प्रवीण तांबे को डिस्क्वालिफाई कर दिया है. उन्होंने 2018 में क्रिकेट से संन्यास लेकर शारजाह में टी-10 लीग में खेला था. हालांकि बाद में उन्होंने अपना संन्यास वापस ले लिया था. उन्होंने कुछ और विदेशी टी-20 लीग भी खेला था जिसको लेकर यह कार्रवाई की गई है. बीसीसीसी के नियमों के अनुसार कोई भी खिलाड़ी बिना संन्यास लिए विदेशी लीग में भाग नहीं ले सकता।रिपोर्ट्स के अनुसार आईपीएल के 13वें सीजन के लिए तांबे को कोलकाता नाइट राइडर्स ने उनकी बेस प्राइस 20 लाख में खरीदा था. तांबे पिछली बार 2016 में इस लीग में खेले थे. आईपीएल अध्यक्ष बृजेश पटेल के अनुसार तांबे के खिलाफ की गई बोर्ड द्वारा कार्रवाई की जानकारी केकेआर की फ्रेंचा को दे दी गई है।जानकारी के लिए हम बता दें तांबे आईपीएल में नहीं खेल पाएंगे. प्रवीण तांबे ने साल 2018 में संन्यास का एलान करते हुए मुंबई क्रिकेट संघ (एमसीए) को इस्तीफा दे दिया था. विदेशी लीग खेलने के बाद उन्होंने इस्तीफा वापस लेकर मुंबई लीग में भाग लिया था.

महिला क्रिकेटर शेफाली वर्मा मचा रही है धमाल

मुंबई:  भारतीय महिला क्रिकेटर शेफाली वर्मा इस समय महिला टी-20 वर्ल्ड कप में धमाल मचा रही हैं. उन्हें हर ओर से वाहवाही मिल रही है. ऐसा लग रहा है कि टीम इंडिया को नया बैटिंग सुपरस्टार मिल गया है. अब भारतीय टीम के 2 पूर्व दिग्गज बल्लेबाज़ों ने शेफाली की प्रशंसा की है. शेफाली फिलहाल बेहतरीन फॉर्म में चल रही है सहवाग ने अपने ट्वीट में शेफाली को 'रॉकस्टार' बताया है, 27 फरवरी को न्यूजीलैंड के विरुद्ध शेफाली की शानदार बल्लेबाजी को देखने के बाद वीरू ने ट्वीटर पर लिखा, “वाह, भाई वाह. शेफाली वर्मा तो रॉकस्टार हैं.” सचिन तेंदुलकर ने भी शेफाली की प्रशंसा की है. वो उनके खेल को देख कर बेहद खुश हैं. शेफाली ने भी सहवाग को जवाब देते हुए कहा है कि, "आपकी तारीफ के लिए शुक्रगुजार हूं, आपका समर्थन मेरे लिए अहम है, शुक्रिया."  

सुप्रीम कोर्ट ने कर्नाटक के भाजपा मंत्री जनार्दन रेड्डी की याचिका पर जवाबी हलफनामा दायर करने के लिए सीबीआई को समय दिया

सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को कर्नाटक के भाजपा मंत्री जी जनार्दन रेड्डी की याचिका पर जवाबी हलफनामा दायर करने के लिए केंद्रीय जांच ब्‍यूरो को अतिरिक्‍त समय दिया गया है।इसके साथ ही याचिका में जमानत की शर्तों में स्‍थायी राहत की मांग के साथ कर्नाटक के बेल्‍लारी और आंध्र प्रदेश के कडपा जाने की इजाजत मांगी गई है। वहीं जस्‍टिस अरुण मिश्रा और इंदिरा बैनर्जी ने इस मामले को आगे की सुनवाई के लिए लिस्‍ट कर लिया है। अगली सुनवाई 16 मार्च को की जाएगी। इससे पहले कोर्ट ने सीबीआई को नोटिस जारी किया था और याचिका पर उसकी प्रतिक्रिया मांगी थी। बीते साल कोर्ट ने 8 जून को दो हफ्ते के लिए रेड्डी को बेल्‍लारी जिला जाने की अनुमति दी थी जिससे वे अपने बीमार ससुर से मिल सकें।  इसके लिए रेड्डी की ओर याचिका दायर कर अनुमति मांगी गई थी। सुप्रीम कोर्ट ने रेड्डी को 2015 में अवैध खनन मामले में जमानत देते हुए उनके गृह नगर बेल्लारी और आंध्र प्रदेश के अनंतपुर व कडप्पा जाने पर रोक लगा दी थी। बीते साल जून में सुप्रीम कोर्ट ने रेड्डी के खिलाफ खनन मामलों में चार्जशीट दायर करने में हो रही देरी को लेकर केंद्रीय जांच ब्यूरो की क्

एक तरफ खुशी कुछ ही देर में मातम में तब्दील हो गई

  इंदौर : एक तरफ ख़ुशी कुछ ही देर में मातम में तब्दील हो गई. यह मामला श्याम नगर एनएक्स में रहने वाले कश्यप परिवार ने बीते बुधवार सुबह मंझली बेटी की विदाई की और शाम को इंजीनियर बेटे और बैंक अफसर बेटी सड़क हादसे का शिकार हो गई. वहीं, शादी के अगले ही दिन परिवार के इकलौते बेटे 20 वर्षीय आयुष कश्यप की अर्थी उठी तब पूरा परिवार में मातम छा गया था.  परिजन के मुताबिक उनकी बाइक को किसी वाहन ने टक्कर मारी थी, जबकि पुलिस का तर्क है कि बाइक डिवाइडर से टकराई थी. जख्मी बहन के होश में आने पर ही स्थिति स्पष्ट होगी. 25 फरवरी को बहन दीपिका की शादी थी. शाम को दूसरी बहन प्रियंका की अहमदाबाद के लिए फ्लाइट थी. आयुष बाइक से प्रियंका को एयरपोर्ट छोड़ने निकला था. एरोड्रम थाना क्षेत्र की सीमा में उनकी गाड़ी दुर्घटनाग्रस्त हो गई. राह चलते लोगों ने पुलिस और एम्बुलेंस को फोन कर घायलों को अस्पताल भिजवाया. आयुष की कुछ ही देर बाद मौत हो गई, जबकि प्रियंका 24 घंटे पश्चात् ही होश में आई है.    परिजन के मुताबिक आयुष तीन बहनों अर्चना, दीपिका और प्रियंका का इकलौता भाई था. वहीं, अर्चना की भी शादी हो

आप घर छोड़कर जा रहे हैं तो पुलिस करेगी घर की देखभाल

भोपाल : यदि आप भी बाहर जाने  की प्लानिंग कर रहे है और अपना घर सूना छोड़ जाने को लेकर चिंता में है. तब अब  आप इसकी सूचना वेबसाइट के माध्यम से राजधानी की पुलिस को अवश्य दे दें. आप सोच रहे होंगे कि पुलिस आखिर क्या करेगी इसमें तो आपको बता दे कि आपके बाहर जाने पर पुलिस गश्ती आपके घरों की विशेष निगरानी करेगी. राजधानी की पुलिस ने अपनी वेबसाइट www.bhopalpolice.com पर नए फीचर्स जोड़कर इसे री-लॉन्च कर दिया है।इसमें करीब एक दर्जन से ज्यादा नई सुविधाएं शहर के लोगों के लिए जोड़ी गई हैं. इसमें लोग अपने घर से लंबे समय तक बाहर जाने के संबंध में सूचना दे सकेंगे. वहीं, पुलिस इन घरों की विशेष रूप से निगरानी रखेगी. दरअसल, इसकी जानकारी सिर्फ थाना प्रभारी या उससे ऊपर स्तर के अधिकारी को रहेगी. इस वेबसाइट के माध्यम से लोग अपने गुम या चोरी हुए मोबाइल की शिकायत भी दायर करा सकेंगे. इसके पश्चात् अपनी शिकायत की स्थिति भी ट्रैक कर सकेंगे।इसी प्रकार वरिष्ठ नागरिकों की देखभाल के लिए भी इसमें सुविधा दी गई है. जिसमें ऐसे बुजुर्ग व्यक्ति जो घर में अकेले रहते हैं वे भी अपनी जानकारी वेबसाइट के माध्यम से पुलिस को उपलब्ध करा स

मध्य प्रदेश सरकार ने फिल्म जगत को बढ़ावा देने के लिए उठाया कदम

भोपाल : आईफा अवार्ड के पश्चात् मध्य प्रदेश सरकार ने प्रदेश में फिल्म जगत को बढ़ावा देने के लिए एक और अहम् कदम उठाया है. जिसमें मध्य प्रदेश के पर्यटन मंत्रालय ने मुंबई फिल्म सिटी के लगभग एक दर्जन से ज्यादा बड़े फिल्म प्रोड्यूसरों और डायरेक्टरों से गुजारिश की है कि वह प्रदेश के अलग-अलग हिस्सों में आकर फिल्म की शूटिंग करें. यह खबर मध्य प्रदेश के पर्यटन मंत्रालय की ओर से लिखे गए इस पत्र में फिल्म प्रोड्यूसरों और डायरेक्टरों को कहा गया है कि प्रदेश में विदेशी पर्यटक निरंतर आते रहते है और प्रदेश में कई ऐसे दर्शनीय स्थल है. जो पर्यटकों के आकर्षण का केंद्र बने हुए है. वहीं, सरकार ने पर्यटन मंत्रालय की संयुक्त संचालक मोहिनी भड़कमकर ने पत्र में लिखा की फिल्म प्रोड्यूसर और डायरेक्टर मध्य प्रदेश में फिल्मों की शूटिंग करते है तब उन्हें प्रदेश सरकार सब्सिडी और तमाम तरह की दूसरी रियायतें उपलब्ध कराएगी. वहीं, सरकार ने अपनी फिल्म नीति से जुड़े तमाम मुद्दों को फिल्म प्रोड्यूसरों डायरेक्टरों को पत्र लिखकर जानकरी दी हैं.मध्य प्रदेश सरकार ने इन फिल्म प्रोड्यूसर डायरेक्टरों को पत्र भेजा है जिसमें आशुतोष गो

आज चढ़ाई जाएगी सोनिया गांधी की ओर से ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती की दरगाह पर चादर

अजमेर: 1 मार्च को अजमेर शरीफ दरगाह गरीब नवाज में कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी की चादर पेश की जाएगी। अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के अल्पसंख्यक विभाग के चेयरमैन नदीम जावेद ये चादर लेकर 29 तारीख को अजमेर पहुंचेंगे। इस दौरान राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत, डिप्टी सीएम सचिन पायलट, प्रदेश कांग्रेस प्रभारी अविनाश पांडे अजमेर दरगाह मौजूद रहेंगे। कांग्रेस के सभी नेता सोनिया गांधी की तरफ से भेजी गई चादर को अजमेर शरीफ की दरगाह पर चढ़ाएंगे और देश के लिए अमन चैन की दुआ मांगेंगे। इस सिलसिले में दिल्ली में सोनिया गांधी ने देश के मुस्लिम नेताओं के साथ बैठक की और गरीब नवाज के दरबार में चढ़ाने के लिए चादर भेजी। इस अवसर पर राजस्थान से प्रदेश कांग्रेस कमेटी अल्पसंख्यक विभाग के चेयरमैन आबिद कागज़ी और राजस्थान प्रभारी शमीम अल्वी उपस्थित रहे।जानकारी के लिए आपको बता दें कि 26 फरवरी को विश्व प्रसिद्ध ख्वाजा गरीब नवाज की बारगाह में 808वें वार्षिक उर्स के अवसर पर देश के पीएम नरेंद्र मोदी की ओर से भी मखमली चादर और अकीदत के फूल पेश किए गए। इसके साथ ही देश में शांति और समृद्धि की दुआ मांगी गई।

लालू मंडल का कैरियर चौपट

रानू मंडल इस समय बॉलीवुड जगत का जाना-माना नाम बन चुकीं हैं. उनके उनके टैलेंट के कारण लोगों से काफी प्यार मिला और उसी ने उन्हें स्टार बना दिया। ऐसे में एक समय था जब रानू मंडल ने काफी सुर्खियां हांसिल की थी लेकिन स्टार बनने के बाद रानू मंडल को घमंड हो गया और उनका व्यवहार पूरी तरह से बदल गया. जी हाँ, बीते दिनों सोशल मीडिया पर रानू मंडल के कई वीडियो वायरल हुए जो उन्हें ट्रोल कर गए और इसी कारण से पिछले काफी समय से वे गुमनामी की जिंदगी बिता रहीं हैं। इस समय कोई भी नहीं जानता कि रानू मंडल क्या कर रही है और कहां रह रही है। जी दरअसल बीते काफी समय से सोशल मीडिया पर रानू मंडल को लगातार ट्रोल किया जा रहा है क्योंकि रानू मंडल ने स्टार बनने के बाद अपने फैंस के साथ काफी बुरा व्यवहार किया था। वहीं उसके बाद से लोग यह समझने लगे थे कि स्टार बनने के बाद रानू मंडल घमंडी हो गई है और इसी कारण उन्हें दोबारा काम नहीं मिला। अब लोग रानू को पसंद नहीं करते हैं और वह जमकर ट्रोलिंग का शिकार होती हैं.सामने आई एक रिपोर्ट के मुताबिक रानू मंडल के जीवन पर बायोपिक फिल्म बनने जा रही है और उसमें रानू मंडल अपनी आवाज दे सकती

अमेरिका के बयान से पाकिस्तान ने पलटा अपना बयान

भारत में नमस्‍ते ट्रंप' को लेकर विशाल स्वागत कार्यक्रम किया गया था. लेकिन इस आयोजन के बाद पाकिस्‍तान ने राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप के बयान को अपने पक्ष में बताया था. पाकिस्‍तान की इमरान सरकार के मंत्रियों ने ट्रंप के बयान की अपने तरह से व्‍याख्‍या की थी. ट्रंप के यात्रा के दो दिन बाद पाकिस्‍तान अपने ही बयान से पलट गया है. भारत और अमेरिका के रक्षा सौदों से उसकी नींद उड़ गई है. इसने पाकिस्‍तान की बेचैनी को बढ़ा दी है. पाकिस्‍तान की सरकार जो ट्रंप के बयान पर अपनी पीठ थपथपा रही थी वह अचानक यूटर्न ले ली. आखिर उसकी चिंता की क्‍या है बड़ी वजह. रक्षा सौदे से पाकिस्‍तान क्‍यों धबड़ाया. आखिर क्‍या है AH-64E अपाचे और एमएच -60 रोमियो हेलिकॉप्टर. आपकी जानकारी के लिए बता दे कि भारत और अमेरिका के बीच हाल में हुए रक्षा सौदे ने पाकिस्तान की बेचैनी बढ़ा दी है. पाकिस्‍तान ने कहा इससे दोनों देशों के बीच हथियारों की होड़ बढ़ेगी. अमेरिका और भारत के बीच तीन अरब डाॅलर रक्षा सौदे पर पाकिस्तान विदेश मंत्रालय ने अपनी बड़ी चिंता जाहिर की है. ट्रंप की भारत यात्रा के दौरान दोनों देशों के बीच हुए अरबों डॉलर के रक्ष

पाकिस्तान को 6 बिलियन अमेरिकी डॉलर के बेल आउट पैकेज के लिए दूसरी समीक्षा की कुछ शर्तों को पूरा करना पड़ेगा

  दुनियाभर के देशों के लिए सबसे अहम मानी जानी वाली अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (IMF) ने कहा है कि पाकिस्तान को 6 बिलियन अमरीकी डालर के बेलआउट पैकेज के लिए दूसरी समीक्षा की कुछ शर्तों को पूरा करना पड़ेगा. यह दूसरा अवसर है जब पाकिस्तान के प्रदर्शन की समीक्षा की गई है. साथ ही, आइएमएफ का एक दल छह अरब डॉलर (करीब 42 हजार करोड़ रुपये) के बेलआउट समझौते के तहत पाकिस्तान के प्रदर्शन की समीक्षा कर रहा है। इस बेलआउट पैकेज के लिए गत जुलाई में समझौता हुआ था. यह आर्थिक मदद पाकिस्तान की बदहाल अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए दी गई है.मीडिया रिपोर्ट के अनुसार पाकिस्तान के वित्त मंत्रालय ने अगस्त 2018 में आईएमएफ से बेलआउट पैकेज के लिए संपर्क किया जब इमरान खान सरकार ने सत्ता संभाली थी. पाकिस्तान के अखबर डोन न्यूज ने आईएमएफ के मिशन प्रमुख अर्नेस्टो रामिरैस रिगो के हवाले से कहा है कि आईएमएफ स्टाफ और पाकिस्तानी अधिकारी दूसरी समीक्षा के लिए नीतियों और सुधारों के समझौते पर पहुंच गए हैं.साथ ही रिपोर्ट में आगे कहा गया है कि प्रधानमंत्री इमरान खान के वित्त और राजस्व हाफिज शेख, स्टेट बैंक ऑफ पाकिस

मुजफ्फरनगर नगर पालिका परिषद के वार्ड 22 में 2 सड़कों का उद्घाटन

मुजफ्फरनगर। नगर पालिका चेयरपर्सन अंजू अग्रवाल द्वारा खालापार वार्ड संख्या 22 में दो सड़कों का उद्घाटन किया। एक सड़क गुल्लर वाली और एक पड़ाव वाली पिछले काफी समय से जनता की मांग चल रही थी की इन सड़कों को बनवाया जाए कुछ समय पहले पालिकाध्यक्ष ने इन सड़कों का खुद निरीक्षण किया था निरीक्षण के दौरान सड़कें खस्ता हालत में मिली थी तो तुरंत पालिकाध्यक्ष ने उन सड़कों को 14वें वित्त से बनवाने का आदेश दिया था। शुक्रवार को उन्ही सड़को का उद्घाटन था। पालिकाध्यक्ष अंजू अग्रवाल के पहुंचने पर स्थानीय नागरिकों द्वारा नौशाद पहलवान के नेतृत्व में पालिकाध्यक्ष का फूलों की बरसात कर स्वागत किया और पालिकाध्यक्ष के नाम के नारे लगाए इस अवसर पर बोलते हुए पालिकाध्यक्ष ने कहा की 50 के 50 वार्ड मेरे अपने हैं जिस वार्ड में भी मुझे बुलाया जाएगा और समस्या बताई जाएगी मैं उसका तुरंत निराकरण करूंगी आगे पालिकाध्यक्ष ने कहा में अपने आप को चेयरमैन नहीं मानती हूं मैं अपने आपको केयरटेकर मानती हूं उन्होंने कहा मुझे शहर के हर वार्ड हर मोहल्ले हर गली से वोट मिला है मेरा कर्तव्य बनता है कि मैं आप लोगों की सेवा करू। पालिकाध्यक्ष अं

स्टेनोग्राफर गोपाल त्यागी ने संभाला चरथावल नगर पंचायत का चार्ज

मुजफ्फरनगर। नगरपालिका परिषद मुजफ्फरनगर की राजनीति के केंद्र बिंदू बने स्टेनोग्राफर गोपाल त्यागी ने शह और मात के चल रहे खेल के बीच आज जिलाधिकारी के निर्देशानुसार चरथावल नगर पंचायत में कार्यभार ग्रहण कर लिया। इस दौरान इस मामले में नया ट्विस्ट यह जुड़ गया है कि गोपाल त्यागी पालिका अध्यक्ष मुजफ्फरनगर के आदेशों के चलते चरथावल नगर पंचायत में केवल दो दिन ही कार्य देखेंगे, शेष चार दिन वह नगरपालिका परिषद मुजफ्फरनगर में अपने सेवा पूर्व की भांति जारी रखेंगे। इस शह और मात के खेल में पालिकाध्यक्ष हार कर भी जीत गयीं तथा विरोधी जीत का भी हार गये हैं। अब आगे राजनीति के इस जारी खेल में अगला दांव क्या खेला जाता है। इस पर सभी की निगाहें टिकी हैं।  दिनों से नगरपालिका परिषद मुजफ्फरनगर में चल रही खींचतान शह और मात के खेल के रूप में सामने आती रही है। पालिका अध्यक्ष श्रीमती अंजू अग्रवाल के खिलाफ कुछ प्रकरणों में मण्डल स्तर से जारी आदेशों को उनके विपरीत खेमे की जीत के रूप में देखा गया, जबकि इसके बाद कुछ निर्णयों ने विपक्षी खेमे में हलचल पैदा की। मामला मुख्यमंत्री के दरबार तक पहुंचा और इस शह-मात के खेल में शासन

दो कारों की भिड़ंत में चार लोग घायल

खतौली। हाईवे बाईपास पर दो कारों के बीच हुई भिड़न्त में चार लोग घायल हो गये। हादसा एक कार चालक के तेज गति से दूसरी कार को ओवरटेक करने के चलते होना बताया जा रहा है। मुजफ्फरनगर निवासी मौहम्मद सौकत पुत्र शाहनवाज अपने भाई वसीम व परिचित मुजीब पुत्र नवाजिश के साथ हुंडई कार द्वारा मेरठ जा रहा था। रतनपुरी थाना क्षेत्र में बाईपास हाइवे पर स्विफ्ट कार चालक ने तेजी से ओवरटेक करने के चक्कर मे कार में पीछे से टक्कर मार दी। हादसे में मौहम्मद सैफ, वसीम, मुजीब के अलावा स्विफ्ट कार चालक विपिन पुत्र ममचन्द निवासी गाँव कासमपुर थाना नकुड़ घायल हो गये। सूचना पर पहुँची रतनपुरी पुलिस ने घायलों को खतौली के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में भर्ती कराया। चिकित्सकों ने चारों घायलों को जिला चिकित्सालय रैफर कर दिया।

अवैध शराब की भट्टी का भंडाफोड़

चरथावल। पुलिस ने ग्राम रोनीहरजीपुर में चल रही अवैध शराब की भट्टी का भंडाभोड़ करते हुए एक व्यक्ति को भट्टी चलाते मौके से गिरफ्तार किया है। पुलिस ने मौके से शराब बनाने के उपकरण, लहन व कच्ची शराब बरामद की है।पुलिस ने पकड़े गए आरोपी को जेल भेज दिया। क्षेत्राधिकारी सदर कुलदीप कुमार के कुशल निर्देशन में थानाध्यक्ष चरथावल सूबे सिंह के नेतृत्व में बिरालसी चौकी इंचार्ज संदीप चौधरी ने पुलिस टीम के साथब अवैध शराब की भट्टी का भंडाभोड़ करते हुए एक व्यक्ति को भट्टी चलाते मौके से गिरफ्तार किया है। दरअसल चरथावल पुलिस को मुखबिर द्वारा सूचना मिली कि चरथावल क्षेत्र के ग्राम रोनी हरजीपुर में अवैध शराब बनाई जा रही है। मुखबिर की सूचना पर थानाध्यक्ष चरथावल सूबे सिंह यादव के नेतृत्व में बिरालसी चौकी इंचार्ज सन्दीप कुमार ने पुलिस टीम के साथ मिलकर क्षेत्र के गाँव रोनीहरजीपुर मे एक घर पर छापेमारी करते हुए शराब की भट्टी चलाते हुए सिपट्टर पुत्र बालकिशन को रंगेहाथ गिरफ्तार किया है। पुलिस ने मौके से शराब बनाने के उपकरण, लहन व कच्ची शराब बरामद की है।

फुफेरे भाई की बारात में आए नवयुवक की बस की चपेट में आकर मौत

मोरना। फुफेरे भाई की बारात में आये नवयुवक की बस की चपेट में आकर मौके पर दर्दनाक मौत हो गयी। गुस्साये ग्रामीणों ने बस में तोड़तोड़ की व मुआवजे की माँग को लेकर शव को मार्ग पर रखकर घण्टों जाम लगाया। उच्चाधिकारियों के आश्वासन के बाद परिजन शव का पोस्टमार्टम कराने को लेकर तैयार हुए। पुलिस ने पंचनामा कर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।  थाना ककरौली क्षेत्र के गाँव खाईखेड़ा में जगतसिंह सैनी की पुत्री की बारात खतौली थाना क्षेत्र के गाँव पलड़ी से आई हुई थी, जिसमें दूल्हा अर्जुन के मामा का बेटा 16 वर्षीय मोनू पुत्र पप्पू सैनी निवासी गाँव महलका निहोरी थाना फलावदा जनपद मेरठ भी आया हुआ था। भोजन के उपरान्त दूल्हे की घुड़चढ़ी की तैयारी चल रही थी। गाँव स्थित प्राथमिक विद्यालय के सामने मोनू सड़क के पार जा रहा था कि तभी मोरना की ओर से आ रही प्राइवेट बस यूपी 12 एटी8819 ने मोनू को रौंद दिया, जिससे मोनू की मौके पर ही दु:खद मौत हो गयी। मोनू की मौत से गुस्साएं ग्रामीणों ने बस चालक के साथ मारपीट कर बस में तोडफोड़ की। सूचना पर पहुँची डायल 112 पुलिस ने बस चालक उमरदीन को गिरफ्तार कर लिया व घटना की जानकारी की था

गंग नहर में नहाते समय युवक की डूबने से मौत

मीरांपुर। गंगनहर कुतुबपुर पर घूमने गये एक युवक की नहाते समय नहर में डूबने से मौत हो गयी। दो घंटे बाद बामुश्किल युवक को गम्भीर हालत में नहर से निकाला गया। अस्पताल में भर्ती कराने के बाद डाक्टरो ने उसे मृत घोषित कर दिया।  मौहल्ला मुश्तर्क निवासी राज पुत्र राजा कुरैशी उम्र 15 वर्ष अपने मित्रो के साथ दोपहर करीब 12.30 पर अपने मित्रो के साथ गंगनहर पर घूमने के लिये गया। वहां जाकर अपने मित्रो से नहाने के लिये कहने लगा लेकिन सभी मित्रों ने राज को नहाने के लिये मना किया, लेकिन वह अपनी जिद पर अडा रहा। जिद के चलते कपडों सहित गंग नहर में पुल से नहाने के लिये छलांग लगा दी। कूदते ही राज का सिर किसी पत्थर से टकरा गया और पानी में समा गया। घटना की सूचना उसके मित्रो ने राज के परिजनो को दी तथा 112 पर भी की गयी। मौके पर थानाध्यक्ष एच.एन.सिंह व सीओ शकील अहमद पुलिसबल के साथ पहुंच गये। जनता व पुलिस के सहयोग से रस्से आदि डालकर उसको गम्भीर अवस्था में नहर से निकाला गया, तुरन्त पुलिस ने उसे जानसठ सीएचसी उपचार के लिये भेजा परन्तु चिकित्सको ने उसे मृत घोषित कर दिया। घटना के बाद मृतक के परिवार में कोहराम मच गया। पुल

उत्तर प्रदेश में सस्ती हो सकती है बिजली

लखनऊ। राज्य में बिजली की कमी नहीं होने के दावा करते हुए उत्तर प्रदेश सरकार ने शुक्रवार को कहा कि नगद वित्तीय घाटे की भरपाई होने के बाद बिजली की दरों में कमी करने पर विचार किया जायेगा। विधानसभा में प्रश्नकाल के दौरान विपक्षी सदस्यों के सवालों का जवाब देते हुए ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने कहा कि उनकी सरकार ने बिजली के क्षेत्र में कई सुधार किये गये हैं, जिसके अनुकूल परिणाम सामने आने लगे है हालांकि नगद वित्तीय घाटा अभी भी करीब 13 हजार करोड़ रूपये के करीब बना हुआ है। उन्होंने कहा कि हम केवल तभी सस्ती बिजली की अपेक्षा कर सकते हैं, जब वित्तीय घाटे की भरपाई पूरी हो जाये। हालांकि बिजली के दामों में तुरंत कमी की मांग पर अड़े समाजवादी पार्टी (सपा) और बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के सदस्य मंत्री के जवाब से संतुष्ट नहीं हुये और शोरशराबा करते हुये सदन से वाकआउट कर गये। बिजली की खस्ताहालत का जिम्मेदार पूर्ववर्ती सरकार को ठहराते हुए श्री शर्मा ने कहा कि पिछली सरकार ने बिजली खरीद समझौता (पीपीए) ऊंची दरों पर किया जो घाटे का सबब बना और इसकी भरपाई के लिये बिजली की दरों में बढोत्तरी के लिये बाध्य होना पड़ा।

गाजियाबाद के संजय नगर कॉलोनी में और परिवार के 4 लोगों की मौत

गाजियाबाद। दिल्ली से सटे उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद जिले में साहिबाबाद थाना इलाके के अर्थला गांव में शक्रवार सुबह एक ही परिवार के चार लोगों की मौत हो गई। नगर पुलिस अधीक्षक मनीष मिश्रा ने घटना की पुष्टि करते हुए बताया कि सुबह करीब 10 बजे पुलिस को सूचना मिली कि अर्थला इलाके की संजय नगर कालोनी के एक मकान में किसी ने आत्महत्या कर ली है। सूचना के आधार पर पुलिस मौके पर पहुंची तो मकान में कमरे का दरवाजा अंदर से बंद था। दरवाजा किसी तरह खोल कर पुलिस अंदर दाखिल हुई तो सामने एक शव फंदे पर झूल रहा था। इसके बाद दूसरे कमरे से भी मृतक की पत्नी और दो बच्चों के शव मिले। पुलिस इस मामले को परिवारिक कलह से जुड़ा मान रही है। पुलिस ने मौके से सुसाइड नोट मिलने की बात से इन्कार किया है, लेकिन कमरे की दीवार पर कुछ लिखा हुआ मिला है। मरने वालों की पहचान परिवार का मुखिया धीरज त्यागी, पत्नी काजल, पुत्री एकता और पुत्र ध्रुव के रूप में हुई है। पुलिस का अनुमान है कि धीरज त्यागी ने पहले पत्नी और बच्चों को हत्या की और फिर खुद भी आत्महत्या कर ली। पुलिस ने बताया कि धीरज त्यागी मूल रूप से जनपद बिजनौर के नया गांव का निवासी

दिनदहाड़े युवक का अपहरण कर फिरौती मांगने का आरोप में दो पुलिसकर्मी गिरफ्तार

मुरादाबाद। उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद में दिन दहाड़े युवक का अपहरण कर फिरौती मांगने के आरोप में पुलिस ने दो सिपाहियों समेत तीन को गिरफ्तार किया है। पुलिस अधीक्षक (ग्रामीण) उदयशंकर सिंह ने शुक्रवार को यहां बताया कि गत 27 फरवरी को भोजपुर क्षेत्र में गनीमत नगर निवासी सलमान के अपहरण और एक लाख रुपए की फिरौती मांगे जाने की सूचना पुलिस को मिली थी। सूचना मिलने पर पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई शुरू की। उन्होंने बताया कि इस मामले शामिल उत्तर प्रदेश पुलिस के आरक्षी अक्षय उप्पल तथा निखिल शामिल होना पाया गया। दोनों एक वर्ष पूर्व भोजपुर थाने में तैनात थे। आरोपी आरक्षी निखिल मुरादाबाद के ही मूंढापांडे थाने में तैनात है। दोनों पुलिसकर्मियों की मामले में संलिप्तता के चलते गिरफ्तार किया गया है। तीसरे आरोपी आशीष को भी मौके से गिरफ्तार किया गया है। अपहृत युवक को छुड़ा लिया गया है। श्री सिंह ने बताया कि अपह्रत युवक के परिवार से तीनों ने एक लाख रुपये की मांगी गई थी। तीनों को गिरफ्तार किया गया है।

झूठे वादे कर यौन संबंध बनाना रेप की श्रेणी में

 मुम्बई। बॉम्बे हाईकोर्ट ने झूठे वादे के बाद यौन संबंध के लिए सहमति को रेप की श्रेणी में माना है। कोर्ट ने मर्द का औरत के सामने सिर्फ उसी से प्यार करने के आश्वासन को सहमति मानने से इंकार कर दिया है। अलगाव से पहले महिला और पुरूष के बीच यौन संबंध पर हाईकोर्ट की बेंच सुनवाई कर रही थी।  के मुताबिक, पुरूष ने महिला की सहमति से संबंध बनाए थे। दोनों के बीच प्रेम-प्रसंग होने के चलते महिला ने शारीरिक संबंध बनाने की इजाजत दी, जबकि महिला ने दावा किया कि उसकी सहमति गलतफहमी का नतीजा थी। चूंकि प्रेमी ने उसे झूठा आश्वान देकर झांसे में लिया कि वो सिर्फ उसी से प्यार करता है, किसी और से नहीं। तर्कों और तथ्यों पर विचार करने के बाद बेंच ने टिप्पणी की, अगर औरत का पुरूष मित्र के खिलाफ लगाया गया आरोप सही मान लिया जाए तो शुरुआती धारणा यही बनती है कि उसने उसकी बातों पर विश्वास करते हुए यौन संबंध बनाने की इजाजत दी। औरत ने सिर्फ उसके साथ किये गये प्यार के वादे को सच मान लिया। हालांकि ये भी सच है कि शुरुआत में पुरूष ने शादी का इरादा जाहिर नहीं किया था। ऐसे में औरत शादी से पहले पुरूष की मांग का विरोध कर सकती थी, जि

राम मंदिर निर्माण की प्रक्रिया तेज हुई

अयोध्या/नई दिल्ली।  राम निर्माण की प्रक्रिया तेज हो गई है। इस सिलसिले में राम मंदिर निर्माण समिति के अध्यक्ष नृपेंन्द्र मिश्रा 29 फरवरी को अयोध्या पहुंच रहे हैं। नृपेंन्द्र मिश्रा अयोध्या आकर रामलला का दर्शन करेंगे। साथ ही रामजन्मभूमि परिसर का जायजा भी लेंगे। श्रीरामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट बनने के बाद वे पहली बार अयोध्या आ रहे हैं। इससे पहले ट्रस्ट के कई सदस्य अयोध्या पहुंच चुके हैं। जानकारी दी गई है कि नृपेन्द्र मिश्रा ट्रस्ट के सदस्यों से मुलाकात करेंगे। नृपेंद्र मिश्रा के अयोध्या आगमन के बाद ही रामलला को नए अस्थायी भवन में शिफ्ट करने की योजना को अंतिम रूप दिया जाएगा। नृपेन्द्र मिश्रा राममंदिर निर्माण से जुड़ी अन्य व्यवस्थाओं की भी समीक्षा करेंगे, जिसको लेकर अधिकारियों ने तैयारी भी शुरू कर दी है।

सोनभद्र में बालू खदानों के लिए लगती है आदिवासियों की मंडी

सोनभद्र। उत्तर प्रदेश के आदिवासी बहुल सोनभद्र जिले में सरकारी और गैर सरकारी तमाम कारखाने होने के बाद भी बेरोजगारी का आलम यह है कि दो वक्त की रोटी के जुगाड़ के लिए बालू खदानों में मजदूरी के लिए आदिवासियों की 'मंडी' लगती है। जहां सिर्फ मजबूत कद-काठी वाले मजदूरों की छंटनी पर ही काम मिलता है। उत्तर प्रदेश में सोनभद्र ही एकलौता जिला है, जहां 60 से 65 फीसदी आबादी आदिवासियों की है। यहां बिजली उत्पादन के अलावा अन्य कई सरकारी एवं गैर सरकारी कारखाने भी हैं। फिर भी बेरोजगारी का आलम यह है कि गरीबी का दंश झेल रहे आदिवासियों के मजदूरी के लिए वैध और अवैध रूप से चल रही बालू की खदानों में 'मजदूर मंडी' लगती है। ज्यादातर खदानों में भारी-भरकम मशीनों से बालू का खनन होता है, जहां कुछ मजबूत कद-काठी वाले आदिवासी युवकों को चिह्नित कर काम पर लगा लिया जाता है। बानगी के तौर पर दुधी तहसील क्षेत्र की कनहर नदी के कोरगी, पिपराडीह और नगवा बालू घाट को ही ले लीजिए। यहां खनिज विभाग ने हाल ही में बालू खनन का आवंटन इस प्रतिबंध के साथ किया है कि भारी-भरकम मशीनों से नदी की बीच जलधारा में बालू का खनन न किया जा