Skip to main content

Posts

Showing posts from March, 2020

निर्भया गैंग रेप और मर्डर के दोषियों ने पटियाला हाउस कोर्ट में भी याचिका लगाकर फांसी रोकने की मांग की

नई दिल्ली। निर्भया गैंगरेप और मर्डर के दोषियों ने पटियाला हाउस कोर्ट में भी याचिका लगाकर 20 मार्च को होने वाली फांसी पर रोक लगाने की मांग की है। पटियाला हाउस कोर्ट में आज दोपहर 12 बजे सुनवाई होगी। आपको बताते जाए कि चार दोषियों की फांसी 20 मार्च को सुबह साढ़े पांच बजे दी जाएगी। इस काम को अंजाम देने के लिए पवन जल्लाद पहले ही मेरठ से दिल्ली आ गए हैं, वे तिहाड़ जेल में हैं।इसी बीच, पवन जल्लाद ने फांसी की तारीख तय होते ही हमें जेल में बुलाया जाता है, फांसी देने के पहले यह सब प्लान किया जाता है कि कैदी के पैर कैसे बांधने हैं, रस्सी कैसी बांधनी हैं। जो समय तय होता है, उससे 15 म‍िनट पहले फांसी घर के ल‍िए चल देते हैं। हम उस समय तक तैयार रहते हैं और फांसी की तैयारी करने में भी एक से डेढ़ घंटा लगता है।कैदी के बैरक से फांसी लाने से पहले कैदी के हाथ में हथकड़ी डाल दी जाती है, नहीं तो हाथों को पीछे कर रस्सी से बांध द‍िया जाता है। दो स‍िपाही उसे पकड़कर लाते हैं और बैरक से फांसी घर की दूरी के आधार पर फांसी के तय समय से पहले उसे लाना शुरू कर देते हैं।  

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री इंदिरा गांधी एयरपोर्ट पर पहुंचे रात में

नई दिल्ली । भारत में कोविड-19 के बढ़ते प्रकोप की रोकथाम के लिए सरकार की ओर से कई कदम उठाए जा रहे हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी खुद स्थिति पर नजर बनाए हुए हैं। इसी क्रम में औचक निरीक्षण करने के लिए केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन बुधवार देर रात दिल्ली के अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डे पहुंचे और यहां व्यवस्थाओं का जायजा लिया। दिल्ली स्थित इंदिरा गांधी अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डे पर पहुंचे स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने टर्मिनल-3 पर की जा रही स्क्रीनिंग का जायजा लिया और संबंधित अधिकारियों को उचित निर्देश दिए। इस दौरान स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने यात्रियों और डॉक्टरों से बातचीत की।

बहुमत परीक्षण को लेकर आज फिर होगी सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई

भोपाल/नई दिल्ली। मध्यप्रदेश में गहराता राजनीतिक संकट के बीच बहुमत परीक्षण को लेकर सुप्रीम कोर्ट में आज फिर से सुनवाई होगी। अदालत से लेकर बेंगलुरु तक राजनीतिक दांव पेंच जारी हैं। इससे पहले शीर्ष अदालत में मामले पर बुधवार को दिनभर सुनवाई हुई। सुप्रीम कोर्ट ने पहले दिन की सुनवाई के दौरान मप्र विधानसभा अध्यक्ष पर कड़ा रुख अख्तियार किया और 16 विधायकों के इस्तीफे नहीं स्वीकारने का कारण पूछा। अदालत में कांग्रेस और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पक्ष के वकीलों में कई बार गरमागरम बहस भी हुई। भाजपा के वकीलों ने सभी 16 बागी विधायकों को पेश करने की इच्छा जाहिर की थी, जिसे अदालत ने ठुकरा दिया था।अदालत में कानूनी पहलुओं पर इस मसले को मापा जा रहा है, वहीं भोपाल और बेंगलुरु में भी सियासी खेल जारी है। भोपाल में भाजपा ने दिग्विजय सिंह की शिकायत चुनाव आयोग से की है। भाजपा ने आरोप लगाया कि राज्यसभा चुनाव से पहले कांग्रेस नेता विधायकों को डराने की कोशिश कर रहे हैं।वहीं दूसरी ओर बुधवार को बेंगलुरु में सियासी ड्रामा चरम पर रहा। कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह सुबह-सुबह बागी विधायकों से मिलने रिजॉर्ट पहुंचे, लेकिन र

कोरना के मरीजों की संख्या बढ़कर 172 हो गई है

नई दिल्ली। देश में काेरोना वायरस ने अपना पैर पसारता जा रहा है। इसी बीच आंध्र प्रदेश में एक मरीज को कोरोना वायरस पॉजिटिव केस मिलने के साथ मरीजों की संख्या 172 हो गई है। इसमें तीन लोगों की मौत हो गई और 16 सही होकर घर जा चुके हैं और अभी एक्टिव केस 153 हैं। कोरोना से महाराष्ट्र में पीड़ितों का आंकड़ा बढ़कर 47 हो गया है। इसके अलावा आंध्र प्रदेश में 2, दिल्ली में 10, हरियाणा में 17, कर्नाटक में 14 ,केरल में 27, पंजाब में 2, राजस्थान में 7, तमिलनाडु में एक, तेलंगाना में 13, जम्मू-कश्मीर में 4, लद्दाख में 8, उत्तर प्रदेश में 17, उत्तराखंड में एक, ओडिशा में एक और पश्चिम बंगाल में एक केस सामने आए ।कोरोना के बढ़ते संक्रमण के बीच दिल्ली में एक संदिग्ध मरीज ने बुधवार रात खुदकुशी कर ली है। पंजाब का रहने वाला शख्स कल ही ऑस्ट्रेलिया से लौटा था और सिर दर्द की शिकायत पर दिल्ली एयरपोर्ट से सीधे सफदरजंग अस्पताल में भर्ती कराया गया था। खास बात है कि उसमें कोरोना की पुष्टि नहीं हुई थी।दिल्ली से सटे नोएडा में अब तक 4 पॉजिटिव केस मिलने से हड़कम्प मच गया है। इसके बाद प्रशासन ने कोरोना से निपटने के लिए युद्धस्तर

जीतन राम मांझी एक बार फिर मारेंगे पलटी

पटना।  बिहार में विपक्षी दलों के महागठबंधन में शामिल राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के नेताओं और हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा (हम) के प्रमुख जीतन राम मांझी के बीच जिस तरह की बयानबाजी हो रही है, उससे यह तय माना जा रहा है कि मांझी विधानसभा चुनाव के पूर्व फिर पलटी मारेंगे। इस बीच, मांझी के राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) के घटक दल जनता दल (युनाइटेड) के प्रमुख नीतीश कुमार से मुलाकात के बाद बिहार की सियासत में अचानक गर्मी आ गई।मांझी ने जहां राजद पर निशाना साधते हुए कहा कि राजद महागठबंधन में बड़े भाई की भूमिका में जरूर है लेकिन वह बड़े भाई की भूमिका निभा नहीं पा रहा है। इस बयान के बाद राजद के नेता ने मांझी की पार्टी की हैसियत तक बता दी है। राजद नेता और विधायक भाई विरेंद्र ने स्पष्ट कर दिया कि जिसकी जितनी हैसियत होगी, उसी के अनुसार उसे सीटें दी जाएगी।  

दिल्ली सरकार को सौहार्द बिगाड़ने वालों की 7000 शिकायत मिली

सामाजिक सौहाद्र्र बिगाड़ने और हिंसा फैलाने वालों के खिलाफ दिल्ली सरकार को सात हजार से ज्यादा शिकायतें मिली हैं। दिल्ली सरकार ने ऐसे लोगों की पहचान करने और उनके खिलाफ कार्यवाही करने के उद्देश्य से एक विशेष मुहिम शुरू की है। इस मुहिम के तहत दिल्ली विधानसभा की पीस एंड हार्मनी कमेटी ने दिल्ली वालों से ऐसे लोगों की जानकारी मांगी है जो इस प्रकार की झूठी खबरें और अफवाहें सोशल मीडिया के माध्यम से फैला रहे हैं। दिल्ली विधानसभा की पीस एंड हार्मनी कमेटी को नफरत फैलाने वाली कुल 7000 से अधिक शिकायतें मिली हैं। इन 7000 शिकायतों में से अभी तक 2000 शिकायतों की जांच की गई है। जांच के उपरांत 504 शिकायतों को आगे की कानूनी कार्रवाई के लिए दुरुस्त पाया गया है। दिल्ली विधानसभा द्वारा गठित पीस एंड हार्मनी कमेटी के मुताबिक ट्विटर, फेसबुक, व्हाट्सएप आदि पर समुदायों के बीच नफरत फैलाने वाले और धार्मिक उन्माद फैलाकर माहौल खराब करने वाले व्यक्तियों की जानकारी दिल्ली सरकार को व्हाट्सएप या ईमेल के माध्यम से दी जा सकती है। नफरत भरे संदेश फैलाने वाले व्यक्तियों की जानकारी देने वाले व्यक्ति को दिल्ली सरकार 10 हजार रुपय

बिहार में राज्यसभा के लिए जेडीयू के दो आरजेडी के दो और भाजपा का एक सदस्य निर्वाचित

पटना।  बिहार में राज्यसभा चुनाव के लिए पांचों उम्मीदवार निर्विरोध निर्वाचित घोषित कर दिए गए। इनमें से जनता दल यूनाइटेड (जेडीयू) और राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के 2-2, जबकि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) का एक प्रत्याशी शामिल है। दरअसल, अप्रैल में बिहार से राज्यसभा की पांच सीटें खाली हो रही हैं।पांच से अधिक उम्मीदवार होने की स्थिति में चुनाव कराए जाने की नौबत आती, लेकिन पांच उम्मीदवारों के ही नामांकन करने के कारण बुधवार को नाम वापस लेने की अंतिम तिथि को सभी प्रत्याशियों को निर्विरोध निर्वाचित घोषित कर दिया गया। विधानसभा सचिव और निर्वाचन अधिकारी बटेश्वर नाथ पांडेय ने निर्वाचित सभी प्रत्याशियों को प्रमाणपत्र सौंपा। निर्वाचित होने वालों में जदयू के नेता और राज्यसभा के उपाध्यक्ष हरिवंश और रामनाथ ठाकुर, भाजपा के विवेक ठाकुर, राजद के प्रेमचंद गुप्ता और अमरेंद्रधारी सिंह शामिल हैं। सभी उम्मीदवारों ने निर्विरोध चुने जाने पर प्रसन्नता जाहिर की है। पांचों उम्मीदवारों में भाजपा के विवेक ठाकुर और राजद के अमरेंद्रधारी सिंह पहली बार राज्यसभा के लिए निर्वाचित हुए, जबकि हरिवंश, रामनाथ ठाकुर और राजद के प्रेमचं

कोरोना वायरस की वजह से रोजगार पर पड़ रहा है असर

नई दिल्ली।  जिस कनॉट प्लेस(सीपी) को दिल्ली का दिल कहते हैं, वह इतना उदास पहले कभी नहीं दिखा। जो सीपी हमेशा गुलजार रहता था, उसकी आजकल रौनक ही गायब और उसे लोगों का इंतजार है। सीपी की सड़कों पर सन्नाटा है, तो गलियारों में खामोशी पसरी है। इन खामोशियों में उन छोटे दुकानदारों का दर्द छिपा है, जो फुटपाथ पर चाय से लेकर चश्मे बेचकर दो जून की रोटी का किसी तरह इंतजाम करते हैं। 'रोज कुआं खोदकर रोज पानी पीने' जैसी जिंदगी जीने वाले छोटे-छोटे दुकानदारों की कोरोना ने कमर तोड़ कर रख दी है। इसे चाहे कोरोना को लेकर जागरूकता का असर कहें या फिर दिलोदिमाग में बैठा डर कि लोग घरों में दुबक गए हैं। नतीजा यह है कि सबसे व्यस्त रहने वाला कनॉट प्लेस अब सुनसान हो चला है। कोरोना ने यहां के कारोबार को मानो आईसीयू में पहुंचा दिया। । हमने  बुधवार की शाम करीब पांच बजे कनॉट प्लेस के माहौल का जायजा लिया। अमूमन इस वक्त कनॉट प्लेस अपनी पूरी रौनक में होता है। आम दिनों में कनॉट प्लेस के गलियारों में भीड़ इतनी होती है कि मानो तिल रखने की जगह न हो। दुकानों पर भीड़ के कारण कई बार आवाज देने पर सामान मिल पाता है। पार्किं ग

देश में कोरोनावायरस तेजी से अपना पैर पसार रहा है

नई दिल्ली।  देश में कोरोना वायरस तेजी से अपना पैर पसार रहा है। बेंगलुरु में भी दो नए मामले सामने आने के बाद संक्रमित मरीजों का आंकड़ा बढ़कर 153 हो गया है। इसमें तीन लोगों की मौत हो गई है, जबकि 13 लोग ठीक होकर घर जा चुके हैं। इसके अलावा लखनऊ में एक रेजिडेंट डॉक्टर भी संक्रमित हो गया है। संक्रमित लोगों में 25 विदेशी नागरिक शामिल है। कोरोना वायरस से निपटने के लिए सरकारें तीन स्तर पर काम को अंजाम दे रही है। अधिकतर प्रदेशों में स्कूल-कॉलेज, दफ्तर से लेकर पर्यटन स्थल तक बंद हैं। कोरोना से सबसे ज्यादा महाराष्ट्र प्रभावित है, यहां संक्रमित लोगों की संख्या 42 हो गई है।

मुजफ्फरनगर में नयायधीश, जिलाधिकारी और एसपी ने जिला कारागार का किया औचक निरीक्षण

मुजफ्फरनगर- आज जनपद न्यायाधीश राजीव शर्मा, जिलाधिकारी सेल्वा कु0जै0, एसएसपी अभिषेक यादव द्वारा जिला कारागार का औचक निरीक्षण कर बैरक, रसोईघर व अन्य स्थलों को चैक किया गया। साथ ही मुलाकाती रजिस्टर का भी अवलोकन किया गया। निरीक्षण के दौरान बंदियो को दी जा रही सुविधाओं के बारे में ली गयी। जिसमें कोरोना वायरस से बचाव के लिए साफ-सफाई, मास्क, सेनिटाईजर आदि को चेक किया गया तथा जैमर-प्रणाली की भी जांच परख की। जिला कारागार पर तैनात अधिकारीयों की ड्यूटी को चेक किया गया तथा सभी पुलिसकर्मियों को महत्वपूर्ण दिशा-निर्देश दिए गए । 1. सभी अधि0/कर्म0गण को जिला कारागार पर ड्यूटी की महत्तवता हेतु ब्रीफ किया गया। 2. सभी को आदेशित किया गया कि कारागार में बन्द अभियुक्तों की मिलाई पर उनसे मिलने आये व्यक्तियों की सघन चैकिंग की जाए। 3. चैकिंग के दौरान किसी भी प्रकार का अवैध सामान/गलत व्यक्ति कारागार की सीमा में न जा सके। 4. यदि किसी भी प्रकार का अवैध सामान या कोई गलत व्यक्ति कारागार की सीमा तक पहुंचता है तो चैकिंग हेतु नियुक्त अधि0/कर्म0 गणों के विरुद्ध वैधानिक कार्यवाही की जाएगी।

48 घंटों के बहन के बाद एशियानेट और मीडिया 1 चैनल का प्रसारण फिर शुरू

नई दिल्ली। दिल्ली हिंसा की रिपोर्टिंग की वजह से 48 घंटों के बैन के बाद एशियानेट और मीडिया वन चैनल फिर से ऑन एयर कर दिए गए हैं। दिल्ली हिंसा में एक समुदाय विशेष का पक्ष लेने के आरोप में दिल्ली सरकार ने दो टीवी चैनलों पर 48 घंटे का प्रतिबंध लगा दिया था। उस पर आज प्रतिबंध हटा लिया गया है। सूचना प्रसारण मंत्रालय ने जिन दो टीवी चैनलों पर बैन लगाया था वो मलयालम न्यूज चैनल एशियानेट न्यूज और मीडिया वन न्यूज हैं। सूत्रों के हवाले से बताया कि दोनों टीवी चैनलों पर यह प्रतिबंध उत्तर-पूर्वी दिल्ली में हुई हिंसा की कवरेज को लेकर लगाया गया था। सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने शुक्रवार को 48 घंटे की रोक लगाते हुए कहा था कि इस तरह की खबर से साम्प्रदायिक झगडे को बढ़ाया गया है। चैनलों को शुरुआत में कारण बताओ नोटिस जारी किया गया था और उनके जवाब दाखिल करने के बाद मंत्रालय ने पाया कि उन्होंने केबल टीवी नेटवर्क (नियमन) कानून, 1995 के तहत निर्धारित कार्यक्रम संहिता का उल्लंघन किया है।

यस बैंक के 49% शेयर एसबीआई खरीद सकती है

नई दिल्ली। YES BANK के 49 प्रतिशत शेयर एसबीआई बैंक खरीद सकती हैं। इस बात की जानकारी आज SBI के चेयरमैन रजनीश कुमार ने दी। चेयरमैन ने आगे बताया कि YES BANK के 49 प्रतिशत शेयर खरीदने पर विचार कर रहे हैं। हम इस डार्फ्ट पर कार्य कर रहे हैं। एसबीआई की यस बैंक में 2450 करोड़ रुपए का इनवेश करने की योजना है। यस बैंक को अभी 20 हजार करोड़ की आवश्यकता है। आपको बताते जाए कि यस बैंक आर्थिक संकट से गुजरने के बाद गुरुवार शाम को आरबीआई ने यस बैंक के उपभोक्ताओं को पचास हजार सेे अधिक राशि निकालने पर प्रतिबंध लगा दिया है। वे एक माह के अंदर पचास हजार रुपए ही निकाल सकते हैं।एसबीआई के चेयरमैन ने कहा कि यस बैंक के जो भी खाताधारक और निवेशको को घबराने की आवश्यकता नहीं है। कुछ दिनों की बात है खाताधारकों का संकट दूर हो जाएगा। उन्होंने कहा कि जो लोग एसबीआई में निवेश करना चाहते हैं कि उसके लिए ये एक मौका है, उनकी कोशिश है कि निवेश योजना को रिजर्व बैंक की समय सीमा से पहले ही पास करा लिया जाए।

अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल में दाम गिरे

नई दिल्ली। पेट्रोल और डीजल के दाम में कटौती का सिलसिला शनिवार को लगातार तीसरे दिन जारी रहा। तेल विपणन कंपनियों ने फिर पेट्रोल और डीजल के दाम में 12.13 पैसे प्रति लीटर की कटौती की है। उधर, अंतर्राष्ट्रीय बाजार में पिछले सत्र में कच्चे तेल में करीब नौ फीसदी की गिरावट आई। जिससे आने वाले दिनों में पेट्रोल और डीजल और सस्ते होंगे। देश की राजधानी दिल्ली में लगातार तीन दिनों में पेट्रोल 42 पैसे प्रति लीटर सस्ता हो गया है, जबकि डीजल का दाम 34 पैस प्रति लीटर घट गया है। कोरोनावायरस के प्रकोप के चलते कच्चे तेल के दाम में भारी गिरावट आई है, जिससे पेट्रोल और डीजल के भाव में लगातार कटौती की जा रही है। तेल विपणन कंपनियों ने शनिवार को पेट्रोल के दाम में दिल्ली, कोलकाता और मुंबई में 12 पैसे जबकि चेन्नई 13 पैसे प्रति लीटर की कटौती की। डीजल की कीमत में दिल्ली और कोलकाता में 12 पैसे जबकि मुंबई और चेन्नई में 13 पैसे प्रति लीटर कमी हो गई है।इंडियन ऑयल की वेबसाइट के अनुसार, दिल्ली, कोलकाता, मुंबई और चेन्नई में पेट्रोल का दाम घटकर क्रमश: 71.02 रुपये, 73.70 रुपये, 76.71 रुपये और 73.78 रुपये प्रति लीटर हो

पाकिस्तान के इस्लामाबाद हाईकोर्ट ने महिला मार्च पर रोक लगाने से कर दिया इनकार

इस्लामाबाद। पाकिस्तान के इस्लामाबाद हाईकोर्ट ने अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के मौके पर 8 मार्च को होने जा रहे 'औरत मार्च' पर रोक लगाने से इनकार कर दिया। 'औरत मार्च' पर प्रतिबंध लगाने वाली याचिका को अदालत ने उचित नहीं माना और इसे गैर-जरूरी करार दिया। इस्लामाबाद हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश जस्टिस अतहर मिनल्लाह ने कहा कि सम्मेलन आयोजित करने का अधिकार मौलिक अधिकारों का हिस्सा है। डॉन न्यूज ने जस्टिस के हवाले से कहा कि अदालत उम्मीद करती है कि मार्च में शामिल होने वाले प्रतिभागी कानून के अनुसार अपने अधिकारों का प्रयोग करेंगे।अपने निर्णय में मिनल्लाह ने कहा, "जो मार्च में शामिल होने वाले प्रतिभागियों के इरादों को लेकर संदेह में हैं, उन्हे गलत साबित करने का यह कार्यक्रम एक मौका है।" यह देखते हुए कि याचिकाकर्ता अदालत से पूर्व राहत की मांग कर रहे है, जस्टिस मिनल्लाह ने कहा कि यदि 8 मार्च को कुछ भी गैरकानूनी होता है, तो उसी समय कानूनी कार्रवाई की जानी चाहिए।गौरतलब है कि सर्व प्रथम 'औरत मार्च' की शुरुआत वर्ष 2018 में हुई थी। 'हम औरतें' नामक एक नारीवादी समूह

शाहीन बाग और सी ए ए का विरोध और मौजूदा हालात

  शाहीन बाग में हो रहे प्रदर्शन पर एक प्रोटेस्ट ने अपने विचार कुछ इस तरह से व्यक्त किए ।CAA के खिलाफ हमारी लड़ाई अब फैसलाकुन दौर में दाखिल हो चुकी है लेकिन देखने में आ रहा है की वक़्त के साथ साथ हमारा जोशो-वलवला ढीला पड़ता जा रहा है, जब हमें खुद अपनी और अपनी नस्लों की फ़िक़र नहीं तो आरएसएस या बीजेपी को इलज़ाम क्यों दें ? आरएसएस ने हमें ग़ुलाम बनाने के लिए मुसलसल 100  साल मेहनत की लेकिन हम लोग इतने गिरे हुए हैं की सिर्फ 80 दिनों के प्रोटेस्ट में थक गए हैं, हमारी माओं-बहनों पर गंदे इलज़ाम लगाए गए , मीडिया के ज़रिये यहाँ तक कहा जा रहा है की बिरयानी ख़तम तो भीड़ ख़तम, 60 से ज़्यादा नौजवानो को इस्सलिये मार दिया गया की वो मुस्लमान थे, हज़ारों नौजवानों के खिलाफ केस दर्ज हैं , लेकिन हम इतने बे-ज़मीर हो गये हैं की अपनी इज़्ज़त और वक़ार से ज़्यादा हमें अपनी  नौकरियां और कारोबार प्यारे हैं, हम चाय की दुकानों पर बैठ सकते हैं, टीवी देख सकते हैं लेकिन कुच्छ वक़्त के लिए प्रोटेस्ट साइट पर नहीं जा सकते, लगता है की ज़िल्लत हमारे मुक़द्दर में लिख दी गयी है तभी हम लोगों का ये हाल हैI याद रखना की CAA के खिलाफ चल रहा शाहीन बाग़

बिहार को विशेष राज्य का दर्जा डोनाल्ड ट्रंप ही देंगे - राजद

पटना। बिहार में मुख्य विपक्षी दल राष्ट्रीय जनता दल (राजद) ने शुक्रवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और जनता दल (युनाइटेड) पर बिहार को विशेष राज्य का दर्जा देने की मांग को लेकर पोस्टर के जरिए तंज कसा है। पोस्टर के जरिए कटाक्ष करते हुए राजद ने कहा है कि अब बिहार को विशेष राज्य का दर्जा अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ही देंगे।राजद ने पोस्टर में कॉर्टून चित्रों का सहारा लिया है। पोस्टर में बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी को दिखाया गया है। इस पोस्टर में सुशील मोदी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह से कह रहे हैं, "सर चुनाव आने वाला है, बिहार को विशेष राज्य का दर्जा दे दीजिए सर।" इस पोस्टर में प्रधानमंत्री और गृहमंत्री सुशील मोदी को 'नहीं' में इस प्रश्न का जवाब देते दिख रहे हैं। दूसरी ओर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को पोस्टर में कहते दिखाया गया है, "इनको छोड़ो, क्यूं ना सीधे ट्रंप से मांग लें।"गौरतलब है कि इस साल के प्रारंभ से ही राजद और जद (यू) में पोस्टर वार जारी है। राजद ने इस पोस्टर को अपने ट्विटर हैंडल प

इमरान खान भारत के खिलाफ भड़ास निकालने में नहीं चूक रहे हैं

इस्लामाबाद।  पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान दिल्ली में हुई हिंसा की आड़ में अपनी भारत विरोधी भड़ास निकालने का कोई मौका नहीं चूक रहे हैं। भारत पर निशाना साधने वालों की सराहना करते हुए, वे भारत विरोधी बयान नहीं देने वालों को उकसाने पर भी लगे हैं। उन्होंने इस बात पर अफसोस जताया है कि दिल्ली हिंसा के खिलाफ मुस्लिम जगत में बहुत कम आवाजें उठी हैं। इमरान ने ट्वीट कर दिल्ली हिंसा और भारत में मुसलमानों व कश्मीर के लोगों के दमन व संहार का मुद्दा उठाने पर ईरान के सर्वोच्च धार्मिक नेता अयातुल्ला अली खामनेई और तुर्की के राष्ट्रपति रेसेप तैयप एर्दोगान की प्रशंसा की है। साथ ही उन्होंने अफसोस जताया कि इस दिशा में मुस्लिम जगत से बहुत कम आवाजें उठी हैं। उन्होंने अपने ट्वीट में कहा, दुखद है कि मुस्लिम जगत से इसके खिलाफ बहुत कम आवाजें उठी हैं, कम निंदा हुई है। मोदी (भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी) के हिंदू वर्चस्ववादी शासन के खिलाफ अधिक आवाजें पश्चिमी जगत से उठ रही हैं।

हिंसा ग्रस्त इलाकों में अब खुद वरिष्ठ आईएएस अधिकारी जाकर करेंगे मुलाकात

नई दिल्ली।  उत्तर पूर्वी दिल्ली के हिंसाग्रस्त इलाकों में अब खुद वरिष्ठ आईएएस अधिकारी घर-घर जाकर हिंसा के शिकार हुए लोगों से मुलाकात करेंगे और उनके नुकसान का आकलन करेंगे। शुक्रवार को दिल्ली सरकार ने इन आईएएस अधिकारियों को उत्तर पूर्वी दिल्ली में तैनात करने का निर्णय लिया है। इससे पहले मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल इलाके में एसडीएम की तैनाती कर चुके हैं। दिल्ली सरकार ने हिंसा में मारे गए लोगों के परिजनों को 10 लाख रुपये, हिंसा में मरने वाले नाबालिगों के परिजनों को पांच लाख रुपये, घर जलाए जाने पर पांच लाख रुपये और स्कूल को क्षति पहुंचने पर 10 लाख रुपये तक के मुआवजे की घोषणा की है। दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने शुक्रवार को कहा, "उत्तर पूर्वी दिल्ली के हिंसा प्रभावित इलाकों में छह वरिष्ठ आईएएस अफसर दो-दो एसडीएम के साथ लोगों के घरों का वेरिफिकेशन करेंगे।" उत्तर पूर्वी दिल्ली में लोगों के क्षतिग्रस्त हुए घरों का वेरिफिकेशन दिल्ली सरकार जल्द से जल्द पूरा कर लेना चाहती है। यही कारण है कि सरकार ने अगले दो दिन इस वेरिफिकेशन के लिए एक विशेष अभियान चलाया है। दरअसल क्षतिग्रस्त मक

सीपीआई नेताओ ने किया दंगा प्रभावित इलाकों का दौरा

 नई दिल्ली आज 6 मार्च को सीपीआई उत्तर-पूर्वी दिल्ली जिले की जिला परिषद की बैठक नूर में एक इलाही दंगा प्रभावित क्षेत्र में आयोजित की गई थी।  कॉम।  बैठक में के। नारायण राष्ट्रीय सचिव सीपीआई, दिनेश वार्ष्णेय सचिव सीपीआई दिल्ली राज्य परिषद उपस्थित थे।  दंगा प्रभावित लोगों को राहत देने के बारे में बैठक में चर्चा के बाद और अन्य कॉमरेडों अबसार अहमद के सचिव के साथ जिला परिषद के क्षेत्रों में शांति स्थापित करने के लिए।  उत्तर पूर्वी दिल्ली जिले के राजकुमार सहायक सचिव, कॉम।  संजीव कुमार राणा, सहायक सचिव सीपीआई उत्तरी दिल्ली जिला, कॉम।  बबन कुमार सिंह, राज्य परिषद सदस्य सीपीआई दिल्ली राज्य ने दंगा प्रभावित क्षेत्रों का दौरा किया जैसे नूर एक इलाही, उत्तर गोंडा, यमुना विहार, भजन पुरा आदि।  यात्रा के दौरान बड़ी संख्या में स्थानीय लोग भी यात्रा में शामिल हुए और खुद को सीपीआई के प्रतिनिधिमंडल के सामने व्यक्त किया।  यात्रा के बाद प्रतिनिधिमंडल की राय है कि दंगे पूर्व नियोजित हैं, लक्षित नुकसान और हमलों को भाजपा नेता कपिल मिश्रा और अन्य द्वारा भड़काऊ भाषण के बाद किया गया था।  इसके बाद एक बार जब दंगे शुर

लखनऊ प्रशासन ने लगाए होर्डिंग

लखनऊ।  लखनऊ जिला प्रशासन ने नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान कथित तौर पर हिंसा में शामिल लोगों की पहचान कर उनके नाम और पते के साथ होर्डिंग्स लगाकर उन्हें शर्मसार करने की प्रक्रिया शुरू कर दी है। अभी तक 57 लोगों की कथित तौर पर पहचान की गई है। पिछले वर्ष दिसंबर माह में राज्य की राजधानी में सीएए विरोधी प्रदर्शनों के दौरान हुई हिंसा में कथित रूप से शामिल रहे 57 व्यक्तियों के नाम और पते के साथ शहर के सभी प्रमुख चौराहों पर कुल 100 होर्डिंग्स लगाए जा रहे हैं। ये सभी लोग राज्य की राजधानी लखनऊ के हसनगंज, हजरतगंज, कैसरबाग और ठाकुरगंज थाना क्षेत्र के हैं। प्रशासन ने पहले ही 1.55 करोड़ रुपए की सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान पहुंचाने के लिए इन सभी लोगों को वसूली के लिए नोटिस जारी किया है। लखनऊ जिला मजिस्ट्रेट अभिषेक प्रकाश ने कहा कि वसूली राशि जमा करने में असफल रहने की स्थिति में आरोपियों की संपत्तियां जब्त कर ली जाएंगी।