Skip to main content

अलीगढ़ की जामा मस्जिद में लगा है सबसे ज्यादा सोना / 290 साल पहले बनी है यह जामा मस्जिद

#अलीगढ़_की_जामा_मस्जिद_
टीवी सीरियल "कौन बनेगा करोड़पति" के एक सवाल में अमिताभ बच्चन ने पूछा था :-  "भारत के किस धार्मिक स्थल में सबसे ज़्यादा सोने का इस्तेमाल किया गया है?"


Options थे:-


(1) तिरूपती मंदिर।


(2)स्वर्ण मंदिर।


(3)अलीगढ़ की जामा मास्जिद। 


(4)काशी विश्वनाथ मंदिर 


अलीगढ़ की जामा मस्जिद भारत ही नहीं बल्कि एशिया की सबसे ज्यादा सोना लगी मस्जिद हैl 


अलीगढ़ के ऊपरकोट इलाके में मौजूद जामा मस्जिद ऐसी है, जिसकी तामीर में देश में सबसे ज़्यादा सोना लगा है। स्वर्ण मंदिर से भी ज्यादा।


 उत्तर प्रदेश के शहर अलीगढ की इस जामा मास्जिद की तामीर "मुग़ल बादशाह मुहम्मद शाह" सन् (1719-1728) के शासनकाल में कोल (अलीगढ ) के गवर्नर साबित खान जंग बहादुर ने सन् 1724 में  करवाई थी। 


इस को बनने में चार साल लगे और सन् 1728 में मस्जिद बनकर तैयार हो पाई। ताजमहल बनाने वाले खास इंजीनियरों मे से एक ईरान के "अबू ईसा अफांदी" के पोते ने मस्जिद को तामीर कराया है।


ताजमहल और इस मस्जिद की कारीगरी बहुत कुछ मिलती झूलती  है।
शहर के ऊपरकोट इलाके में 17 गुंबदों वाली यह मस्जिद है यहां एकसाथ 5000 लोग नमाज़ पढ़ सकते हैं। यहां औरतों के लिए नमाज़ पढ़ने का अलग से इंतजाम है। इसे शहदरी (तीन दरी) भी कहते हैं।


देश की शायद यह पहली मस्जिद होगी, जहां सन् 1857 की क्रान्ती के शहीदों की 73 कब्रें भी हैं। इसे गंज-ए-शहीदान (शहीदों की बस्ती) भी कहते हैं तीन सदी पुरानी इस मस्जिद में कई पीढ़ियां नमाज़ अदा कर चुकी हैं। 


290 साल पहले बनी इस जामा मस्जिद में आठवीं पीढ़ी नमाज़ अदा कर रही है। मस्जिद में कुल 17 गुंबद हैं। करीब आठ से दस फुट लम्बी  तीन मीनारें मुख्य गुंबद पर लगी हुई हैं। तीनों गुंबद के बराबर में बने एक-एक गुंबद पर छोटी छोटी तीन मीनारें बनी हुई हैं। 


मस्जिद के गेट और चारों कोनों पर भी छोटी-छोटी मीनारें हैं। सभी खालिस सोने की बनी हैं। याद रहे कि ताजमहल और हमायूँ मकबरे के  मुख्य गुम्बद की मीनारें हो य़ा स्वर्ण मंदिर, इन सब पर सोने की परत चढाई गयीं हैं, जबकि इस मास्जिद के गुम्बदों की मीनारों को ठोस सोने से बनाया गया है एक अंदाजे के मुताबिक गुंबदों में ही 6 क्विंटल सोना लगा है। 


मस्जिद बलाई किले के शिखर पर बनी हुई है और यह जगह शहर का सबसे ऊपरी इलाका है इसी वजह से, इसे शहर के सभी जगहों से देखा जा सकता है।


 मस्जिद के भीतर छह  मकाम हैं जहां लोग नमाज़ अदा कर सकते हैं। मस्जिद का जीर्णोद्धार कई दौर से गुज़रा तथा यह कई वास्तु प्रभावों को दर्शाता है।सफेद गुंबद वाली संरचना तथा खूबसूरती से बने मिनारे मुस्लिम कला और संस्कृति की खास विशेषताएं हैं।
ऍम तनवीर


Popular posts from this blog

भारतीय संस्कृति और सभ्यता को मुस्लिमों से नहीं ऊंच-नीच करने वाले षड्यंत्रकारियों से खतरा-गादरे

मेरठ:-भारतीय संस्कृति और सभ्यता को मुस्लिमों से नहीं ऊंच-नीच करने वाले षड्यंत्रकारियों से खतरा। Raju Gadre राजुद्दीन गादरे सामाजिक एवं राजनीतिक कार्यकर्ता ने भारतीयों में पनप रही द्वेषपूर्ण व्यवहार आपसी सौहार्द पर अफसोस जाहिर किया और अपने वक्तव्य में कहा कि देश की जनता को गुमराह कर देश की जीडीपी खत्म कर दी गई रोजगार खत्म कर दिये  महंगाई बढ़ा दी शिक्षा से दूर कर पाखंडवाद अंधविश्वास बढ़ाया जा रहा है। षड्यंत्रकारियो की क्रोनोलोजी को समझें कि हिंदुत्व शब्द का सम्बन्ध हिन्दू धर्म या हिन्दुओं से नहीं है। लेकिन षड्यंत्रकारी बदमाशी करते हैं। जैसे ही आप हिंदुत्व की राजनीति की पोल खोलना शुरू करते हैं यह लोग हल्ला मचाने लगते हैं कि तुम्हें सारी बुराइयां हिन्दुओं में दिखाई देती हैं? तुममें दम है तो मुसलमानों के खिलाफ़ लिख कर दिखाओ ! जबकि यह शोर बिलकुल फर्ज़ी है। जो हिंदुत्व की राजनीति को समझ रहा है, दूसरों को उसके बारे में समझा रहा है, वह हिन्दुओं का विरोध बिलकुल नहीं कर रहा है ना ही वह यह कह रहा है कि हिन्दू खराब होते है और मुसलमान ईसाई सिक्ख बौद्ध अच्छे होते हैं! हिंदुत्व एक राजनैतिक शब्द है ! हिं

समाजवादी पार्टी द्वारा एक बूथ स्तरीय कार्यकर्ता सम्मेलन का आयोजन

 महेश्वरी देवी की रिपोर्ट  खबर बहेड़ी से  है, आज दिनांक 31 मार्च 2024 को समाजवादी पार्टी द्वारा एक बूथ स्तरीय कार्यकर्ता सम्मेलन का आयोजन मधुर मिलन बारात घर बहेड़ी में संपन्न हुआ। जिसमें मुख्य अतिथि लोकसभा पीलीभीत प्रत्याशी  भगवत सरन गंगवार   रहे तथा कार्यक्रम की अध्यक्षता प्रदेश महासचिव स्टार प्रचारक विधायक (पूर्व मंत्री )  अताउर रहमान  ने की , कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए  अता उर रहमान  ने कहा की प्रदेश में महंगाई बेरोजगारी चरम पर है और किसान बेतहाशा परेशान है उनके गन्ने का भुगतान समय पर न होने के कारण आत्महत्या करने को मजबूर हैं। उन्होंने मुस्लिम भाइयों को संबोधित करते हुए कहा की सभी लोग एकजुट होकर भारतीय जनता पार्टी की सरकार को हटाकर एक सुशासन वाली सरकार (इंडिया गठबंधन की सरकार) बनाने का काम करें और भगवत सरन गंगवार को बहेड़ी विधानसभा से भारी मतों से जिताकर माननीय राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव जी के हाथों को मजबूत करें | रहमान जी ने अपने सभी कार्यकर्ताओं और पदाधिकारी से कहा कि वह ज्यादा से ज्यादा इंडिया गठबंधन के प्रत्याशी को वोट डलवाने का काम करें और यहां से भगवत सरन गंगवार को भ

ज़मीनी विवाद में पत्रकार पर 10 लाख रंगदारी का झूठे मुकदमें के विरुद्ध एस एस पी से लगाई जाचं की गुहार

हम करेंगे समाधान" के लिए बरेली से रफी मंसूरी की रिपोर्ट बरेली :- यह कोई नया मामला नहीं है पत्रकारों पर आरोप लगना एक परपंरा सी बन चुकी है कभी राजनैतिक दबाव या पत्रकारों की आपस की खटास के चलते इस तरह के फर्जी मुकदमों मे पत्रकार दागदार और भेंट चढ़ते रहें हैं।  ताजा मामला   बरेली के  किला क्षेत्र के रहने वाले सलमान खान पत्रकार का है जो विभिन्न समाचार पत्रों से जुड़े हैं उन पर रंगदारी मांगने का मुक़दमा दर्ज कर दिया गया है। इस तरह के बिना जाचं करें फर्जी मुकदमों से तो साफ ज़ाहिर हो रहा है कि चौथा स्तंभ कहें जाने वाले पत्रकारों का वजूद बेबुनियाद और सिर्फ नाम का रह गया है यही वजह है भूमाफियाओं से अपनी ज़मीन बचाने के लिए एक पत्रकार व दो अन्य प्लाटों के मालिकों को दबाव में लेने के लिए फर्जी रगंदारी के मुकदमे मे फसांकर ज़मीन हड़पने का मामला बरेली के थाना बारादरी से सामने आया हैं बताते चले कि बरेली के  किला क्षेत्र के रहने वाले सलमान खान के मुताबिक उनका एक प्लाट थाना बारादरी क्षेत्र के रोहली टोला मे हैं उन्हीं के प्लाट के बराबर इमरान व नयाब खां उर्फ निम्मा का भी प्लाट हैं इसी प्लाट के बिल्कुल सामन