Skip to main content

20 20 वर्ल्ड कप में भारत ने न्यूजीलैंड को हराकर अपनी जीत की शुरुआत की








आकलैंड : श्रेयस अय्यर और केएल राहुल की शानदार पारियों के दम पर भारत ने शुक्रवार को पांच मैचों की शृंखला के पहले मैच में न्यूजीलैंड को छह विकेट से हराकर इस साल होने वाले टी20 विश्व कप की तैयारी शुरू कर दी.
इससे पहले कोलिन मुनरो और कप्तान केन विलियमसन के आक्रामक अर्धशतकों की मदद से न्यूजीलैंड ने ईडन पार्क की छोटी बाउंड्री का पूरा इस्तेमाल करके पांच विकेट पर 203 रन बनाये. जवाब में भारत ने एक ओवर बाकी रहते लक्ष्य हासिल कर लिया. भारत की शुरुआत अच्छी नहीं रही और रोहित शर्मा दूसरे ही ओवर में सात रन बनाकर आउट हो गये. इसके बाद हालांकि राहुल ने अपनी शानदार फार्म जारी रखते हुए 27 गेंद में चार चौकों और तीन छक्कों के साथ 56 रन बनाये. कप्तान कोहली ने उनका बखूबी साथ निभाते हुए 32 गेंद में 45 रन की पारी खेली जिसमें तीन चौके और एक छक्का शामिल था. भारत ने हालांकि दसवें ओवर में राहुल और 12वें ओवर में कोहली का विकेट गंवा दिया. उस समय भारत को 53 गेंद में 83 रन की जरूरत थी.  इसके बाद श्रेयस अय्यर ने मोर्चा संभाला. अय्यर ने 29 गेंद में नाबाद 58 रन बनाये जिसमें पांच चौके और तीन छक्के शामिल थे. उन्हें इस प्रदर्शन के लिए मैन आफ द मैच चुना गया।न्यूजीलैंड की पारी में मुनरो ने 42 गेंद में छह चौकों और दो छक्कों के साथ 59 रन बनाये. वहीं, विलियमसन ने 26 गेंद में चार चौकों और चार छक्कों के साथ 51 रन की पारी खेली. रोस टेलर 27 गेंद में 54 रन बनाकर नाबाद रहे. जसप्रीत बुमराह (31 रन देकर एक विकेट) को छोड़कर भारत के सभी गेंदबाज महंगे साबित हुए. भारत ने टास जीतकर गेंदबाजी का फैसला लिया. भारतीय टीम ने हरफनमौला शिवम दुबे और रविंद्र जडेजा समेत छह गेंदबाजों का संयोजन उतारा. युजवेंद्र चहल को कुलदीप यादव पर और शार्दुल ठाकुर को नवदीप सैनी पर तरजीह दी गयी. ऋषभ पंत को बाहर रखा गया.
न्यूजीलैंड की शुरुआत तेज रही. मुनरो और मार्टिन गुप्टिल ने पावरप्ले में 68 रन बनाये. भारत के खिलाफ टी20 क्रिकेट में पावरप्ले में न्यूजीलैंड का यह सर्वश्रेष्ठ स्कोर है. शार्दुल ठाकुर ने 44 रन देकर एक विकेट लिया, जबकि मोहम्मद शमी ने 53 रन दे डाले और उन्हें कोई विकेट नहीं मिला. भारत ने पहले आठ ओवर में ही छह गेंदबाज आजमा लिये. दुबे ने गुप्टिल को आउट करके इस साझेदारी को तोड़ा जिनका कैच रोहित शर्मा ने लपका. इसके बाद विलियमसन मैदान पर आये और उन्होंने मुनरो के साथ 24 गेंद में 36 रन जोड़े. उन्होंने 36 गेंद में अपना अर्धशतक पूरा किया. ठाकुर ने मुनरो को पवेलियन भेजा. इसके चार गेंद बाद रविंद्र जडेजा ने कोलिन डि ग्रैंडहोमे (0) को आउट किया.
न्यूजीलैंड का स्कोर 13वें ओवर में तीन विकेट पर 117 रन था, लेकिन विलियमसन और टेलर ने 28 गेंद में 61 रन की साझेदारी कर डाली. टेलर ने तीन चौके और तीन छक्के लगाये. उन्होंने शमी के 16वें ओवर में 22 रन लिये और 25 गेंद में अर्धशतक पूरा किया. यह छह साल में टी20 क्रिकेट में उनका पहला अर्धशतक था. विलियमसन ने भी 25 गेंद में पचासा ठोका. दोनों के बीच अर्धशतकीय साझेदारी सिर्फ 24 गेंद में पूरी हुई. विलियमसन को चहल ने आउट किया. टेलर ने न्यूजीलैंड को 200 रन के पार पहुंचाया. बुमराह को 20वें ओवर में फालोथ्रू के दौरान बायें टखने में चोट लगी और वह दर्द से कराहते दिखे. उन्होंने हालांकि तुरंत संभलकर आखिरी चार गेंद डाली.














 








Popular posts from this blog

*बहुजन मुक्ति पार्टी की राष्ट्रीय स्तर जनरल बॉडी बैठक मे बड़े स्तर पर फेरबदल प्रवेंद्र प्रताप राष्ट्रीय महासचिव आदि को 6 साल के लिए निष्कासित*

*(31 प्रदेश स्तरीय कमेटी भंग नये सिरे से 3 महिने मे होगा गठन)* नई दिल्ली:-बहुजन मुक्ति पार्टी राष्ट्रीय जनरल बॉडी की मीटिंग गड़वाल भवन पंचकुइया रोड़ नई दिल्ली में संपन्न हुई।  बहुजन मुक्ति पार्टी मीटिंग की अध्यक्षता  मा०वी०एल० मातंग साहब राष्ट्रीय अध्यक्ष बहुजन मुक्ति  पार्टी ने की और संचालन राष्ट्रीय महासचिव माननीय बालासाहेब पाटिल ने किया।  बहुजन मुक्ति पार्टी की जनरल ढांचे की बुलाई मीटिंग में पुरानी बॉडी में फेर बदल किया गया। मा वी एल मातंग ने स्वयं एलान किया की खुद स्वेच्छा से बहुजन मुक्ति पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे रहे हैं राजनीती से सन्यास और राष्ट्रीय स्तर पर बामसेफ प्रचारक का कार्य करते रहेंगे। राष्ट्रीय स्तर की जर्नल बॉडी की बैठक मे सर्व सम्मत्ती से राष्ट्रीय अध्यक्ष के पद पर पूर्व कार्यकारी अध्यक्ष जे एस कश्यप को राष्ट्रीय अध्यक्ष के पद पर चुना गया। राष्ट्रीय उपाध्यक्ष के लिए मा वैकटेस लांमबाड़ा, मा हिरजीभाई सम्राट, डी राम देसाई, राष्ट्रीय महासचिव के पद पर मा बालासाहब मिसाल पाटिल, मा डॉ एस अकमल, माननीय एडवोकेट आयुष्मति सुमिता पाटिल, माननीय एडवोकेट नरेश कुमार,

*पिछड़ों अति पिछड़ों शूद्रों अछूतों तथाकथित जाति धर्म से आजादी की चाबी बाबा साहब का भारतीय संविधान-गादरे*

(हिन्दू-मुस्लिम के षड्यंत्रकारियो के जाल और कैद खाने से sc obc st minorities जंग लडो बेईमानो से मूल निवासी हो बाबा फुले और  भीमराव अम्बेडकर के सपनो को साकार करें--गादरे)* मेरठ:--बाबा ज्योति बा फुले और बाबा भीमराव अंबेडकर भारत रत्न ही नहीं विश्व रतन की जयंती पर हमें शपथ लेनी होगी की हिन्दू-मुस्लिम के षड्यंत्रकारियो के जाल और कैद खाने से sc obc st minorities जंग लडो बेईमानो से मूल निवासी हो बाबा फुले और भीमराव अम्बेडकर के सपनो को साकार करें। बहुजन मुक्ति पार्टी के आर डी गादरे ने महात्मा ज्योतिबा फुले और भारत रत्न डॉक्टर बाबा भीमराव अंबेडकर की जन्म जयंती के अवसर पर समस्त मूल निवासियों को हार्दिक शुभकामनाएं देते हुए आह्वान किया कि आज हम कुछ विदेशी षड्यंत्र कार्यों यहूदियों पूंजीपतियों अवसर वादियों फासीवादी लोगों के चंगुल से निकलने के लिए एक आजादी की लडाई लरनी होगी। आज भी आजाद होते हुए फंसे हुए हैं। डॉक्टर बाबा भीमराव अंबेडकर के लोकतंत्र और भारतीय संविधान को अपने हाथों से दुश्मन के चंगुल में परिस्थितियों को समझें। sc obc st MINORITIES खुद सर्वनाश करने पर लगे हुए हैं और आने वाली नस्लों को गु

सरधना विधानसभा से ए आई एम आई एम के भावी प्रत्याशी हाजी आस मौहम्मद ने किया बड़ा ऐलान अब मुसलमान अपमानित नहीं होगा क्योंकि आ गई है उनकी पार्टी

खलील शाह/ साबिर सलमानी की रिपोर्ट  ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन की नेशनल पब्लिक स्कूल लश्कर गंज बाजार सरधना में आयोजित बैठक में भावी प्रत्याशी हाजी आस मौहम्मद ने कहा कि ए आई एम आई एम पार्टी सरधना विधानसभा क्षेत्र में शोषित,वंचित और मुसलमानों को उनके अधिकार दिलाने के लिए आई है। आज भी सरधना विधानसभा क्षेत्र पिछड़ा हुआ है। राष्ट्रीय अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी साहब ने उत्तर प्रदेश के शोषित और वंचित समाज को इंसाफ दिलाने का बीड़ा उठाया है। ए आई एम आई एम पार्टी ने मुसलमानों को दरी बिछाने वाला से टिकट बांटने वाला बनाने का बीड़ा उठाया है। जिस प्रकार आज सपा के मंचों पर मुसलमानों को अपमानित किया जा रहा है उसका बदला ए आई एम आई एम को वोट देकर सत्ता में हिस्सेदारी लेकर लेना होगा। हाजी आस मोहम्मद ने कहा कि उनके भाई हाजी अमीरुद्दीन ने तमाम उम्र समाजवादी पार्टी को आगे बढ़ाने में गुजार दी और जब किसी बीमारी की वजह से उनका इंतकाल हुआ तो समाजवादी पार्टी का कोई नुमाइंदा भी उनके परिवार की खबर गिरी करने नहीं आया । आजादी से लेकर आज तक मुस्लिम समाज सेकुलर दलों को अपना वोट देता आ रहा है लेकिन उसके बदले मे