Skip to main content

जब रक्षक ही बन जाए भक्षक तो फिर सजा भी ज्यादा ही होगी

 


देश और देशवासियों की सुरक्षा का प्रण पुलिस-फौज एवं अन्य सुरक्षा एजेंसियों से जुड़े लोग लेते हैं। इसी तरह पड़ोसियों एवं परिवार के बड़ों का कर्तव्य होता है कि वे खासकर महिलाओं एवं बच्चों की सुरक्षा का ध्यान रखें लेकिन देखने में यह आता है कि महिलाएं एवं बच्चियां सर्वाधिक अपनों या परिचितों की ही हवस का शिकार बन रही हैं। दो अलग-अलग मामलों में रक्षक से भक्षक बननेवाले ऐसे ही एक कुकर्मी को कोर्ट ने उम्रवैâद जबकि एक अन्य को फांसी की सजा सुनाई है।
पहली घटना मध्य प्रदेश के नरसिंहपुर जिले की है, जिसमें ५ वर्षीय मासूम से दुराचार करनेवाले कुकर्मी को अदालत ने दोषी करार देते हुए फांसी की सजा सुनाई। न्यायाधीश अनीता सिंह ने पांच साल की बच्ची से दुष्कर्म के मामले की सुनवाई में अभियुक्त संतोष मरकाम को दोषी ठहराए जाने पर फांसी की सजा के साथ दस हजार रुपए के जुर्माने की सजा सुनाई है।
डेरा समुदाय का एक परिवार जो गोसलपुर जिला जबलपुर का रहनेवाला है, वह कुछ दिनों से नरसिंहपुर स्टेशन के पास अपना डेरा डाले हुए है। सोमवार रात करीब १० बजे ५ साल की एक बच्ची उनके डेरे से अचानक गुम हो गई, जिसकी सूचना स्टेशन गंज थाना पुलिस को दी गई। पुलिस ने सर्च करने की कोशिश की परंतु कोई सुराग नहीं लगा। सुबह कुछ लोगों ने सूचना दी कि एक छोटी बच्ची बेहोशी की हालत में जेल ग्राउंड जो कि स्टेशन से कुछ दूरी पर है, वहां पड़ी हुई है। मौके पर पुलिस और परिजन पहुंचे और बच्ची की पहचान परिजनों ने की। बच्ची को तत्काल जिला अस्पताल भेजा गया, जहां उसकी गंभीर हालत को देखते हुए जबलपुर रेफर कर दिया गया।
नरसिंहपुर में २४-२५ जून, २०१९ की दरमियानी रात को पांच साल की बच्ची से हुए दुष्कर्म के इस मामले में बाद में पुलिस ने एसएएफ बटालियन के संतोष मरकाम नामक रसोइए को गिरफ्तार किया था। संतोष मरकाम, बीजा डांडी मंडला का निवासी है। वह एक साल से एसएएफ छठवीं बटालियन में रसोइए के रूप में नरसिंहपुर में ही कार्यरत था। आरोप है कि वारदात की रात संतोष बच्ची को उसकी झोपड़ी से अगवा करके ले गया था। इसके बाद पीड़िता खून से लथपथ हालत में २५ जून की सुबह अंडर ब्रिज के पास एक पेड़ के नीचे जख्मी अवस्था में मिली थी। अभियोजन के अनुसार सशस्त्र पुलिस बल (एसएएफ) की ६ वीं बटालियन में रसोइए के पद पर पदस्थ संतोष मरकाम ने २४ जून, १९ को बस स्टैंड नरसिंहपुर के समीप रात्रि में बालिका को उठाकर ले गया और उसके साथ दुष्कर्म कर फरार हो गया था। बाद में पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर आरोपपत्र न्यायालय में प्रस्तुत किया था। एसएएफ बटालियन से जुड़े संतोष के कुकर्म को कोर्ट ने संगीन अपराध माना और उसे फांसी की सजा सुनाई।
दूसरी घटना उत्तरप्रदेश के मिर्जापुर जिले की है, जहां चार साल की अबोध बालिका के साथ दुष्कर्म मामले में कोर्ट ने अभियुक्त को आठ माह के अंदर सुनवाई पूरी करके आजीवन कारावास की सजा दी है। मामला चुनार थाना क्षेत्र के एक गांव का है। अभियोजन पक्ष के अनुसार एक र्इंट भट्ठे पर काम करनेवाला मजदूर दुलारे बिंद ने दूसरे मजदूर की चार साल की बालिका को टाफी देने के बहाने गेहूं के खेत में ले जाकर दुष्कर्म किया। बालिका की स्थिति देखकर परिवार के लोग सन्न रह गये। पूछने पर बालिका और उसकी चचेरी बहन ने पूरी बात बताई। इसके बाद बालिका के पिता ने उसी दिन चुनार थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई। पुलिस ने दुलारे बिंद के खिलाफ पॉक्सो एक्ट एवं दुष्कर्म के तहत मुकदमा दर्ज कर विवेचना कर आरोप पत्र दाखिल कर दी। मिर्जापुर की एक अदालत ने चार साल की अबोध बालिका के साथ दुष्कर्म के इस मामले में अभियुक्त दुलारे को आजीवन कारावास की सजा सुनाई है, साथ ही चालीस हजार रुपए का जुर्माना भी ठोंका है। जिले में आठ माह के अंदर सुनवाई पूरी करके कोर्ट ने एक नया रिकॉर्ड बनाया है। अपर सत्र न्यायाधीश पॉक्सो एक्ट ज्ञानेंद्र राय की अदालत ने अभियोजन पक्ष द्वारा प्रस्तुत सात गवाहों एवं अन्य सबूत के आधार पर सोमवार को खुली अदालत में अभियुक्त को दोषी करार दिया। बचाव पक्ष की दलीलों को खारिज करते हुए न्यायाधीश ने कहा कि अभियुक्त का कृत्य अमानवीय पशुवत रहा है। ऐसे में वह किसी तरह की रियायत पाने का हकदार नहीं है।


Popular posts from this blog

थाना अमरिया पुलिस द्वारा 04 अभियुक्तों को 68 किलोग्राम डोडा पोस्ता व डोडा चूरा सहित किया गिरफ्तार

 पीलीभीत के थाना अमरिया में आज दिनांक 05.09.2022 को थाना अमरिया जनपद पीलीभीत पुलिस द्वारा पुलिस अधीक्षक दिनेश कुमार प्रभु जनपद पीलीभीत के निर्देशन में व  अपर पुलिस अधीक्षक महोदय जनपद पीलीभीत व क्षेत्राधिकारी सदर महोदय जनपद पीलीभीत के कुशल नेतृत्व में अपराधियों के विरुद्ध जनपद में मादक पदार्थ व जहरीली शराब की तस्करी व रोकथाम हेतु चलाये जा रहे अभियान के तहत  थाना अमरिया पुलिस द्वारा 02 अभियुक्तगणों 1.महेश कुमार गुप्ता पुत्र ओमप्रकाश निवासी कस्बा व थाना अमरिया जनपद पीलीभीत व  2.रवि गुप्ता पुत्र महेश गुप्ता निवासी कस्बा व थाना अमरिया जनपद पीलीभीत को उनके घर के पास से गिरफ्तार किया गया तथा इनके कब्जे से मादक पदार्थ 31 किलोग्राम ( डोडा पोस्ता व डोडा चूरा ) बरामद हुआ गिरफ्तार किए गये अभियुक्तगणों से गहनता से पूछताछ के दौरान उन्होनों बरामद मादक पदार्थों को  अभियुक्त प्रमोद गुप्ता पुत्र मटरु लाल निवासी ग्राम देवचरा थाना भमौरा जनपद बरेली व अभियुक्त विनोद कुमार गुप्ता पुत्र मटरु लाल निवासी ग्राम देवचरा थाना भमौरा जनपद बरेली से खरीद कर लाना बताया इस पूछताछ के दौरान प्रकाश में आये अभियुक्त प्रमोद

*बहुजन मुक्ति पार्टी की राष्ट्रीय स्तर जनरल बॉडी बैठक मे बड़े स्तर पर फेरबदल प्रवेंद्र प्रताप राष्ट्रीय महासचिव आदि को 6 साल के लिए निष्कासित*

*(31 प्रदेश स्तरीय कमेटी भंग नये सिरे से 3 महिने मे होगा गठन)* नई दिल्ली:-बहुजन मुक्ति पार्टी राष्ट्रीय जनरल बॉडी की मीटिंग गड़वाल भवन पंचकुइया रोड़ नई दिल्ली में संपन्न हुई।  बहुजन मुक्ति पार्टी मीटिंग की अध्यक्षता  मा०वी०एल० मातंग साहब राष्ट्रीय अध्यक्ष बहुजन मुक्ति  पार्टी ने की और संचालन राष्ट्रीय महासचिव माननीय बालासाहेब पाटिल ने किया।  बहुजन मुक्ति पार्टी की जनरल ढांचे की बुलाई मीटिंग में पुरानी बॉडी में फेर बदल किया गया। मा वी एल मातंग ने स्वयं एलान किया की खुद स्वेच्छा से बहुजन मुक्ति पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे रहे हैं राजनीती से सन्यास और राष्ट्रीय स्तर पर बामसेफ प्रचारक का कार्य करते रहेंगे। राष्ट्रीय स्तर की जर्नल बॉडी की बैठक मे सर्व सम्मत्ती से राष्ट्रीय अध्यक्ष के पद पर पूर्व कार्यकारी अध्यक्ष जे एस कश्यप को राष्ट्रीय अध्यक्ष के पद पर चुना गया। राष्ट्रीय उपाध्यक्ष के लिए मा वैकटेस लांमबाड़ा, मा हिरजीभाई सम्राट, डी राम देसाई, राष्ट्रीय महासचिव के पद पर मा बालासाहब मिसाल पाटिल, मा डॉ एस अकमल, माननीय एडवोकेट आयुष्मति सुमिता पाटिल, माननीय एडवोकेट नरेश कुमार,

*पिछड़ों अति पिछड़ों शूद्रों अछूतों तथाकथित जाति धर्म से आजादी की चाबी बाबा साहब का भारतीय संविधान-गादरे*

(हिन्दू-मुस्लिम के षड्यंत्रकारियो के जाल और कैद खाने से sc obc st minorities जंग लडो बेईमानो से मूल निवासी हो बाबा फुले और  भीमराव अम्बेडकर के सपनो को साकार करें--गादरे)* मेरठ:--बाबा ज्योति बा फुले और बाबा भीमराव अंबेडकर भारत रत्न ही नहीं विश्व रतन की जयंती पर हमें शपथ लेनी होगी की हिन्दू-मुस्लिम के षड्यंत्रकारियो के जाल और कैद खाने से sc obc st minorities जंग लडो बेईमानो से मूल निवासी हो बाबा फुले और भीमराव अम्बेडकर के सपनो को साकार करें। बहुजन मुक्ति पार्टी के आर डी गादरे ने महात्मा ज्योतिबा फुले और भारत रत्न डॉक्टर बाबा भीमराव अंबेडकर की जन्म जयंती के अवसर पर समस्त मूल निवासियों को हार्दिक शुभकामनाएं देते हुए आह्वान किया कि आज हम कुछ विदेशी षड्यंत्र कार्यों यहूदियों पूंजीपतियों अवसर वादियों फासीवादी लोगों के चंगुल से निकलने के लिए एक आजादी की लडाई लरनी होगी। आज भी आजाद होते हुए फंसे हुए हैं। डॉक्टर बाबा भीमराव अंबेडकर के लोकतंत्र और भारतीय संविधान को अपने हाथों से दुश्मन के चंगुल में परिस्थितियों को समझें। sc obc st MINORITIES खुद सर्वनाश करने पर लगे हुए हैं और आने वाली नस्लों को गु