Skip to main content

दिल्ली की जिम्मेदारी एन एस ए अजीत डोभाल ने संभाली

नई दिल्ली। जो कुछ हो गया वह हो गया। पूरा यकीन है कि अब यहां पर शांति होगी। हम प्रधानमंत्री और गृहमंत्री के हुक्म की तामील करने यहां आए हैं। इंशाल्लाह यहां बिल्कुल अमन होगा। पुलिस अलर्ट है। इंतजामिया की जिम्मेदारी है कि हर एक को महफूज रखे और सलामती की जिम्मेदारी ले। कुछ इन्हीं लफ्जों के साथ उत्तर-पूर्वी दिल्ली में स्थानीय बाशिंदों को सुरक्षा का दिलासा देते नजर आए राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल।

इससे पहले डोभाल इस अंदाज में जम्मू-कश्मीर में नजर आए थे, जब 370 हटने के बाद हालात नाजुक थे और वे खुद सडक़ों पर उतरकर लोगों को समझा-बुझा रहे थे। प्रधानमंत्री के निर्देश पर मंगलवार की रात से लेकर बुधवार को 16 घंटे का ऑपरेशन चलाकर अजित डोभाल ने उत्तरी-पूर्वी दिल्ली के बेकाबू होते हालात को काबू में किया। मंगलवार की रात साढ़े 11 बजे और बुधवार को साढ़े तीन बजे दो बार वे उत्तरी-पूर्वी डीसीपी दफ्तर पहुंचे।

इन 16 घंटों में डोभाल ने पुलिस, अर्धसैनिक बलों की ठीक संख्या में तैनाती, दोनों पक्षों के प्रभावशाली लोगों और धर्मगुरुओं से शांति की अपीलें से लेकर हर वो रणनीति अपनाई जिससे सडक़ों पर भीड़ आने से रोका जा सके। मंगलवार की रात से लेकर बुधवार को अजित डोभाल लगातार अलर्ट मोड में रहे और खुद फील्ड में मोर्चा संभाले नजर आए। यह डोभाल की सक्रियता ही रही जिसकी बदौलत हिंसा की आंच में झुलसती उत्तर-पूर्वी दिल्ली के हालात चौथे दिन सुधरते दिखे।

दरअसल, अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप मंगलवार को राजधानी में थे। सूत्रों का कहना है कि ऐसे में दिल्ली की हिंसा डील करने में सरकारी मशीनरी के सामने समस्या आई। प्रधानमंत्री, गृह मंत्री से लेकर अन्य बड़े अफसरों का ध्यान दोनों तरफ बंटा रहा। दिल्ली के बिगड़ते हालात को लेकर खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह चिंतित थे। यहां तक कि जब राष्ट्रपति भवन में ट्रंप के लिए डिनर पार्टी रखी गई थी तब अमित शाह आवास पर सुरक्षा की समीक्षा कर रहे थे।

ट्रंप के मंगलवार को दिल्ली से उड़ान भरने के बाद से दिल्ली के हालात को काबू में करने की मुहिम तेज हुई। प्रधानमंत्री ने सुरक्षा मामलों में अपने सबसे भरोसेमंद अजित डोभाल को याद किया और उन्हें पूरी बागडोर अपने हाथ में लेकर दिल्ली में हालात संभालने का निर्देश दिया। फिर यहीं से अजित डोभाल ने दिल्ली में हिंसा रोकने का ऑपरेशन शुरू किया। खुद अजित डोभाल ने भी बुधवार को लोगों से कहा कि उन्हें प्रधानमंत्री ने भेजा है।

डोभाल सबसे पहले मंगलवार की रात साढ़े 11 बजे उत्तरी-पूर्वी दिल्ली के डीसीपी ऑफिस पहुंचे थे। यहां अफसरों से हालात की जानकारी लेने के बाद हिंसा प्रभावित सीलमपुर, भजनपुरा, मौजपुर, यमुना विहार जैसे इलाकों का उन्होंने दौरा किया था। डोभाल को पता चला कि पुलिस में तालमेल और जवानों की कमी के कारण उपद्रवी हावी पड़ते दिख रहे हैं। इसके बाद डोभाल ने हिंसा प्रभावित सीलमपुर से लेकर जाफराबाद, मौजपुर, यमुना विहार में कफ्र्यू जैसी स्थिति लागू करने का निर्देश दिया। हर दो सौ से तीन सौ मीटर पर पुलिस फोर्स की तैनाती कराई।



 


Popular posts from this blog

*पिछड़ों अति पिछड़ों शूद्रों अछूतों तथाकथित जाति धर्म से आजादी की चाबी बाबा साहब का भारतीय संविधान-गादरे*

(हिन्दू-मुस्लिम के षड्यंत्रकारियो के जाल और कैद खाने से sc obc st minorities जंग लडो बेईमानो से मूल निवासी हो बाबा फुले और  भीमराव अम्बेडकर के सपनो को साकार करें--गादरे)* मेरठ:--बाबा ज्योति बा फुले और बाबा भीमराव अंबेडकर भारत रत्न ही नहीं विश्व रतन की जयंती पर हमें शपथ लेनी होगी की हिन्दू-मुस्लिम के षड्यंत्रकारियो के जाल और कैद खाने से sc obc st minorities जंग लडो बेईमानो से मूल निवासी हो बाबा फुले और भीमराव अम्बेडकर के सपनो को साकार करें। बहुजन मुक्ति पार्टी के आर डी गादरे ने महात्मा ज्योतिबा फुले और भारत रत्न डॉक्टर बाबा भीमराव अंबेडकर की जन्म जयंती के अवसर पर समस्त मूल निवासियों को हार्दिक शुभकामनाएं देते हुए आह्वान किया कि आज हम कुछ विदेशी षड्यंत्र कार्यों यहूदियों पूंजीपतियों अवसर वादियों फासीवादी लोगों के चंगुल से निकलने के लिए एक आजादी की लडाई लरनी होगी। आज भी आजाद होते हुए फंसे हुए हैं। डॉक्टर बाबा भीमराव अंबेडकर के लोकतंत्र और भारतीय संविधान को अपने हाथों से दुश्मन के चंगुल में परिस्थितियों को समझें। sc obc st MINORITIES खुद सर्वनाश करने पर लगे हुए हैं और आने वाली नस्लों को गु

*बहुजन मुक्ति पार्टी की राष्ट्रीय स्तर जनरल बॉडी बैठक मे बड़े स्तर पर फेरबदल प्रवेंद्र प्रताप राष्ट्रीय महासचिव आदि को 6 साल के लिए निष्कासित*

*(31 प्रदेश स्तरीय कमेटी भंग नये सिरे से 3 महिने मे होगा गठन)* नई दिल्ली:-बहुजन मुक्ति पार्टी राष्ट्रीय जनरल बॉडी की मीटिंग गड़वाल भवन पंचकुइया रोड़ नई दिल्ली में संपन्न हुई।  बहुजन मुक्ति पार्टी मीटिंग की अध्यक्षता  मा०वी०एल० मातंग साहब राष्ट्रीय अध्यक्ष बहुजन मुक्ति  पार्टी ने की और संचालन राष्ट्रीय महासचिव माननीय बालासाहेब पाटिल ने किया।  बहुजन मुक्ति पार्टी की जनरल ढांचे की बुलाई मीटिंग में पुरानी बॉडी में फेर बदल किया गया। मा वी एल मातंग ने स्वयं एलान किया की खुद स्वेच्छा से बहुजन मुक्ति पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे रहे हैं राजनीती से सन्यास और राष्ट्रीय स्तर पर बामसेफ प्रचारक का कार्य करते रहेंगे। राष्ट्रीय स्तर की जर्नल बॉडी की बैठक मे सर्व सम्मत्ती से राष्ट्रीय अध्यक्ष के पद पर पूर्व कार्यकारी अध्यक्ष जे एस कश्यप को राष्ट्रीय अध्यक्ष के पद पर चुना गया। राष्ट्रीय उपाध्यक्ष के लिए मा वैकटेस लांमबाड़ा, मा हिरजीभाई सम्राट, डी राम देसाई, राष्ट्रीय महासचिव के पद पर मा बालासाहब मिसाल पाटिल, मा डॉ एस अकमल, माननीय एडवोकेट आयुष्मति सुमिता पाटिल, माननीय एडवोकेट नरेश कुमार,

थाना अमरिया पुलिस द्वारा 04 अभियुक्तों को 68 किलोग्राम डोडा पोस्ता व डोडा चूरा सहित किया गिरफ्तार

 पीलीभीत के थाना अमरिया में आज दिनांक 05.09.2022 को थाना अमरिया जनपद पीलीभीत पुलिस द्वारा पुलिस अधीक्षक दिनेश कुमार प्रभु जनपद पीलीभीत के निर्देशन में व  अपर पुलिस अधीक्षक महोदय जनपद पीलीभीत व क्षेत्राधिकारी सदर महोदय जनपद पीलीभीत के कुशल नेतृत्व में अपराधियों के विरुद्ध जनपद में मादक पदार्थ व जहरीली शराब की तस्करी व रोकथाम हेतु चलाये जा रहे अभियान के तहत  थाना अमरिया पुलिस द्वारा 02 अभियुक्तगणों 1.महेश कुमार गुप्ता पुत्र ओमप्रकाश निवासी कस्बा व थाना अमरिया जनपद पीलीभीत व  2.रवि गुप्ता पुत्र महेश गुप्ता निवासी कस्बा व थाना अमरिया जनपद पीलीभीत को उनके घर के पास से गिरफ्तार किया गया तथा इनके कब्जे से मादक पदार्थ 31 किलोग्राम ( डोडा पोस्ता व डोडा चूरा ) बरामद हुआ गिरफ्तार किए गये अभियुक्तगणों से गहनता से पूछताछ के दौरान उन्होनों बरामद मादक पदार्थों को  अभियुक्त प्रमोद गुप्ता पुत्र मटरु लाल निवासी ग्राम देवचरा थाना भमौरा जनपद बरेली व अभियुक्त विनोद कुमार गुप्ता पुत्र मटरु लाल निवासी ग्राम देवचरा थाना भमौरा जनपद बरेली से खरीद कर लाना बताया इस पूछताछ के दौरान प्रकाश में आये अभियुक्त प्रमोद