Skip to main content

भारतीय आयुध कारखानों कोयला क्षेत्रों सार्वजनिक क्षेत्रों को बेचा जाता है - आईटीयूसी

भारतीय आयुध कारखानों, कोयला क्षेत्रों, सार्वजनिक क्षेत्रों को बेचा जाता है


 एआईटीयूसी मज़दूर वर्ग से लड़ने के लिए मज़बूती से लड़ती है


 


 16 मई 2020 को वित्त मंत्री के चौथे पैकेज का COVID 19 राहत कार्यों से कोई लेना-देना नहीं था, लेकिन पिछले 5 वर्षों से अधिक समय से प्राकृतिक संपत्ति को बेचने की सरकार की आक्रामक नीतियों को जारी रखना था।  डाइकोटॉमी यह है कि इस पैकेज की घोषणा करते समय जिस शब्द का उपयोग किया जाता है, वह है Nir आत्म निर्भार भारत निर्माण ’।  घोषणाएं भारतीय और विदेशी ब्रांड के पूंजीपतियों और कॉर्पोरेट्स के हित को बचाने के लिए विभिन्न उपाय थे।


 सरकार ने वाणिज्यिक खनन के माध्यम से कोयला क्षेत्र का निजीकरण करने का फैसला किया है और लगभग 50 ब्लॉकों को निजी क्षेत्रों को सौंपने का फैसला किया है।  पहले से खोजे गए कोल ब्लाकों की नीलामी के प्रावधान के खिलाफ, अब आंशिक रूप से खंगाले जाने वाले ब्लॉकों की भी नीलामी की जाएगी।  निजी क्षेत्रों को अब अन्वेषण में भाग लेने की अनुमति दी जाएगी।  कोल इंडिया लिमिटेड, कोल माइंस से कोल बेड मीथेन (CBM) निष्कर्षण अधिकार की नीलामी की जाएगी।  सरकार।  ने खनिज क्षेत्र में निजी निवेश बढ़ाने का फैसला किया है, जिसमें बॉक्साइट और कोयला खनिज ब्लॉक की संयुक्त कार्रवाई शामिल है।


 219 साल पुराने राज्य के स्वामित्व वाली भारतीय आयुध कारखानों को कॉर्पोरेट किया जाना है और इन्हें शेयर बाजार में सूचीबद्ध किया जाएगा।  स्वत: मार्ग के तहत रक्षा निर्माण क्षेत्र में एफडीआई की सीमा राष्ट्रीय सुरक्षा को कम करके 49% से बढ़ाकर 74% कर दी गई।


 पहले ही 12 हवाई अड्डों को मोदी सरकार ने अपने कॉर्पोरेट मित्रों को सौंप दिया था।  अब पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप के नाम पर निजीकरण के लिए छह और हवाई अड्डों की पहचान की गई है।


 सभी केंद्र शासित प्रदेशों के विद्युत वितरण और आपूर्ति को निजी क्षेत्र को सौंप दिया जाएगा और उन्हें सामाजिक बुनियादी ढांचे में निवेश के लिए भी प्रोत्साहित किया जाएगा।  यह व्यापक रूप से ज्ञात है कि सार्वजनिक स्वास्थ्य प्रणाली ने अपनी कमजोरियों के बावजूद इस संकट के दौरान सामने की ओर सेवा की।  यह शर्मनाक है कि सामाजिक क्षेत्र विशेष रूप से सार्वजनिक स्वास्थ्य प्रणाली को मजबूत करने के बजाय बड़े कॉर्पोरेट निजी खिलाड़ियों के लिए इसे खोलने का कोई प्रयास नहीं है।


 मोदी सरकार।  उन क्षेत्रों को सौंपने का फैसला किया है जो हमेशा से ही निजी क्षेत्रों के लिए सरकार के प्रति संवेदनशील थे।  निजी क्षेत्र को इसरो सुविधाओं का उपयोग करने की अनुमति दी जाएगी।  ग्रहों की खोज, बाहरी अंतरिक्ष यात्रा आदि के लिए भविष्य की परियोजनाएँ भी निजी क्षेत्रों के लिए खोली जानी हैं।  पीपीपी मॉडल को परमाणु क्षेत्र में भी पेश किया जाएगा।


 संक्षेप में मोदी सरकार।  लोगों की सभी राष्ट्रीय संपत्ति / संपत्ति को कॉर्पोरेट्स और पूंजीपतियों को सौंपने का फैसला किया है।  इस फैसले से हमारे देश की रक्षा, राष्ट्रीय सुरक्षा और संप्रभुता पर गंभीर खतरा मंडरा रहा है।  हमारे देश के नागरिक इस तरह के अत्याचार और निरंकुश निर्णय लेने की अनुमति नहीं दे सकते हैं, खासकर जब देश बहुत गंभीर महामारी की स्थिति में है।


 AITUC ने मोदी सरकार के देश विरोधी फैसले की निंदा की  AITUC देश के लोगों और सभी लोकतांत्रिक संगठनों से एक साथ जुड़ने और एक ओर श्रमिक अधिकारों पर हमले के अपने एजेंडे के मोदी सरकार द्वारा तानाशाही थोपों के खिलाफ लड़ने और प्राकृतिक संसाधनों की बिक्री, दूसरी तरफ सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों पर हमला करने का आह्वान करता है।  ।


 अमरजीत कौर


 महासचिव AITUC


 एम: 9810144958


 


Popular posts from this blog

*पिछड़ों अति पिछड़ों शूद्रों अछूतों तथाकथित जाति धर्म से आजादी की चाबी बाबा साहब का भारतीय संविधान-गादरे*

(हिन्दू-मुस्लिम के षड्यंत्रकारियो के जाल और कैद खाने से sc obc st minorities जंग लडो बेईमानो से मूल निवासी हो बाबा फुले और  भीमराव अम्बेडकर के सपनो को साकार करें--गादरे)* मेरठ:--बाबा ज्योति बा फुले और बाबा भीमराव अंबेडकर भारत रत्न ही नहीं विश्व रतन की जयंती पर हमें शपथ लेनी होगी की हिन्दू-मुस्लिम के षड्यंत्रकारियो के जाल और कैद खाने से sc obc st minorities जंग लडो बेईमानो से मूल निवासी हो बाबा फुले और भीमराव अम्बेडकर के सपनो को साकार करें। बहुजन मुक्ति पार्टी के आर डी गादरे ने महात्मा ज्योतिबा फुले और भारत रत्न डॉक्टर बाबा भीमराव अंबेडकर की जन्म जयंती के अवसर पर समस्त मूल निवासियों को हार्दिक शुभकामनाएं देते हुए आह्वान किया कि आज हम कुछ विदेशी षड्यंत्र कार्यों यहूदियों पूंजीपतियों अवसर वादियों फासीवादी लोगों के चंगुल से निकलने के लिए एक आजादी की लडाई लरनी होगी। आज भी आजाद होते हुए फंसे हुए हैं। डॉक्टर बाबा भीमराव अंबेडकर के लोकतंत्र और भारतीय संविधान को अपने हाथों से दुश्मन के चंगुल में परिस्थितियों को समझें। sc obc st MINORITIES खुद सर्वनाश करने पर लगे हुए हैं और आने वाली नस्लों को गु

*बहुजन मुक्ति पार्टी की राष्ट्रीय स्तर जनरल बॉडी बैठक मे बड़े स्तर पर फेरबदल प्रवेंद्र प्रताप राष्ट्रीय महासचिव आदि को 6 साल के लिए निष्कासित*

*(31 प्रदेश स्तरीय कमेटी भंग नये सिरे से 3 महिने मे होगा गठन)* नई दिल्ली:-बहुजन मुक्ति पार्टी राष्ट्रीय जनरल बॉडी की मीटिंग गड़वाल भवन पंचकुइया रोड़ नई दिल्ली में संपन्न हुई।  बहुजन मुक्ति पार्टी मीटिंग की अध्यक्षता  मा०वी०एल० मातंग साहब राष्ट्रीय अध्यक्ष बहुजन मुक्ति  पार्टी ने की और संचालन राष्ट्रीय महासचिव माननीय बालासाहेब पाटिल ने किया।  बहुजन मुक्ति पार्टी की जनरल ढांचे की बुलाई मीटिंग में पुरानी बॉडी में फेर बदल किया गया। मा वी एल मातंग ने स्वयं एलान किया की खुद स्वेच्छा से बहुजन मुक्ति पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे रहे हैं राजनीती से सन्यास और राष्ट्रीय स्तर पर बामसेफ प्रचारक का कार्य करते रहेंगे। राष्ट्रीय स्तर की जर्नल बॉडी की बैठक मे सर्व सम्मत्ती से राष्ट्रीय अध्यक्ष के पद पर पूर्व कार्यकारी अध्यक्ष जे एस कश्यप को राष्ट्रीय अध्यक्ष के पद पर चुना गया। राष्ट्रीय उपाध्यक्ष के लिए मा वैकटेस लांमबाड़ा, मा हिरजीभाई सम्राट, डी राम देसाई, राष्ट्रीय महासचिव के पद पर मा बालासाहब मिसाल पाटिल, मा डॉ एस अकमल, माननीय एडवोकेट आयुष्मति सुमिता पाटिल, माननीय एडवोकेट नरेश कुमार,

थाना अमरिया पुलिस द्वारा 04 अभियुक्तों को 68 किलोग्राम डोडा पोस्ता व डोडा चूरा सहित किया गिरफ्तार

 पीलीभीत के थाना अमरिया में आज दिनांक 05.09.2022 को थाना अमरिया जनपद पीलीभीत पुलिस द्वारा पुलिस अधीक्षक दिनेश कुमार प्रभु जनपद पीलीभीत के निर्देशन में व  अपर पुलिस अधीक्षक महोदय जनपद पीलीभीत व क्षेत्राधिकारी सदर महोदय जनपद पीलीभीत के कुशल नेतृत्व में अपराधियों के विरुद्ध जनपद में मादक पदार्थ व जहरीली शराब की तस्करी व रोकथाम हेतु चलाये जा रहे अभियान के तहत  थाना अमरिया पुलिस द्वारा 02 अभियुक्तगणों 1.महेश कुमार गुप्ता पुत्र ओमप्रकाश निवासी कस्बा व थाना अमरिया जनपद पीलीभीत व  2.रवि गुप्ता पुत्र महेश गुप्ता निवासी कस्बा व थाना अमरिया जनपद पीलीभीत को उनके घर के पास से गिरफ्तार किया गया तथा इनके कब्जे से मादक पदार्थ 31 किलोग्राम ( डोडा पोस्ता व डोडा चूरा ) बरामद हुआ गिरफ्तार किए गये अभियुक्तगणों से गहनता से पूछताछ के दौरान उन्होनों बरामद मादक पदार्थों को  अभियुक्त प्रमोद गुप्ता पुत्र मटरु लाल निवासी ग्राम देवचरा थाना भमौरा जनपद बरेली व अभियुक्त विनोद कुमार गुप्ता पुत्र मटरु लाल निवासी ग्राम देवचरा थाना भमौरा जनपद बरेली से खरीद कर लाना बताया इस पूछताछ के दौरान प्रकाश में आये अभियुक्त प्रमोद