Skip to main content

मित्रता के रिश्ते को शर्मसार कर अपने ही मित्र की हत्या करने वाले 02 अभियुक्तों को थाना बीसलपुर पुलिस ने किया गिरफ्तार।

पीलीभीत के थाना बीसलपुर
दिनांक 12.09.2022 को थाना दियोरिया कला क्षेत्रान्तर्गत खन्नौद नदी में एक शव ग्राम चौकीदार की सूचना पर बरामद हुआ जिसकी पहचान हिमांशु गंगवार पुत्र हरप्रसाद गंगवार निवासी ग्राम नगीपुर भडरिया थाना बीसलपुर जनपद पीलीभीत के रुप में मृतक के पिता हरप्रसाद द्वारा की गयी, मृतक हिमांशू दिनांक 11.09.22 से गुमशुदा था जिसके सम्बन्ध मे थाना बीसलपुर पर मु0अ0सं0 558/2022 धारा 363 भादवि बनाम अज्ञात पंजीकृत किया गया था। विवेचना के क्रम में अभियुक्त  1. विकास पुत्र सत्यपाल 2.विजय पुत्र हरिशरण निवासीगण ग्राम अहरौला थाना भुता जनपद बरेली के नाम प्रकाश में आये, घटना के सफल अनवारण हेतु पुलिस अधीक्षक पीलीभीत द्वारा 03 टीमें गठित गयी जिसके फलस्वरूप टीमों द्वारा प्रभावी व त्वरित कार्यवाही करते हुये अभियुक्तगण 1.विकास, 2.विजय उपरोक्त को रम्पुरा रोड से गिरफ्तार कर घटना का सफल अनावरण किया गया
घटना का संक्षिप्त विवरण


पूछताछ के दौरान अभियुक्तगण विकास व विजय उपरोक्त ने एकमत होकर बताया कि मैं और विजय एक ही गांव के है आपस में दोस्त है, ग्राम नगीपुर भडरिया का हिमांशु भी हमारा दोस्त था हम सभी लोग सरस्वती विद्या मन्दिर में पिछले कई साल से पढते हैं, विजय ने कई साल पहले सरस्वती स्कूल छोड दिया था दोस्त होने के नाते हमारा विजय के कमरे पर और उसके फूफा के यहाँ भी आना जाना था वह सब लोग भी हम दोनों को जानते व पहचानते हैं। लगभग 03 महीने पहले मैनें हिमांशु से 20 हजार रुपये उधार लिये थे जो मुझसे खर्च हो गये। हिमांशु मुझ पर बार-बार पैसे वापस करने का दबाव बना रहा था लेकिन मै पैसे का इन्तेजाम नहीं कर पा रहा था। विजय मेरा पक्का दोस्त है मैनें अपनी समस्या विजय को बतायी और हम दोनो ने हिमांशु से छुटकारा पाने के लिए उसे रास्ते से हटाने का प्लान कुछ दिन पहले ही बनाया था। दिनांक 11.09.2022 को रविवार के दिन दोपहर के समय पूर्व योजना के मुताबिक मैं और विजय अपने गांव से अपनी मो0सा0  UP25DM2713 हीरो स्पलेण्डर प्लस रंग काला से चले । मैने अपने मोबाईल नम्बर 8057654489 से हिमांशु के मोबाईल न0- 9815426815 पर फोन करके उसे बहाने से बीसलपुर बुलवाया और हम तीनो मेरी मो0सा0 से पूरनपुर घूमने जाने का बहाना बनाकर हिमांशु को दियोरिया कलां वन विभाग के जंगल में खन्नौद नदी के पुल पर ले गये वहाँ से नदी में मगरमच्छ दिखाने का बहाना बनाकर पुल से नीचे जंगल में ले गये और बातो ही बातों में विजय ने अपने गले में पडे काले रंग के गमछे से हिमांशु का मुँह लपेटकर उसे गला घोटकर मारने का प्रयास किया लेकिन हिमांशु चिल्लाने लगा तो हम दोनों ने मिलकर उसे एकदम नदी में पानी में खीच लिया, विजय ने उसके दोनो पैर पकड लिये और मैने उसकी गर्दन पकडकर पानी में डूबो दिया थोडी ही देर में हिमांशु का शरीर ढीला पड गया। इस प्रकार हम दोनों ने मिलकर पानी में डूबो-डूबो कर हिमांशु की हत्या कर दी

बरामदगी का विवरण
एक काले रंग की हीरो स्पलेण्डर प्लस मोटरसाइकिल नम्बर UP 25DM 2713  व एक काले रंग का गमछा व एक जोडी हवाई चप्पल
गिरफ्तार करने वाली पुलिस टीम
1.प्रभारी निरीक्षक प्रवीण कुमार 
2.निरीक्षक अपराध  अरुण कुमार 
3.उ0नि0 श्री नवीन कुमार 
4.का0 कपिल भाटी  
5.का0 आकाश कुमार
हम करेंगे समाधान पीलीभीत ब्यूरो चीफ आमिर मलिक की रिपोर्ट

Popular posts from this blog

*पिछड़ों अति पिछड़ों शूद्रों अछूतों तथाकथित जाति धर्म से आजादी की चाबी बाबा साहब का भारतीय संविधान-गादरे*

(हिन्दू-मुस्लिम के षड्यंत्रकारियो के जाल और कैद खाने से sc obc st minorities जंग लडो बेईमानो से मूल निवासी हो बाबा फुले और  भीमराव अम्बेडकर के सपनो को साकार करें--गादरे)* मेरठ:--बाबा ज्योति बा फुले और बाबा भीमराव अंबेडकर भारत रत्न ही नहीं विश्व रतन की जयंती पर हमें शपथ लेनी होगी की हिन्दू-मुस्लिम के षड्यंत्रकारियो के जाल और कैद खाने से sc obc st minorities जंग लडो बेईमानो से मूल निवासी हो बाबा फुले और भीमराव अम्बेडकर के सपनो को साकार करें। बहुजन मुक्ति पार्टी के आर डी गादरे ने महात्मा ज्योतिबा फुले और भारत रत्न डॉक्टर बाबा भीमराव अंबेडकर की जन्म जयंती के अवसर पर समस्त मूल निवासियों को हार्दिक शुभकामनाएं देते हुए आह्वान किया कि आज हम कुछ विदेशी षड्यंत्र कार्यों यहूदियों पूंजीपतियों अवसर वादियों फासीवादी लोगों के चंगुल से निकलने के लिए एक आजादी की लडाई लरनी होगी। आज भी आजाद होते हुए फंसे हुए हैं। डॉक्टर बाबा भीमराव अंबेडकर के लोकतंत्र और भारतीय संविधान को अपने हाथों से दुश्मन के चंगुल में परिस्थितियों को समझें। sc obc st MINORITIES खुद सर्वनाश करने पर लगे हुए हैं और आने वाली नस्लों को गु

*बहुजन मुक्ति पार्टी की राष्ट्रीय स्तर जनरल बॉडी बैठक मे बड़े स्तर पर फेरबदल प्रवेंद्र प्रताप राष्ट्रीय महासचिव आदि को 6 साल के लिए निष्कासित*

*(31 प्रदेश स्तरीय कमेटी भंग नये सिरे से 3 महिने मे होगा गठन)* नई दिल्ली:-बहुजन मुक्ति पार्टी राष्ट्रीय जनरल बॉडी की मीटिंग गड़वाल भवन पंचकुइया रोड़ नई दिल्ली में संपन्न हुई।  बहुजन मुक्ति पार्टी मीटिंग की अध्यक्षता  मा०वी०एल० मातंग साहब राष्ट्रीय अध्यक्ष बहुजन मुक्ति  पार्टी ने की और संचालन राष्ट्रीय महासचिव माननीय बालासाहेब पाटिल ने किया।  बहुजन मुक्ति पार्टी की जनरल ढांचे की बुलाई मीटिंग में पुरानी बॉडी में फेर बदल किया गया। मा वी एल मातंग ने स्वयं एलान किया की खुद स्वेच्छा से बहुजन मुक्ति पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे रहे हैं राजनीती से सन्यास और राष्ट्रीय स्तर पर बामसेफ प्रचारक का कार्य करते रहेंगे। राष्ट्रीय स्तर की जर्नल बॉडी की बैठक मे सर्व सम्मत्ती से राष्ट्रीय अध्यक्ष के पद पर पूर्व कार्यकारी अध्यक्ष जे एस कश्यप को राष्ट्रीय अध्यक्ष के पद पर चुना गया। राष्ट्रीय उपाध्यक्ष के लिए मा वैकटेस लांमबाड़ा, मा हिरजीभाई सम्राट, डी राम देसाई, राष्ट्रीय महासचिव के पद पर मा बालासाहब मिसाल पाटिल, मा डॉ एस अकमल, माननीय एडवोकेट आयुष्मति सुमिता पाटिल, माननीय एडवोकेट नरेश कुमार,

सरधना विधानसभा से ए आई एम आई एम के भावी प्रत्याशी हाजी आस मौहम्मद ने किया बड़ा ऐलान अब मुसलमान अपमानित नहीं होगा क्योंकि आ गई है उनकी पार्टी

खलील शाह/ साबिर सलमानी की रिपोर्ट  ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन की नेशनल पब्लिक स्कूल लश्कर गंज बाजार सरधना में आयोजित बैठक में भावी प्रत्याशी हाजी आस मौहम्मद ने कहा कि ए आई एम आई एम पार्टी सरधना विधानसभा क्षेत्र में शोषित,वंचित और मुसलमानों को उनके अधिकार दिलाने के लिए आई है। आज भी सरधना विधानसभा क्षेत्र पिछड़ा हुआ है। राष्ट्रीय अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी साहब ने उत्तर प्रदेश के शोषित और वंचित समाज को इंसाफ दिलाने का बीड़ा उठाया है। ए आई एम आई एम पार्टी ने मुसलमानों को दरी बिछाने वाला से टिकट बांटने वाला बनाने का बीड़ा उठाया है। जिस प्रकार आज सपा के मंचों पर मुसलमानों को अपमानित किया जा रहा है उसका बदला ए आई एम आई एम को वोट देकर सत्ता में हिस्सेदारी लेकर लेना होगा। हाजी आस मोहम्मद ने कहा कि उनके भाई हाजी अमीरुद्दीन ने तमाम उम्र समाजवादी पार्टी को आगे बढ़ाने में गुजार दी और जब किसी बीमारी की वजह से उनका इंतकाल हुआ तो समाजवादी पार्टी का कोई नुमाइंदा भी उनके परिवार की खबर गिरी करने नहीं आया । आजादी से लेकर आज तक मुस्लिम समाज सेकुलर दलों को अपना वोट देता आ रहा है लेकिन उसके बदले मे