Skip to main content

सपा पार्षदों ने नगर निगम अधिकारियों पर केवल बजट पास कराने और जनहित के विकास कार्य न कराने का आरोप लगाकर पुनरीक्षण बजट बैठक का किया बहिष्कार|

 सपा पार्षदों ने नगर निगम अधिकारियों पर केवल बजट पास कराने और जनहित के विकास कार्य न कराने का आरोप लगाकर पुनरीक्षण बजट बैठक का किया बहिष्कार|

बरेली से मुस्तकीम मंसूरी की रिपोर्ट, 

नगर निगम कार्यकारिणी बैठक का बहिष्कार कर सपा पार्षदों ने दिया जनहित के मुद्दों पर धरना, 

मुख्यमंत्री जी के ड्रीम प्रोजेक्ट गड्ढा मुक्त अभियान का नगर  निगम द्वारा हवा निकालने का लगाया आरोप, 

बरेली दिनांक 3 दिसंबर 2022 नगर निगम बरेली में आयोजित कार्यकारिणी बैठक में पुनरीक्षित बजट पास किया जाना था बैठक शुरू होते ही सपा के कार्यकारिणी सदस्य पार्षद गौरव सक्सेना, शमीम अहमद और अकील गुड्डू ने बैठक का बहिष्कार कर महापौर कार्यालय के बाहर धरना प्रदर्शन कर नारेबाजी की महापौर कार्यालय में जब तक पुनरीक्षित बजट की बैठक चलती रही तब तक सपा पार्षद हाथों में नगर निगम प्रशासन के विरोध में तख्तियां लेकर महापौर कार्यालय के बाहर उसके गेट पर नारेबाजी करते हुए धरना देते रहे सपा के कार्यकारिणी सदस्यों के साथ सपा के अन्य पार्षद सलीम पटवारी, रईस मियां अब्बासी, आरिफ कुरैशी, नरेश पटेल, इकबाल अंसारी, मोहम्मद यूसुफ, कय्या, सलीम भी धरने पर बैठ गए जबकि अंदर बैठक में महापौर सहित भाजपा पार्षदों ने अधिकारियों के साथ बैठक कर बजट पास कर लिया जिसके बाद महापौर एवं नगर आयुक्त व नगर निगम के अन्य वरिष्ठ अधिकारी धरना दे रहे पार्षदों की समस्या सुने बिना ही वहां से चले गए


जिसपर सपा पार्षद गौरव सक्सेना ने आरोप लगाया नगर निगम के अधिकारी मनमानी पर उतारू है केवल कागजों में बजट पास कराना चाहते हैं जबकि धरातल पर कोई विकास कार्य नहीं किया जा रहा है पिछले लगभग 2 वर्ष से नगर निगम फंड की कमी के कारण वार्डो के अंदर पुलिया तक बनाने की स्थिति में नहीं है लगभग 200 निर्माण कार्यों की फाइलें लटकी पड़ी है या तो उनके टेंडर नहीं हो रहे अथवा ठेकेदार कार्य नहीं कर रहे अगर कहीं कार्य शुरू कर दिए गए हैं वहां लगभग 6 माह से सड़कें उखड़ी पड़ी है कार्य पूरा नहीं किया है जनता पार्षदों से सवाल करती है इसलिए जनता के मुद्दे पर धरना प्रदर्शन ही विकल्प है उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री जी द्वारा पूरे उत्तर प्रदेश में गड्ढा मुक्ति अभियान चलाया जा रहा है जिसकी अंतिम समय सीमा 15 नवंबर से बढ़ाकर 30 नवंबर शासन द्वारा निर्धारित की गई थी लेकिन नगर निगम के अधिकारियों द्वारा मुख्यमंत्री जी के गड्ढा मुक्ति अभियान की भी हवा निकाल दी गई आज समय सीमा निकलने के बाद भी नगर निगम क्षेत्र में गड्ढा मुक्त अभियान नहीं चलाया गया किसके नाम पर केवल फाइलें बनाकर टेंडर निकाल दिए गए जोकि समय निकलने के बाद भी टेंडर खुल नहीं सके हैं इसका जिम्मेदार कौन है? 7 नवंबर को माननीय मुख्यमंत्री जी बरेली में स्मार्ट सिटी के विकास कार्यों का लोकार्पण एवं शिलान्यास करने आ रहे हैं जबकि स्मार्ट सिटी के नाम पर जनता के धन का दुरुपयोग किया जा रहा है अच्छी खासी सड़क पर सड़क डालकर भ्रष्टाचार हो रहा है जबकि स्मार्ट सिटी के अतिरिक्त अन्य वार्डों में सड़के उखड़ी पड़ी हैं लगातार दुर्घटनाएं हो रही हैं मुख्यमंत्री जी किसी भी एक वार्ड का उस दिन औचक निरीक्षण कर ले चाहे वह सपा पार्षद का हो या भाजपा पार्षद का सच्चाई सामने आ जाएगी सभी जगह विकास दम तोड़ रहा है सड़कों में गड्ढे नहीं गड्ढों में सड़के हो गए हैं और नगर निगम अधिकारी गहरी नींद में सोए हुए हैं पिछली बैठक में भाजपा के पार्षदों ने भी अपनी सरकार में अधिकारियों के खिलाफ 5 तारीख से धरने की घोषणा की लेकिन आज उन्हीं अधिकारियों के कहने पर भाजपा पार्षदों ने कागजों में बजट पास कर दिया जबकि उन्हें अपनी बात पर कायम रहते हुए जब कोई विकास कार्य नगर निगम द्वारा नहीं कराया जा रहा तो धरने पर बैठना चाहिए एवं विपक्ष के समान धरना प्रदर्शन करना चाहिए।

सपा पार्षद कार्यकारिणी सदस्य शमीम अहमद और अकील गुड्ड ने कहा कि भाजपा के शासनकाल में नगर निगम के अधिकारी निगम में फंड की कमी बताकर पिछले काफी समय से रुके हुए कार्यों को कराने के लिए आश्वासन देते रहे लेकिन कोई भी कार्य नहीं कराया गया चुनाव की घोषणा कभी भी हो सकती है फंड की कमी के कारण जमीनी स्तर पर जनता के विकास कार्य जमीनी स्तर पर ना होने के लिए भाजपा के जनप्रतिनिधि जिम्मेदार हैं जिनसे जनता चुनाव में सवाल पूछेगी।

महापौर कार्यालय में जब तक कार्यकारिणी की बैठक चलती रही तब तक सपा पार्षद धरना देते रहे अंत में बैठक समाप्त होने के बाद आगे भी विरोध प्रदर्शन की बात कहकर उन्होंने धरना समाप्त किया।

Popular posts from this blog

थाना अमरिया पुलिस द्वारा 04 अभियुक्तों को 68 किलोग्राम डोडा पोस्ता व डोडा चूरा सहित किया गिरफ्तार

 पीलीभीत के थाना अमरिया में आज दिनांक 05.09.2022 को थाना अमरिया जनपद पीलीभीत पुलिस द्वारा पुलिस अधीक्षक दिनेश कुमार प्रभु जनपद पीलीभीत के निर्देशन में व  अपर पुलिस अधीक्षक महोदय जनपद पीलीभीत व क्षेत्राधिकारी सदर महोदय जनपद पीलीभीत के कुशल नेतृत्व में अपराधियों के विरुद्ध जनपद में मादक पदार्थ व जहरीली शराब की तस्करी व रोकथाम हेतु चलाये जा रहे अभियान के तहत  थाना अमरिया पुलिस द्वारा 02 अभियुक्तगणों 1.महेश कुमार गुप्ता पुत्र ओमप्रकाश निवासी कस्बा व थाना अमरिया जनपद पीलीभीत व  2.रवि गुप्ता पुत्र महेश गुप्ता निवासी कस्बा व थाना अमरिया जनपद पीलीभीत को उनके घर के पास से गिरफ्तार किया गया तथा इनके कब्जे से मादक पदार्थ 31 किलोग्राम ( डोडा पोस्ता व डोडा चूरा ) बरामद हुआ गिरफ्तार किए गये अभियुक्तगणों से गहनता से पूछताछ के दौरान उन्होनों बरामद मादक पदार्थों को  अभियुक्त प्रमोद गुप्ता पुत्र मटरु लाल निवासी ग्राम देवचरा थाना भमौरा जनपद बरेली व अभियुक्त विनोद कुमार गुप्ता पुत्र मटरु लाल निवासी ग्राम देवचरा थाना भमौरा जनपद बरेली से खरीद कर लाना बताया इस पूछताछ के दौरान प्रकाश में आये अभियुक्त प्रमोद

*बहुजन मुक्ति पार्टी की राष्ट्रीय स्तर जनरल बॉडी बैठक मे बड़े स्तर पर फेरबदल प्रवेंद्र प्रताप राष्ट्रीय महासचिव आदि को 6 साल के लिए निष्कासित*

*(31 प्रदेश स्तरीय कमेटी भंग नये सिरे से 3 महिने मे होगा गठन)* नई दिल्ली:-बहुजन मुक्ति पार्टी राष्ट्रीय जनरल बॉडी की मीटिंग गड़वाल भवन पंचकुइया रोड़ नई दिल्ली में संपन्न हुई।  बहुजन मुक्ति पार्टी मीटिंग की अध्यक्षता  मा०वी०एल० मातंग साहब राष्ट्रीय अध्यक्ष बहुजन मुक्ति  पार्टी ने की और संचालन राष्ट्रीय महासचिव माननीय बालासाहेब पाटिल ने किया।  बहुजन मुक्ति पार्टी की जनरल ढांचे की बुलाई मीटिंग में पुरानी बॉडी में फेर बदल किया गया। मा वी एल मातंग ने स्वयं एलान किया की खुद स्वेच्छा से बहुजन मुक्ति पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे रहे हैं राजनीती से सन्यास और राष्ट्रीय स्तर पर बामसेफ प्रचारक का कार्य करते रहेंगे। राष्ट्रीय स्तर की जर्नल बॉडी की बैठक मे सर्व सम्मत्ती से राष्ट्रीय अध्यक्ष के पद पर पूर्व कार्यकारी अध्यक्ष जे एस कश्यप को राष्ट्रीय अध्यक्ष के पद पर चुना गया। राष्ट्रीय उपाध्यक्ष के लिए मा वैकटेस लांमबाड़ा, मा हिरजीभाई सम्राट, डी राम देसाई, राष्ट्रीय महासचिव के पद पर मा बालासाहब मिसाल पाटिल, मा डॉ एस अकमल, माननीय एडवोकेट आयुष्मति सुमिता पाटिल, माननीय एडवोकेट नरेश कुमार,

*पिछड़ों अति पिछड़ों शूद्रों अछूतों तथाकथित जाति धर्म से आजादी की चाबी बाबा साहब का भारतीय संविधान-गादरे*

(हिन्दू-मुस्लिम के षड्यंत्रकारियो के जाल और कैद खाने से sc obc st minorities जंग लडो बेईमानो से मूल निवासी हो बाबा फुले और  भीमराव अम्बेडकर के सपनो को साकार करें--गादरे)* मेरठ:--बाबा ज्योति बा फुले और बाबा भीमराव अंबेडकर भारत रत्न ही नहीं विश्व रतन की जयंती पर हमें शपथ लेनी होगी की हिन्दू-मुस्लिम के षड्यंत्रकारियो के जाल और कैद खाने से sc obc st minorities जंग लडो बेईमानो से मूल निवासी हो बाबा फुले और भीमराव अम्बेडकर के सपनो को साकार करें। बहुजन मुक्ति पार्टी के आर डी गादरे ने महात्मा ज्योतिबा फुले और भारत रत्न डॉक्टर बाबा भीमराव अंबेडकर की जन्म जयंती के अवसर पर समस्त मूल निवासियों को हार्दिक शुभकामनाएं देते हुए आह्वान किया कि आज हम कुछ विदेशी षड्यंत्र कार्यों यहूदियों पूंजीपतियों अवसर वादियों फासीवादी लोगों के चंगुल से निकलने के लिए एक आजादी की लडाई लरनी होगी। आज भी आजाद होते हुए फंसे हुए हैं। डॉक्टर बाबा भीमराव अंबेडकर के लोकतंत्र और भारतीय संविधान को अपने हाथों से दुश्मन के चंगुल में परिस्थितियों को समझें। sc obc st MINORITIES खुद सर्वनाश करने पर लगे हुए हैं और आने वाली नस्लों को गु