Skip to main content

सपा पार्षदों ने नगर निगम अधिकारियों पर केवल बजट पास कराने और जनहित के विकास कार्य न कराने का आरोप लगाकर पुनरीक्षण बजट बैठक का किया बहिष्कार|

 सपा पार्षदों ने नगर निगम अधिकारियों पर केवल बजट पास कराने और जनहित के विकास कार्य न कराने का आरोप लगाकर पुनरीक्षण बजट बैठक का किया बहिष्कार|

बरेली से मुस्तकीम मंसूरी की रिपोर्ट, 

नगर निगम कार्यकारिणी बैठक का बहिष्कार कर सपा पार्षदों ने दिया जनहित के मुद्दों पर धरना, 

मुख्यमंत्री जी के ड्रीम प्रोजेक्ट गड्ढा मुक्त अभियान का नगर  निगम द्वारा हवा निकालने का लगाया आरोप, 

बरेली दिनांक 3 दिसंबर 2022 नगर निगम बरेली में आयोजित कार्यकारिणी बैठक में पुनरीक्षित बजट पास किया जाना था बैठक शुरू होते ही सपा के कार्यकारिणी सदस्य पार्षद गौरव सक्सेना, शमीम अहमद और अकील गुड्डू ने बैठक का बहिष्कार कर महापौर कार्यालय के बाहर धरना प्रदर्शन कर नारेबाजी की महापौर कार्यालय में जब तक पुनरीक्षित बजट की बैठक चलती रही तब तक सपा पार्षद हाथों में नगर निगम प्रशासन के विरोध में तख्तियां लेकर महापौर कार्यालय के बाहर उसके गेट पर नारेबाजी करते हुए धरना देते रहे सपा के कार्यकारिणी सदस्यों के साथ सपा के अन्य पार्षद सलीम पटवारी, रईस मियां अब्बासी, आरिफ कुरैशी, नरेश पटेल, इकबाल अंसारी, मोहम्मद यूसुफ, कय्या, सलीम भी धरने पर बैठ गए जबकि अंदर बैठक में महापौर सहित भाजपा पार्षदों ने अधिकारियों के साथ बैठक कर बजट पास कर लिया जिसके बाद महापौर एवं नगर आयुक्त व नगर निगम के अन्य वरिष्ठ अधिकारी धरना दे रहे पार्षदों की समस्या सुने बिना ही वहां से चले गए


जिसपर सपा पार्षद गौरव सक्सेना ने आरोप लगाया नगर निगम के अधिकारी मनमानी पर उतारू है केवल कागजों में बजट पास कराना चाहते हैं जबकि धरातल पर कोई विकास कार्य नहीं किया जा रहा है पिछले लगभग 2 वर्ष से नगर निगम फंड की कमी के कारण वार्डो के अंदर पुलिया तक बनाने की स्थिति में नहीं है लगभग 200 निर्माण कार्यों की फाइलें लटकी पड़ी है या तो उनके टेंडर नहीं हो रहे अथवा ठेकेदार कार्य नहीं कर रहे अगर कहीं कार्य शुरू कर दिए गए हैं वहां लगभग 6 माह से सड़कें उखड़ी पड़ी है कार्य पूरा नहीं किया है जनता पार्षदों से सवाल करती है इसलिए जनता के मुद्दे पर धरना प्रदर्शन ही विकल्प है उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री जी द्वारा पूरे उत्तर प्रदेश में गड्ढा मुक्ति अभियान चलाया जा रहा है जिसकी अंतिम समय सीमा 15 नवंबर से बढ़ाकर 30 नवंबर शासन द्वारा निर्धारित की गई थी लेकिन नगर निगम के अधिकारियों द्वारा मुख्यमंत्री जी के गड्ढा मुक्ति अभियान की भी हवा निकाल दी गई आज समय सीमा निकलने के बाद भी नगर निगम क्षेत्र में गड्ढा मुक्त अभियान नहीं चलाया गया किसके नाम पर केवल फाइलें बनाकर टेंडर निकाल दिए गए जोकि समय निकलने के बाद भी टेंडर खुल नहीं सके हैं इसका जिम्मेदार कौन है? 7 नवंबर को माननीय मुख्यमंत्री जी बरेली में स्मार्ट सिटी के विकास कार्यों का लोकार्पण एवं शिलान्यास करने आ रहे हैं जबकि स्मार्ट सिटी के नाम पर जनता के धन का दुरुपयोग किया जा रहा है अच्छी खासी सड़क पर सड़क डालकर भ्रष्टाचार हो रहा है जबकि स्मार्ट सिटी के अतिरिक्त अन्य वार्डों में सड़के उखड़ी पड़ी हैं लगातार दुर्घटनाएं हो रही हैं मुख्यमंत्री जी किसी भी एक वार्ड का उस दिन औचक निरीक्षण कर ले चाहे वह सपा पार्षद का हो या भाजपा पार्षद का सच्चाई सामने आ जाएगी सभी जगह विकास दम तोड़ रहा है सड़कों में गड्ढे नहीं गड्ढों में सड़के हो गए हैं और नगर निगम अधिकारी गहरी नींद में सोए हुए हैं पिछली बैठक में भाजपा के पार्षदों ने भी अपनी सरकार में अधिकारियों के खिलाफ 5 तारीख से धरने की घोषणा की लेकिन आज उन्हीं अधिकारियों के कहने पर भाजपा पार्षदों ने कागजों में बजट पास कर दिया जबकि उन्हें अपनी बात पर कायम रहते हुए जब कोई विकास कार्य नगर निगम द्वारा नहीं कराया जा रहा तो धरने पर बैठना चाहिए एवं विपक्ष के समान धरना प्रदर्शन करना चाहिए।

सपा पार्षद कार्यकारिणी सदस्य शमीम अहमद और अकील गुड्ड ने कहा कि भाजपा के शासनकाल में नगर निगम के अधिकारी निगम में फंड की कमी बताकर पिछले काफी समय से रुके हुए कार्यों को कराने के लिए आश्वासन देते रहे लेकिन कोई भी कार्य नहीं कराया गया चुनाव की घोषणा कभी भी हो सकती है फंड की कमी के कारण जमीनी स्तर पर जनता के विकास कार्य जमीनी स्तर पर ना होने के लिए भाजपा के जनप्रतिनिधि जिम्मेदार हैं जिनसे जनता चुनाव में सवाल पूछेगी।

महापौर कार्यालय में जब तक कार्यकारिणी की बैठक चलती रही तब तक सपा पार्षद धरना देते रहे अंत में बैठक समाप्त होने के बाद आगे भी विरोध प्रदर्शन की बात कहकर उन्होंने धरना समाप्त किया।

Popular posts from this blog

ग्राम कुलिंजन स्थित ईद गाह पर ईद के नमाज़ अदा की गई

  आज ईद उल फ़ितर के मौके पर ग्राम कुलिंजन स्थित ईद गाह पर ईद के नमाज़ अदा की गई,इस मौके पर क़ारी मेहताब खाँन साहब ने ईद के   पवित्र त्यौहार पर प्रकाश डाला व देश के अमन ओ अमान और एक दूसरे के साथ प्यार बाँटने का संदेश देते हुए,सभी को ईद की मुबारकबाद दी, ईद के नमाज़ क़ारी, रहीम साहब, पेश इमाम जामा मस्जिद कुलिंजन ने पढ़वाई व इस के साथ ही ख़सूसी दुआ करवाई, जय हिंद सोशल वेलफ़ेयर सोसायटी के अध्यक्ष मुशाम खाँन ने आये हुए  सभी नमाज़ियों की ईद की मुबारकबाद पेश की इस मौके पर मास्टर मईन उद्दीन खाँन, हाजी अरशद खाँन ,हाजी एहतेशाम,हाजी अतहर व हाजी अज़हर,हाफिज़ असग़र, सभी का इस्तकबाल करा।

कस्बा करनावल के नवनिर्वाचित चेयरमैन लोकेंद्र सिंह का किया गया सम्मान

सरधना में बाल रोग विशेषज्ञ डॉ महेश सोम के यहाँ हुआ अभिनन्दन समारोह  सरधना (मेरठ) सरधना में लश्कर गंज स्थित बाल रोग विशेषज्ञ डॉक्टर महेश सोम के नर्सिंग होम पर रविवार को कस्बा करनावल के नवनिर्वाचित चेयरमैन लोकेंद्र सिंह के सम्मान समारोह का आयोजन किया गया। लोकेन्द्र सिंह के वह पहुँचते ही फूल मालाओं से जोरदार स्वागत किया गया। जिसके बाद पगड़ी व पटका  पहनाकर अभिनंदन किया गया। इस अवसर पर क़स्बा कर्णवाल के चेयरमैन लोकेंद्र सिंह ने कहा कि पिछले चार दसक से दो परिवारों के बीच ही चैयरमेनी चली आरही थी इस बार जिस उम्मीद के साथ कस्बा करनावल के लोगों ने उन्हें नगर की जिम्मेदारी सौंपी है उस पर वह पूरी इमानदारी के साथ खरा उतरने का प्रयास करेंगे। निष्पक्ष तरीके से पूरी ईमानदारी के साथ नगर का विकास करने में  कोई कसर बाकी नहीं छोड़ी जाएगी।   बाल रोग विशेषज्ञ डॉ महेश सोम,की अध्यक्षता में चले कार्यक्रम का संचालन शिक्षक दीपक शर्मा ने किया। इस दौरान एडवोकेट बांके पवार, पश्चिम उत्तर प्रदेश संयुक्त व्यापार मंडल के नगर अध्यक्ष वीरेंद्र चौधरी, एडवोकेट मलखान सैनी, भाजपा नगर मंडल प्रभारी राजीव जैन, सभासद संजय सोनी,

ज़मीनी विवाद में पत्रकार पर 10 लाख रंगदारी का झूठे मुकदमें के विरुद्ध एस एस पी से लगाई जाचं की गुहार

हम करेंगे समाधान" के लिए बरेली से रफी मंसूरी की रिपोर्ट बरेली :- यह कोई नया मामला नहीं है पत्रकारों पर आरोप लगना एक परपंरा सी बन चुकी है कभी राजनैतिक दबाव या पत्रकारों की आपस की खटास के चलते इस तरह के फर्जी मुकदमों मे पत्रकार दागदार और भेंट चढ़ते रहें हैं।  ताजा मामला   बरेली के  किला क्षेत्र के रहने वाले सलमान खान पत्रकार का है जो विभिन्न समाचार पत्रों से जुड़े हैं उन पर रंगदारी मांगने का मुक़दमा दर्ज कर दिया गया है। इस तरह के बिना जाचं करें फर्जी मुकदमों से तो साफ ज़ाहिर हो रहा है कि चौथा स्तंभ कहें जाने वाले पत्रकारों का वजूद बेबुनियाद और सिर्फ नाम का रह गया है यही वजह है भूमाफियाओं से अपनी ज़मीन बचाने के लिए एक पत्रकार व दो अन्य प्लाटों के मालिकों को दबाव में लेने के लिए फर्जी रगंदारी के मुकदमे मे फसांकर ज़मीन हड़पने का मामला बरेली के थाना बारादरी से सामने आया हैं बताते चले कि बरेली के  किला क्षेत्र के रहने वाले सलमान खान के मुताबिक उनका एक प्लाट थाना बारादरी क्षेत्र के रोहली टोला मे हैं उन्हीं के प्लाट के बराबर इमरान व नयाब खां उर्फ निम्मा का भी प्लाट हैं इसी प्लाट के बिल्कुल सामन